Link copied!
Sign in / Sign up
6
Shares

क्या शादी के बाद जब आप अपनी मां से मिलने जाते हैं तो यह होता है?


मां किसी सुपरवुमन से कम नहीं होती,वह बहुमुखी प्रतिभा और खुबसूरती की रानी होती है। जब भी आपको उनकी जरूरत होती है वह हमेशा आपके लिए समय निकालती है। मां वास्तविक रुप में भारतीय देवी की तरह होती है जो जीवन को संतुलित बनाए रखती है।

जरुरत पड़ने पर वह गुस्सा करती है। वह किसी फरिश्ते की तरह होती है जो जरुरत पड़ने पर आपको आशीर्वाद और प्यार देती है।

मां से आप कितना ज्यादा प्यार करते हैं, इसका एहसास आपको शादी के बाद ही होता, जब आप अपने पति के साथ रहने के लिए चली जाती है। वह प्यारा और दुलार जिसकी जरूरत आपको है,वह सब आपके मायका में वह आपको देती है।

1. ख़रीददारी

एक बच्चा होने के नाते, आपको कुछ भी खरीदने से डर नहीं लगता है। आपकी ख़रीददारी की इच्छा हमेशा बनी रहती है। आप हमेशा अपनी मां की नन्ही परी रहेंगी और ख़रीददारी दो औरतें के रिश्ते को बनाए रखने का सबसे अच्छा तरीका है।

2. मां के हाथ का खाना 

यह बिल्कुल सच है कि कोई भी मां के हाथ के खाने की जगह नहीं ले सकता है। हो सकता है अपनी गृहस्थी में आप रसोई-घर की रानी हों लेकिन अपने घर पर बना मां के हाथ का खाना आपको अलग ही एहसास दिलाएगा। मां के हाथ में कभी खत्म ना होने वाला जादू होता है जिससे वह स्वादिष्ट खाना बनाती है। उनकी रोटियाँ हमेशा गोल मुलायम होती है क्योंकि उसमें एक खास सामग्री मिली होती है, जी हां मां का प्यार।

3. मुफ्त मास्टर शेफ की क्लास 

चूंकि आपने उनके साथ बहुत समय बिताया है, तो आपको पता होना चाहिए की आप उनसे नए व्यंजन सीखने की हक़दार हैं। वापस घर जाकर अपने पति को अपने नए पाक कौशल को दिखाने का यह शानदार मौका है।

4. गपशप

इस बात को तो आप मानेंगे की बचपन मे हमें गपशप सुनना बहुत अच्छा लगता था और हमने चुपके से बहुत से ताज़ा ख़बरें भी सुनी थी। लेकिन अब आप बड़े हो गए हैं और खुद अपने रहस्य बताने के काबिल हो गए हैं, तो ऐसे में मां के साथ गप्पे लड़ाना और भी मजेदार हो जाता है। आपकी मां का दृष्टिकोण और वह बातें जो आप करती है, उससे आपका रिश्ता और भी मजबूत हो जाता है। तो जब भी आप कुछ नया मसालेदार सुनती है तो आप स्वयं को नियंत्रित नहीं रख पाती है और जल्द से जल्द अपनी मां को यह सब बताना चाहती है।

5. उनके मनपसंदीदा रेस्टोरेंट में खाना खिलाना 

अपनी मां को उनके पसंदीदा रेस्टोरेंट में ले जाना और उन्हें उनके पसंदीदा व्यंजनों की दावत देना। इससे सभी भावनाएं व्यक्त होगी और आपकी मां को कुछ हसीन पल मिलेंगे। खाने का स्वाद पक्का आपके रिश्तों में भावनाओं को बढ़ाएगा।

6. बचपन की यादें 

हमारे सांस लेने के बाद से मां ही हमारी ह्यूमन डायरी होती है। जब भी आप घर जाएं,तो उस एल्बम को खोलें जिसमें आपके बचपन की तस्वीरें हो। उन्हें यह बताने में बहुत अच्छा लगेगा की बचपन में आप कितने मजाकिया थे और अपने मोटे गालों में आप कितने प्यारे लगते थे। उनके पास आपकी कहानी सभी को सुनाने का बेहतर तरीका होगा। सभी आपके मां के शब्दों द्वारा जानेंगे की आप बचपन में कितनी शैतान थी। सबसे ज्यादा खुशी आपको अपनी मां की गोद में सर रखकर, अपने बचपन के क़िस्से सुनने में मिलेगी।

7. साथ होने का एहसास 

जब आप अपनी मां से मिलते हैं तो आपके दिमाग में उन्हीं के ख्याल होते हैं। उनकी हर बात, उनकी हंसी,मजाक और उनकी मोजूदगी आपको खुश करती है। उनका प्यार से गले लगाना आपको सहजता और संरक्षण देता है। यहां तक कि अगर आप मां के आसपास यूं ही घूम रहे हैं तो भी यह आपको खुशी देगा और सकारात्मक महसूस कराएगा।

तो समय आ गया है की आप अपनी मां से जल्द से जल्द मिलें। अगर नहीं तो उन्हें फोन कॉल कीजिए क्योंकि वह आपसे बस एक काल की दूरी पर है।


Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon