Link copied!
Sign in / Sign up
25
Shares

जुड़वां बच्चों की देखभाल के लिए आसान 16 टिप्स

 

 

जुड़वाँ बच्चों की देखभाल करने में दोगुना मेहनत लगती है। और यह काम आपको अपने सीमित संसाधनों में करना पड़ता है जैसे कि सीमित समय, शारीरिक क्षमता और उन लोगों के साथ जो आपकी मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। इस बात में कोई दोराहे नहीं है कि जुड़वाँ बच्चों की दोगुनी ज़िम्मेदारी माता-पिता को अभिभूत कर देती है। लेकिन जब आप जुड़वाँ बच्चों की ज़िम्मेदारी पूरी कर लेती है, तो इससे मिलने वाली संतुष्टि भी दोगुनी हो जाती है। सिर्फ एक योजना और कुछ टिप्स से आपको यह टेस्ट पास करने में मदद मिलेगी। हमारे इस लेख में हम आपको बताएँगे कुछ आसान उपाय, टिप्स और तरीके जिनसे आपको मदद मिलेगी अपने जुड़वाँ बच्चों की सही देखरेख करने में।

अपने जुड़वाँ बच्चों का ध्यान रखने के कुछ मददगार टिप्स :—

यह कुछ आसान टिप्स जिससे आप जुड़वाँ बच्चों का ध्यान भी रख सकते हैं और अपने लिए समय भी निकाल सकते हैं।

1. अपने दोनों बच्चों के खाने और सोने का एक ही शैडयूल रखें 

इससे यह बात पक्की हो जाएगी कि आप बच्चों को सारा दिन दूध पिलाने के बाद सुला नहीं रही है। डॉ. शैली फ्लेस जो खुद एक बालरोग विशेषज्ञ है वह अपनी किताब 'रेजिंग ट्विन’ में लिखती हैं “जब एक जुड़वां बच्चा खाना खाने के लिए उठता है, तो आप दूसरे बच्चे को भी उठा दें।” यह सोते हुए बच्चे को ना उठाने के नियम के विरुद्ध है लेकिन यह करना व्यवहारिक है। दोनों बच्चों को एकसाथ दूध पिलाने के लिए ट्विन फीडिंग पिलो का इस्तेमाल करें। एक बार जब बच्चे यह साथ-साथ करने लगेंगे, तो उन्हें संभालना आसान हो जाएगा। हालांकि सुलाने और खिलाने की ट्रेनिंग शुरू करने से पहले अपने बालरोग विशेषज्ञ से सलाह अवश्य लें ताकि आप जान सकें कि बच्चा इसके लिए तैयार है या नहीं। 

2. जुड़वाँ बच्चों के शैडयूल को नोट करें 

 कुछ दिनों के लिए बच्चों का शैडयूल एक जगह पर लिख लें इससे आपको बच्चों को एक ही शैडयूल पर रखने में मदद मिलेगी। उनके दूध पीने, सोने और वह कितने डायपर इस्तेमाल कर रहे हैं, इस पर ध्यान दें और एक जगह लिख लें। अगर आपको दनों बच्चों को एक साथ दूध पिलाने में दिक्कत हो रही है, तो अपने स्तनों का दूध बोतल भरकर एक बच्चे को बाद में यह दूध पिलाएं।

[Back To Top]

3. जुड़वां बच्चों को सुलाने के लिए अलग-अलग तरीकों का इस्तेमाल करने की कोशिश करें 

दोनों बच्चों को एक-साथ एक ही समय पर सुलाना बड़ा मुश्किल काम है। आप इन कुछ तरीकों का इस्तेमाल कर सकती हैं:–

– उन्हें सट्रोलर पर घूमाएं

– एक बच्चे को केरियर पर रखें और एक को गोद में घूमाएं

– उन्हें स्वाडल करके पालने पर रखें

– बच्चों को बैसिनेट पर रखें

आप उन जगहों को भी नोट करें जहां आपके जुड़वाँ बच्चों को आसानी से नींद आ जाती है, उस जगह पर ऊपर बताए गए सभी तरीकों को आजमाएं।

4. डबल सट्रोलर या ट्विन केरियर बैग खरीदें 

अपने बच्चों को एकसाथ एक ही समय पर लें जाना आपके लिए मुश्किल साबित हो सकता है। इसलिए कहीं बाहर आने जाने के लिए डबल सट्रोलर या ट्विन केरियर बैग खरीदे। आप इनका इस्तेमाल बच्चों का सामान खरीदने के लिए भी कर सकतीं हैं।

5. मदद मांगे 

 आप सब काम अकेले नहीं कर सकतीं हैं और ऐसे में आपको मदद की जरूरत पड़ेगी इसलिए अपने परिवार के लोगों, दोस्तों या आस-पड़ोस के लोगों से बच्चों की देखभाल करने के लिए मदद मांगे। आप अपने माता-पिता से आपकी मदद करने के लिए उन्हें घर बुलाने का आग्रह कर सकती हैं। अगर आपको यह नहीं करना है, तो आप अपने बच्चों की देखभाल के लिए एक नैनी या बेबी सिटर हायर कर सकतीं हैं।

 

6. ट्विन मॉम ग्रूप जॉइन करें 

आप स्थानीय या ऑनलाइन मॉम ग्रूप जॉइन कर सकतीं हैं। इस तरह के ग्रूप में आपको अन्य जुड़वां बच्चों की मांओं के साथ अनुभव, समस्या और सरल उपाय जानने में मदद मिलेगी। इस तरह के ग्रूप से आपको ऐसे लोगों से बात करने का मौका मिलेगा, जो आप ही कि तरह एक‌ सी परिस्थिति में है।

7. बच्चों के लिए सामान ऑनलाइन ख़रीदे 

जुड़वां बच्चे होने का मतलब यह है कि आपके शिशुओं के लिए इस्तेमाल किए जाने वाला सामान तेज़ी से खत्म होगा। इसलिए आपको रोजाना डायपर, वाईप और क्रीम ख़रीदनी पड़ेगी। आनलाइन सामान खरीदने में आपको बेहतर छूट मिलेगी, साथ ही आपको रिकॉर्ड रखने में आसानी होगी। इससे आपका समय भी बचेगा।

8. हर सामान के दो पैक ख़रीदना जरूरी नहीं है 

सबसे आम गलती जो जुड़वां बच्चों के माता-पिता करते हैं, वह यह है कि वह हर सामान के दो पैक खरीदते हैं। हालांकि हाई चेयर, कार सीट, सट्रोलर, क्रीब्स आदि में आपको दो सैट खरीदने की जरूरत पड़ती है लेकिन आपको खिलौने,‌ किताब, क्रीम या दो-दो टैलकम पाउडर खरीदने की जरूरत नहीं है। इससे आपके धन की बचत होगी ‌

[Back To Top]

9. बच्चों के जैंडर के हिसाब से कपड़े खरीदने की जरूरत नहीं है 

अगर आपके जुड़वां बच्चे लड़की और लड़का है, तो आपको उनके जैंडर के आधार पर लड़की के लिए अलग और लड़के के लिए अलग कपड़े खरीदने की जरूरत नहीं है। हां आपको अपनी प्यारी परी को फ्रौक पहनाने की इच्छा होगी लेकिन रोजमर्रा के इस्तेमाल में आने वाले कपड़े दोनों बच्चों के लिए एक से ही लें ताकि आप बच्चों को एक-दूसरे के कपड़े बदलकर पहना सकें।

10. बच्चों के थोड़ा बड़ा हो जाने पर उन्हें अलग-अलग सुलाने के बारे में ना सोचें 

 हो सकता है कि आप बच्चों को अलग-अलग कमरे में सुलाने के बारे में सोचें क्योंकि रात में एक रोने पर दूसरा भी आवाज़ सुनकर उठ सकता है। हालांकि अगर आप उन्हें एक-साथ सुलाएंगी तो उन्हें एक-दूसरे की आवाज़ सुनने की आदत हो जाएगी और उन्हें इससे कोई दिक्कत नहीं होगी। वैसे आप अपने बच्चों के व्यवहार और पसंद के हिसाब से उन्हें सुला सकतीं हैं।

11. थोड़ा समय अपने लिए निकालें 

चाहे आप कितना भी नियोजित होकर काम करें उसके बावजूद आप बहुत थक जाएंगी। इसलिए आवश्यक है कि आप थोड़ा समय अपने लिए निकालें। वरना आप रोजमर्रा के कामकाज से ऊब जाएंगी इसलिए आवश्यक है कि आप ब्रेक लें और अपनी पसंदीदा चीजें करें। टेलीविजन देखें, किताब पढ़ें, हॉट बॉथ लें। इससे आपको खुश रहने और अपने और बच्चों के लिए कुछ बेहतर करने में मदद मिलेगी।

12. काम बांटे 

आप और आपके पति एक-दूसरे का हाथ बंटा सकते हैं। कभी आप में से एक शिशु के साथ रह सकता है तो कभी दूसरा शिशु के साथ रह सकता है। इससे आपको अपने लिए समय मिलेगा और आप पर अकेले सारा काम करने का दबाव नहीं पड़ेगा। कभी आप आराम कर सकतीं हैं तो कभी आपके पति बच्चों को स्ट्रोलर पर घूमाने ले जा सकतें हैं, और बाजार से सामान भी ला सकते हैं।

13. हमेशा तैयारी पूरी रखें 

बच्चों को नहलाने से पहले उनके कपड़े, डायपर, तौलिया एक तरफ रखें लें। साथ ही हमेशा एक बैग तैयार रखें, जिसमें बच्चों को सारा सामान रखा हो। इससे आपको जब भी बच्चों के साथ बाहर जाना होगा, तो आपको बार-बार पैकिंग करके समय बर्बाद नहीं करना पड़ेगा।

[Back To Top]

14. अन्य तरीकों का इस्तेमाल करें 

अन्य काम करने के दौरान बच्चों को रखने के लिए ट्विन बेबी केरियर का इस्तेमाल करें। आप काम के दौरान एक बच्चे को केरियर में और एक को हाथ में रख सकतीं हैं या फिर दोनों बच्चों को एक साथ केरियर में रखें और अपने काम करें।

15. दोनों बच्चों को एकसाथ नहलाएं 

दोनों बच्चों को एकसाथ नहलाने से आपका समय बचेगा और आप जल्द यह काम कर पाएंगी।

16. फ्रीजर फूड 

 दो‌ बच्चों का ध्यान रखने के दौरान घर के अन्य काम और खाना बनाना बहुत मुश्किल काम हो‌ सकता है। आप फ्रीजर फूड बना सकती है जिसे आप गर्म करके फौरन खा सकती है। आप क्रोकपौट रेसिपी तैयार कर सकतीं हैं। इसमें आपको सामग्री मिलाने और जल्द खाना तैयार करने में मदद मिलेगी।

जुड़वां बच्चों का ध्यान रखने के लिए इन आसान टिप्स को अपनाएं और अपने बच्चों का ध्यान रखते हुए आसानी से घर के अन्य काम करें और अपने लिए भी समय निकालें।

Tinystep Baby-Safe Natural Toxin-Free Floor Cleaner

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon