Link copied!
Sign in / Sign up
75
Shares

(video)पानी में जन्म देने का अनोखा नया रिवाज़ - वॉटर बर्थ (water birth)

>

वाटर बर्थ को समझीए।

अगर आप अपने शिशु को और अधिक प्राकृतिक तरीके से जन्म देने के बारे में सोच रहे हैं, तो आप वाटर बर्थिग पर विचार कर सकते हैं। अस्पताल की बजाय किसी पूल में शिशु को जन्म के बारे में थोड़ा आशंकित होना सामान्य सी बात है। लेकिन इसके कई लाभ हैं, जो आपको वास्तव में एक बार देखने चाहिए।

शिशु को पानी में जन्म देना ही, वाटर बर्थिग कहलाता है। यह आमतौर पर गर्म पानी के छोटे पूल में किया जाता है और आपकी सुविधा के अनुसार घर पर या बर्थिंग सेंटर में किया जाता है। इस सब के दौरान नर्स या मिड वाइफ आपकी सहायता के लिए वहां मौजूद होती है। कई लोग मानते हैं कि अस्पताल के बिस्तर पर जन्म देने की अपेक्षा वाटर बर्थ अधिक आरामदायक और कम दर्दनाक होता है।

गर्म पानी शामक के रूप में कार्य करता है और इसे एक आरामदायक स्थिति मानकर,लोग यह यकीन करते हैं कि यह प्रसव के दौरान मां को होने वाले तनाव को कम करता है और इसी के साथ भ्रूण को होने वाली समस्याओं को भी कम करता है।

कुछ महिलाएं प्रसव के प्रारंभिक चरण में वाटर बर्थिग से गुजरती है क्योंकि यह दर्द कम करने के लिए जाना जाता है, प्रक्रिया को तीव्र करता है और साथ ही एनास्तासिय के उपयोग को भी रोकता है।

वाटर बर्थिग कई वर्षों से चला आ रहा है और इन दिनों यह काफी लोकप्रियता प्राप्त कर रहा है।

वाटर बर्थिग के फायदे –

पानी के उछाल के कारण आपको अपना वजन अधिक महसूस नहीं होगा और यह आपको सहजता से हिलने डुलने की अनुमति भी देता है। यह रक्त प्रवाह को बढ़ाता है,जो शिशु के लिए पर्याप्त आक्सीजन को आश्वस्त करता है।

क्योंकि यह अपेक्षाकृत कम तनाव वाले वातावरण में किया जाता है इसलिए यह आपके दिमाग को अधिक एंडोर्फिन छोड़ने में मदद करता है, जिससे आपको दर्द से जूझने में सहायता मिलती है।

वाटर बर्थिग को योनी के हिस्से को कम चीरने के लिए भी जाना जाता है, जिससे टांके लगने की संभावना भी कम होती है। साथ ही पानी एमिनो सेक के समान वातावरण बनाता है, जिससे शिशु अधिक सहज महसूस करता है और आसानी से बाहर की दुनिया में सामंजस्य स्थापित कर पाता है।

वाटर बर्थिग के जोखिम–

वैसे बर्थिग के कई प्राकृतिक फायदे हैं, लेकिन साथ ही इसके कुछ जोखिम भी है, जिसके बारे में आपको जागरूक होना चाहिए।

जिन महिलाओं की गर्भावस्था में जटिलताएँ होती हैं,उन्हें यह करने का सुझाव नहीं दिया जाता है। अगर शिशु नाभी के साथ मुड़ जाता है, तो पानी के संपर्क से इसमें कष्ट हो सकता है।

अभी तक वाटर बर्थिग की सुरक्षा  को साबित करने का कोई वैज्ञानिक तर्क नहीं है और कई लोग इसे “प्रयोगात्मक प्रक्रिया” मानते हैं।

साथ ही बहुत कम, लेकिन इस दौरान संक्रमण होने की संभावना होती है।

आप दूसरों को शिक्षित करने के लिए शेयर करें। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon