Link copied!
Sign in / Sign up
39
Shares

(video)प्रेगनेंसी में सोने की सही पोज़ीशन,आपके और शिशु के लिए -

 

गर्भावस्था के दौरान नींद ना आना एक आम समस्या है।आप कितनी भी कोशिश करें लेकिन फिर भी आप सुकून से सो नहीं पाती है, जिसका अहम कारण है शरीर में हो रहे विभिन्न बदलाव। आप कई तरह की परेशानियां अनुभव करती है क्योंकि पेट का आकार बढ़  जाता है, जिस कारण कमर दर्द, हार्टबर्न, सांस लेने में तकलीफ आदि जैसी समस्याएं होती है।

करवट लेकर सोने की पोजीशन (Sleep on side), गर्भावस्था के दौरान सोने के लिए सबसे बेहतर पोजीशन माना जाती  है। अपनी सुविधानुसार सोने के दौरान ,अपने घुटनों को मोड़कर, दोनों टांगों के बीच तकिया  रखकर सोना सबसे आरामदायक पोजीशन है। यह भी कहा जाता है कि बायीं ओर  सोना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इससे रक्त व पोषण  की मात्रा में वृद्धि होती है ,परंतु इस कथन के कोई प्रमाणिक सबूत नहीं है। इसलिए आप किसी भी तरफ सोने के लिए स्वतंत्र है।

अगर आपको कमर दर्द की समस्या होती है तो करवट लेकर सोने की पोजीशन(Sleep on side) में सोए और  पेट के नीचे भी एक तकिया रखें। यदि आप रात को नींद के दौरान हार्टबर्न महसूस करें तो आप तकिए के सहारे अपने शरीर को ऊपर उठाने की कोशिश कर सकती हैं| इससे थोड़ी राहत जरूर मिलेगी।

गर्भावस्था के दौरान पीठ के बल नहीं सोना चाहिए, इससे कमर दर्द व सांस लेने में तकलीफ हो सकती है, साथ इससे पाचन तंत्र, रक्तचाप व (hemorrohoid) बवासीर की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि इससे रक्त संचार हृदय और  शिशु तक धीमा हो जाता है | यह आंतों व रक्त धमनियों को भी  प्रभावित करता है।

आराम से सोने के तीन तरीक
1. अतिरिक्त तकियों का इस्तेमाल करें

गर्भावस्था के दौरान नींद ना आना एक आम समस्या है।आप कितनी भी कोशिश करें लेकिन फिर भी आप सुकून से सो नहीं पाती है, जिसका अहम कारण है शरीर में हो रहे विभिन्न बदलाव। आप कई तरह की परेशानियां अनुभव करती है क्योंकि पेट का आकार बढ़  जाता है, जिस कारण कमर दर्द, हार्टबर्न, सांस लेने में तकलीफ आदि जैसी समस्याएं होती है।

करवट लेकर सोने की पोजीशन (Sleep on side), गर्भावस्था के दौरान सोने के लिए सबसे बेहतर पोजीशन माना जाती  है। अपनी सुविधानुसार सोने के दौरान ,अपने घुटनों को मोड़कर, दोनों टांगों के बीच तकिया  रखकर सोना सबसे आरामदायक पोजीशन है। यह भी कहा जाता है कि बायीं ओर  सोना ज्यादा फायदेमंद होता है क्योंकि इससे रक्त व पोषण  की मात्रा में वृद्धि होती है ,परंतु इस कथन के कोई प्रमाणिक सबूत नहीं है। इसलिए आप किसी भी तरफ सोने के लिए स्वतंत्र है।

अगर आपको कमर दर्द की समस्या होती है तो करवट लेकर सोने की पोजीशन(Sleep on side) में सोए और  पेट के नीचे भी एक तकिया रखें। यदि आप रात को नींद के दौरान हार्टबर्न महसूस करें तो आप तकिए के सहारे अपने शरीर को ऊपर उठाने की कोशिश कर सकती हैं| इससे थोड़ी राहत जरूर मिलेगी।

गर्भावस्था के दौरान पीठ के बल नहीं सोना चाहिए, इससे कमर दर्द व सांस लेने में तकलीफ हो सकती है, साथ इससे पाचन तंत्र, रक्तचाप व (hemorrohoid) बवासीर की समस्या भी हो सकती है, क्योंकि इससे रक्त संचार हृदय और  शिशु तक धीमा हो जाता है | यह आंतों व रक्त धमनियों को भी  प्रभावित करता है।

आराम से सोने के तीन तरीक
1. अतिरिक्त तकियों का इस्तेमाल करें

इससे आपके कूल्हों पर अधिक दबाव नहीं पड़ता है और  दर्द भी कम होता है। तकिए को उस जगह रखिए जहां आप दर्द महसूस कर रहीं हो इससे राहत मिलेगी।

2.  स्पोर्ट बैंड

दैनिक रूप से पहनने के लिए आप मैट्रनिटी बैंड खरीद सकती है। इसे दिन में लगाए रखने से आपको रात में भी कम दर्द होगा।

3. भोजन की मात्रा का ध्यान रखें

कम व सामान्य मात्रा में भोजन करें, इससे पेट भी नहीं फूलता व रिफ्लकस का दर्द भी नहीं होता।

जब आप गर्भावस्था के दौर से गुजर रहीं होती है तो शरीर के भीतर हो  रहे बदलावों के कारण  आप  आराम महसूस नहीं करतीं और इसका असर आपकी नींद पर भी होता है | सही सोने की पोजीशन को अपनाकर आप इस बेचैनी को राहत दें सकतीं है और एक प्यारी चैन भरी नींद ले सकतीं है |    

इससे आपके कूल्हों पर अधिक दबाव नहीं पड़ता है और  दर्द भी कम होता है। तकिए को उस जगह रखिए जहां आप दर्द महसूस कर रहीं हो इससे राहत मिलेगी।

2.  स्पोर्ट बैंड

दैनिक रूप से पहनने के लिए आप मैट्रनिटी बैंड खरीद सकती है। इसे दिन में लगाए रखने से आपको रात में भी कम दर्द होगा।

3. भोजन की मात्रा का ध्यान रखें

 

कम व सामान्य मात्रा में भोजन करें, इससे पेट भी नहीं फूलता व रिफ्लकस का दर्द भी नहीं होता।

जब आप गर्भावस्था के दौर से गुजर रहीं होती है तो शरीर के भीतर हो  रहे बदलावों के कारण  आप  आराम महसूस नहीं करतीं और इसका असर आपकी नींद पर भी होता है | सही सोने की पोजीशन को अपनाकर आप इस बेचैनी को राहत दें सकतीं है और एक प्यारी चैन भरी नींद ले सकतीं है |   

हेलो मॉम्स,

हम आपके लिए एक अच्छी खबर ले कर आये हैं।

Tinystep आपके और आपके बच्चों क लिए प्राकृतिक तत्वों से बना फ्लोर क्लीनर ले कर आया है! क्या आपको पता है मार्किट में मिलने वाले केमिकल फ्लोर क्लीनर आपके बच्चे के लिए हानिकारक है?

Tinystep का प्राकृतिक फ्लोर क्लीनर आपको और आपके बच्चों को कीटाणुओं और हानिकारक केमिकलों से दूर रखेगा। आज ही आर्डर करें - http://bit.ly/naturalfc

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon