Link copied!
Sign in / Sign up
2
Shares

विटामिन ए से एक नहीं अनेक हैं फायदे—जानिये विटामिन ए के स्वास्थ्य लाभों के बारे में (Health Benefits Of Vitamin A: Why Is It So Important For You? In Hindi)

हमारे शरीर के लिये विटामिन ए भी उतना महत्वपूर्ण है जितना कि अन्य विटामिन, क्योंकि विटामिन ए हमारे शरीर को सक्रिय रखने के लिए बहुत आवश्यक है। क्योंकि विटामिन ए में जरुरी मिनरल, और पोषक तत्व होते हैं जो कि शरीर के अच्छे विकास के लिये बहुत जरुरी है। आइये जानते हैं विटामिन ए किस तरह से हमारे शरीर के आवश्यक है।

लेख की विषय-सूची

‣ विटामिन ए क्या है? (What Is Vitamin A in Hindi?)

‣ विटामिन ए की कमी के लक्षण हैं (Vitamin A Deficiency Symptoms in Hindi)

‣ विटामिन ए की कमी की वजह से बीमारियां (Vitamin A Deficiency Diseases in Hindi)

‣ विटामिन ए के खाद्य पदार्थ (Food Sources of Vitamin A in Hindi)

‣ विटामिन ए के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits of Vitamin A in Hindi)

‣बोटम लाइन (Bottom Line in Hindi)

‣ विटामिन ए क्या है? (What Is Vitamin A in Hindi?)

विटामिन ए असंतृप्त पोषक कार्बनिक यौगिकों के समूह से बना विटामिन का एक प्रकार है। इस विटामिन में कार्बनिक यौगिक रेटिनोल, रेटिनाल, रेटिनोइक एसिड, प्रोविटामिन ए कैरोटेनोड्स (ज्यादातर बीटा कैरोटीन) होता है। एंटीऑक्सीडेंट में विटामिन ए उच्च है, इसलिए, यह विभिन्न स्वास्थ्य रोगों के इलाज में मदद करता है। शरीर में विटामिन ए का कार्य शरीर के विकास, प्रतिरक्षा प्रणाली और अच्छी दृष्टि को बनाए रखना है।

‣ विटामिन ए की कमी के लक्षण हैं (Vitamin A Deficiency Symptoms in Hindi)

विटामिन ए की कमी होना मुश्किल होता है, या यूं कहे कि विटामिन ए की कमी के मामले बहुत कम होते हैं। लेकिन फिर भी कहीं ना कही इस विटामिन की कमी की वजह से कई तरह की स्वास्थ्य संबधी समस्यायें उत्पन्न होती हैं। विटामिन ए की कमी की लक्षण कुछ इस प्रकार हैं-

‣ सूखी त्वचा

‣ सूखी आंखें

‣ रात में दिखाई नहीं देना

‣ बांझपन और  गर्भ धारण करने में समस्या

‣ शरीर के विकास में देरी 

‣ गले और छाती संक्रमण

‣पुराने घाव

‣ मुँहासे और दाग-धब्बे

[Back To Top]

‣ विटामिन ए की कमी की वजह से बीमारियां (Vitamin A Deficiency Diseases in Hindi)

विटामिन ए की कमी की बीमारियों को 5 प्रकारों में वर्गीकृत किया जा सकता है:

‣ आंख की बीमारियां: रात अंधकार (नाइट ब्लाइंडनेस), बिट्टोट के धब्बे, कॉर्नियल जेरोसिस, कॉर्नियल अल्सर, केराटोमालाशिया

‣ मीज़ल और दस्त

‣ एनीमिया

‣ खराब बाल

‣ खराब त्वचा

[Back To Top]

‣ विटामिन ए के खाद्य पदार्थ (Food Sources of Vitamin A in Hindi)

विटामिन ए बहुत से खाद्य पदार्थों में पाया जाता है, और विटामिन ए के यह खाद्य पदार्थ पोषक तत्वों से भरपूर हैं।

‣ विटामिन एक समृद्ध डेयरी उत्पाद: दूध, मक्खन, पनीर,चीज

‣ विटामिन ए रिच फ्रूट: साइट्रस फलों, आम, पपीता, खुबानी

‣ विटामिन एक समृद्ध सब्जियां: गाजर, आलू, कद्दू, मटर

‣ अन्य विटामिन ए समृद्ध खाद्य पदार्थ: अंडे की जर्दी, दलिया आदि

[Back To Top]

‣ विटामिन ए के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits of Vitamin A in Hindi)

अच्छी आंखों के लिए: आंखें हमारे शरीर का बहुत नाजुक अंग होती है, जिसकी अलग से देखभाल करने की जरुरत होती है। विटामिन ए आंखों को मॉइस्चराइजिंग और रेटिनोल जैसे पोषक तत्व प्रदान करता है। यह आंखों की दृष्टि को बेहतर बनाता है, रात का अंधापन दूर रखता है, मोतियाबिंद के खतरे को कम करता है, मैकुलर अपघटन और अन्य आयु से संबंधित आंखों की समस्याएं भी कम करता है।

स्वस्थ हड्डियों: विटामिन डी और डेयरी उत्पादों का नियमित रुप से सेवन करने से हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं। लेकिन हाल के अध्ययनों से पता चलता है कि हड्डियों और दांतों को मजबूत रखने में विटामिन ए का महत्व अधिक है। विटामिन ए से भरपूर फल दांतों के लिये काफी फायदेमंद होते हैं।

यूरिन स्टोन को रोकता है: विटामिन ए से भरपूर डाइट को लेने से यूरिन स्टोन की समस्या दूर होती है, और साथ ही विटामिन ए यूरिन और किडनी स्टोन की प्रक्रिया को ठीक करते हैं।

‣ मांसपेशी वृद्धि को बढ़ावा देता है: मांसपेशी वृद्धि शरीर में किसी अन्य प्रक्रिया के रूप में महत्वपूर्ण है। यह बच्चों और किशोरों के विकास में विशेष रूप से  लाभदायक है, विटामिन ए का कार्य मांसपेशी वृद्धि को बढ़ावा देना है। विटामिन ए के स्रोत भी मांसपेशियों में मांसपेशी डिस्ट्रॉफी को रोकने में मदद करते हैं।

‣ ऊतकों की मरम्मत: आपका शरीर नियमित रूप से कोशिकाओं और ऊतकों को पुन: उत्पन्न करता है और इस प्रक्रिया को आवश्यक पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। इस प्राकृतिक प्रक्रिया को प्रभावी ढंग से करने के लिए, विटामिन ए से भरपूर फलों का सेवन करना चाहिए।

‣ एजिंग के लिये लाभदायक: अगर आप अपने चेहरे की झुर्रीयां और रेखाओं से परेशान है तो आपको विटामिन ए को अपनी डाइट में अवश्य शामिल करें। विटामिन ए एक प्राकृतिक मॉइस्चराइजर के रूप में कार्य करता है और इसलिए त्वचा को में नमी बनाये रखता है।

‣ मीजल्स का इलाज करता है: विटामिन ए की कमी की वजह से हमारे शरीर की  प्रतिरक्षा प्रणाली कमजोर हो जाती है। जिसकी वजह से मीजल्स होने की संभावना रहती है। इसलिये विटामिन ए का सेवन अच्छी मात्रा में जरुर करना चाहिए।

[Back To Top]

‣ दस्त और बुखार से राहत: खसरा बुखार और दस्त की वजह से शरीर काफी कमजोर हो जाता है, ऐसे में विटामिन ए की खुराक लें।

मुँहासे के लिए: सेबम नामक तेल की अधिकता की वजह से मुंहासे होने लगते है। विटामिन ए त्वचा में अतिरिक्त तेल को सीमित रखने में मदद करता है।

मुलायम स्किन के लिए: विटामिन के विभिन्न स्वास्थ्य लाभों में से एक है मुलायम और चिकनी त्वचा, यह आपके शरीर में एंटीऑक्सीडेंट को बढ़ाने में मदद करती है। ये एंटीऑक्सिडेंट मृत त्वचा कोशिकाओं को फिर से ठीक करते हैं और मुलायम और चिकनी त्वचा प्रदान करने में मदद करते हैं।

प्रतिरक्षा को मजबूत करता है: जब प्रतिरक्षा की बात आती है तो विटामिन ए एक समग्र संरक्षक होता है। विटामिन ए लिम्फोसाइटिक प्रतिक्रियाओं को बढ़ावा देता है। जिससे किसी भी बीमारी में एंटीजनों के खिलाफ लड़ने की क्षमता बढ़ जाती है। इसके इसी गुणों के कारण श्लेष्म झिल्ली को नम रखने में विटामिन ए का महत्व भी अधिक होता है। यह प्रतिरक्षा प्रणाली को ठीक करता है, और सफेद रक्त कोशिकाओं के संचालन को बढ़ावा देता है।

यूवी किरणों से रक्षा करता है: विटामिन ए खाद्य पदार्थो में एंटीऑक्सीडेंट होता है। विटामिन ए यूवी किरणों के संपर्क में होने वाली त्वचा रोगों को ठीक करता है।

‣ कम कोलेस्ट्रॉल: खराब कोलेस्ट्रॉल की वजह से कार्डियक समस्यायें हो सकती हैं। विटामिन ए के स्वास्थ्य लाभों में खराब कोलेस्ट्रॉल के खतरनाक उच्च स्तर को कम करना है। यह धमनियों को भी बढ़ाता है और उचित रक्त प्रवाह में मदद करता है। यह किसी भी तरह के रक्त के थक्के को रोकने में भी सहायक है।

‣ स्वस्थ त्वचा सेल्स का उत्पादन: त्वचा सेल उत्पादन प्रक्रिया विभिन्न यौगिकों (जैसे रेटिनाल, रेटिनोल, रेटिनोइक एसिड) का उपयोग करती है जो विटामिन ए से भरपूर खाद्य पदार्थो और फलों से मिलती है। विटामिन ए फाइब्रोब्लास्ट्स के उत्पादन का भी समर्थन करता है जो आपकी त्वचा को स्वस्थ बनाए रखता है। विटामिन ए त्वचा के रुखेपन से लेकर त्वचा के घावों को भी ठीक करता है।

‣स्किन इंफेक्शन से बचाव: प्रदूषण, और मौसम की बदलाव की वजह से हमारी स्किन में इंफेक्शन होने की बहुत संभावना रहती है। लेकिन अगर आप विटामिन ए से भरपूर चीजों का सेवन कर रहे हैं तो बहुत हद तक आप स्किन इंफेक्शन से बच सकते हैं।

‣ स्किन को टोन करना-  स्किन का टोन होना बहुत जरुरी होता है, और विटामिन ए स्किन को टोन यानी कि स्किन में कसाव लाता है और चमकदार बनाता है।

[Back To Top]

‣बोटम लाइन (Bottom Line in Hindi)

विटामिन ए आपके शरीर की जरूरतों के लिए एक आवश्यक विटामिन है। विटामिन से भरपूर डाइट को जरुर शामिल करें और स्वस्थ रहें।

 

Related Articles

.जानिए 25 खास विटामिन ए फूड्स के बारे में (Top 25 Vitamin A Rich Foods You Need To Include In Your Diet In Hindi)

विटामिन ई के खास 15 तरीकों से निखारें संपूर्ण सौंदर्यं (Top 15 Ways To Use Vitamin E For Skin And Hair Care In Hindi)

विटामिन-के कमी को पूरा करने के लिए इन 25 खाद्य पदार्थों को करें आहार में सम्मिलित (Top 25 Vitamin K Rich Foods You Need To Include In Your Diet In Hindi)

विटामिन-सी से भरपूर 25 पौष्टिक खाद्य पदार्थों को करें अपने आहार में शामिल (Top 25 Vitamin C Rich Foods You Need To Include In Your Diet In Hindi)

Tinystep Baby-Safe Natural Toxin-Free Floor Cleaner

Dear Mommy,

We hope you enjoyed reading our article. Thank you for your continued love, support and trust in Tinystep. If you are new here, welcome to Tinystep!

We have a great opportunity for you. You can EARN up to Rs 10,000/- every month right in the comfort of your own HOME. Sounds interesting? Fill in this form and we will call you.

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon