Link copied!
Sign in / Sign up
5
Shares

शिशु होने के बाद काम पर जाने की सोच गलत नहीं है।

यह एक जानी पहचानी परिस्थिति है: आपने कुछ महीनों पहले एक सुंदर बच्चे को जन्म दिया है और आपकी दुनिया पूरी तरह बदल गयी है | रातों को ना सो पाना, स्तनपान कराना, निरंतर थकान, अब आदत सी बन गयी है |

हालांकि शुरुआत में यह मुश्किल था, अब यह सब संभालना आसान लगता है। सुबह उठते ही आप अपने बच्चे की सूरत देखने के लिए उतावली रहती हैं और हर दिन आपको उसके और करीब लाता है|

जब वो सो रही होती है तो उसके सोने और जागने के बीच यह सवाल आपके दिमाग में चलता है: "आप काम पर कैसे उसे छोड़ कर जाएंगी ? बच्चा किसके सहारे रहेगा और और उसकी देखभाल ठीक से हो पायेगी या नहीं ?" ये सब सोचकर आप अपने आपको कहीं न कहीं दोषी मानती हैं |

तो, क्या आपको पूरी तरह से वापस काम करने के बारे में सोचना बंद कर देना चाहिए? निश्चित रूप से नहीं! पहले ज़माने में एक डेकेयर का रखना अपराध माना जाता था लेकिन अब ऐसा नहीं है। आजकल कई विकल्प हैं जो आप अपने कैरियर पर ध्यान केंद्रित करने के बारे में दोषी महसूस किए बिना एक युवा मां के रूप में तलाश कर सकती हैं। हम समझते हैं कि एक काम करने वाली माँ के लिए इतनी चीज़ें संभालना आसान नहीं है और यही वजह है कि हमने यहाँ कई कारणों की एक सूची तैयार की है ताकि आपको बच्चा होने के बाद वापस काम करने के बारे में सोचकर दोषी महसूस नहीं करेंगीं।

1. आगे कई मजेदार समय गुंजाइश |

सबसे प्रमुख बात जो आपके बच्चे डेकेयर में सीखते हैं वो है मिलनसार होना ; दिन का बड़ा हिस्सा आपका बच्चा अन्य बच्चों और बड़ों के साथ बातचीत कर के बिताता है। इंटरेक्शन विकास की आधारशिला है और विभिन्न प्रकार के लोगों के साथ संपर्क कर के आपके बच्चे की पर्सनालिटी का विकास होगा |

2. अलग होने की चिंता, वह क्या है?

एक बार जब आपका बच्चा आपको देर समय तक छोड़कर डेकेयर में समय बिताने लगे तो मान लें कि वह धीरे-धीरे अधिक स्वतंत्र हो जाएगा | जैसे बच्चा विद्यालय में या रिश्तेदार के घर में खुद को ढाल लेता है ठीक वैसे ही नए वातावरण में भी अपने आपको आसानी से ढाल लेगा |

3. रूटीन बनाना 

डेकेयर में आपके बच्चे का खाने, खेलना, सीखने और सोने के लिए विशिष्ट समय होने पर बच्चा खुद को एक रूटीन में ढालता है | हर चीज़ों के लिए अलग-अलग समय बनाना जैसे कहानी सुनाने और गाना गाने का समय, आपके बच्चे को दिन भर उलझाकर रखेगा | थोड़े बड़े बच्चों के लिए ये उनके दिमागी विकास के लिए बहुत महत्वपूर्ण है | आपको अपने बच्चे में वो बदलाव दिखेंगे जब आप डेकेयर के बाद अपने बच्चे से मिलेंगी |

4. एक जीनियस की नींव पड़ी है 

बच्चो की देखभाल विशेषज्ञों की मदद से, अच्छे डेकेयर केंद्रों में एक पाठ्यक्रम का पालन किया जाता है जो आपके बच्चे के बौद्धिक विकास में मदद करता है। अध्ययनों से पता चला है कि इस स्तर पर अच्छे पाठ्यक्रम के संपर्क में आने वाले बच्चों के उच्च ज्ञानात्मक विकास होता है और वो पढाई में भी अच्छे होते हैं |उनकी तुलना में उनके साथी ऐसे नहीं बन सकते जिन्हे डेकेयर नहीं भेजा गया |

5. मित्र बनाने का मौका

दोस्ती यहाँ से शुरू होती है | आपका बच्चा डेकेयर में अपनी उम्र के अन्य बच्चों के साथ समय बिताता है | यह उन्हें सामाजिक बनने में मदद करता है क्योंकि यहां उसे एक आदमी से दुसरे आदमी से जुड़े रिश्ते का महत्व का पता चलता है। उन्हें शब्दों के इस्तेमाल का महत्व समझ आता है, यह कुछ ऐसी चीजें जो ऐसी उम्र में बच्चों को प्राप्त होना थोड़ा मुश्किल हैं अगर वे अपने उम्र के बच्चों के साथ कम संपर्क में हो।

6. आसानी से साँस लें

यह जानकर कि आपका बच्चा अच्छे हाथों में है, आप अपने काम पर अधिक आसानी से ध्यान दे सकती हैं। यह प्रत्येक दिन आप जिस तनाव से गुजरतीं है यह उन्हें कम करने में मदद करता है| जब आप घर वापस आती हैं तो अपने बच्चे के साथ खेलने के लिए आपको ताज़ा और ऊर्जावान रखता है|

माता-पिता के रूप में, अपने बच्चे की भलाई के बारे में सोचना बेहद मुश्किल है, यही कारण है कि हम आपके साथ काम करने के लिए उत्सुक हैं |यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपका बच्चा जीवन में सबसे अच्छी शुरुआत करे | हम आपके लिए सबसे अच्छा समाधान ढूंढने का प्रयास करते हैं, ताकि आप तनाव मुक्त होकर पेरेंटिंग का आनंद ले सकें। पूरे भारत में 5 शहरों और 54 केंद्रों में माताओं का मानना ​​है कि अपने बच्चों को डे केयर में दाखिला देने का फैसला उनका सबसे अच्छा फैसला था।

बच्चों की देखभाल विशेषज्ञों के रूप में ये माता-पिता को काम पर वापस अपराध-मुक्त करने में सहायता करता है ,तो उन ग्लानि से खुद को दूर रख दें! अपने नजदीकी क्ले केंद्र में जाएँ और पहला अनुभव करें कि क्यों भारत भर के माता-पिता को क्ले से प्यार है।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon