Link copied!
Sign in / Sign up
1
Shares

विधानसभा उपचुनाव नतीजे- यूपी में बीजेपी को झटका, नूरपुर में सपा ने मारी बाजी


लोकसभा की चार और विधानसभा की 10 सीटों पर हुए उपचुनाव के नतीजे आ गए है। यूपी विधानसभा सीट नूरपूर और लोकसभा सीट कैराना के उपचुनाव में बीजेपी की प्रतिष्ठा दांव पर लगी हुई थी लेकिन दोनों ही जगह बीजेपी को करारी शिकस्त मिली। नूरपुर में सपा ने बड़े अंतर से जीत का परचम लहराया। केन्द्र और प्रदेश में बीजेपी की सरकार होने के बावजूद नूरपुर की सीट से हारना बीजेपी के लिए काफी निराशाजनक है।

उत्तर प्रदेश की नूरपुर सीट पर हुए उपचुनाव में जिसमें समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नईम उल हसन ने जीत दर्ज की। उन्होंने भाजपा की प्रत्याशी अवनी सिंह को 6212 वोट से हरा दिया है। समाजवादी प्रत्याशी नईमुल हसन 5678 वोटों से जीते। भाजपा को 89188 और सपा को 94866 वोट मिले।

 

शुरुआती चरणों में भाजपा उम्मीदवार अवनी ने बढ़त बनाई थी, लेकिन बाद में सपा उम्मीदवार ने उन्हें पीछे छोड़ दिया।

गौरतलब है कि ये सीट बीजपी नेता लोकेंद्र चौहान के निधन के बाद खाली हुई थी। लोकेंद्र चौहान की मौत फरवरी में कार हादसे में हो गई थी। उपचुनाव में बीजेपी ने उनकी पत्‍नी अवनि सिंह को उतारा है, वहीं सपा ने नीमुल हसन को टिकट दिया था।

 

ईवीएम मशीन में आई थी खराबी

चुनाव आयोग के मुताबिक नूरपुर में 3.06 लाख वोटर हैं। इस सीट पर कुल 10 प्रत्याशी चुनाव में खड़े हुए थे। चुनाव के दौरान कई बूथों पर ईवीएम मशीन खराब होने की शिकायत आई थी। जिस पर विपक्ष ने इस बार भी ईवीएम को फिर मुद्दा बनाया है। कैराना लोकसभा सीट के चुनाव के दौरान चार वीवीपैट व एक इवीएम खराब हो गई। इन्हें बदलकर चुनाव कराया गया। गौरतलब है कि मतदान के दौरान कई स्थानों पर वीवीपैट खराब होने से मतदान प्रभावित रहा। निर्वाचन आयोग ने दो घंटे से अधिक समय मतदान बाधित रहने वाले बूथों पर फिर से मतदान कराने का निर्णय लिया था। इसी के तहत बुधवार को कैराना के 73 पोलिंग बूथों पर पुनर्मतदान हुआ।

 

बता दें कि 2019 में आम चुनाव होने हैं। इससे पहले इस उपचुनाव को 2019 का सेमीफाइनल माना जा रहा है। सोमवार को देश की 4 लोकसभा सीटों और 10 विधानसभा सीटों पर हुए उपचुनाव में वोट पड़े। जिन 4 लोकसभा सीटों पर उपचुनाव हुए, उनमें यूपी की कैराना, महाराष्ट्र की भंडारा-गोंदिया व पालघर और नगालैंड की एकमात्र लोकसभा सीट शामिल है।

 

यूपी के कैराना लोकसभा सीट पर हुए उपचुनाव को काफी अहम माना जा रहा था। यहां विपक्षी दलों की एकता के कारण भाजपा को झटका लगा है। आरएलडी की उम्मीदवार तबस्सुम हसन ने भाजपा प्रत्याशी मृगांका सिंह को 44618 वोट के अंतर से हराया। बता दें कि भाजपा को हराने के लिए यहां सभी प्रमुख विपक्षी दल एक-दूसरे के साथ आ गए थे।

 

कैराना लोकसभा उपचुनाव में 14 प्रत्याशियों में से एक लोकदल प्रत्याशी कंवर हसन के रालोद को समर्थन देने के बाद चुनाव मैदान में 13 प्रत्याशी थे। मुख्य मुकाबला भाजपा की प्रत्याशी मृगांका सिंह व महागठबंधन प्रत्याशी तबस्सुम हसन में था।

बता दें कि कैराना लोकसभा सीट भाजपा के सांसद हुकुम सिंह के इसी साल फरवरी में बीमारी के चलते हुए निधन की वजह से खाली हुई थी। 2014 में हुए लोकसभा चुनाव में कैराना सीट पर भाजपा के हुकुम सिंह जीते थे।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon