Link copied!
Sign in / Sign up
2
Shares

सात अजीबोगरीब सुझाव, जो गर्भवती महिलाओं को दिए जाते हैं

 

भारतीय होने के नाते, हम हर चीज़ पर आवश्यकता से अधिक सावधानी बरतने के लिए जाने जाते हैं। जब भी लोग गर्भवती महिला से मिलते हैं, तो वह उनका पेट छूकर उन्हें आशीर्वाद देते हैं और हमेशा उन्हें बेहतर सुझाव देने का प्रयास करते हैं। अचानक हर कोई विशेषज्ञ लगने लगता है और आपको उनकी बात माननी ही पड़ती है क्योंकि आप कोई जोख़िम नहीं उठा सकती है। यह है कुछ अजीबोगरीब चीजें जो गर्भवती महिलाओं को बताई जाती है।

सेक्स से दूरी

यह सूची में सबसे पहले आता है! यह सुझाव पीढ़ी-दर-पीढ़ी दिया जाता हैं और आमतौर पर गर्भधारण करने वाली मां के कानों में कहा जाता है। यह मान्यता है कि ऐसी अवस्था में सेक्स करने से भ्रूण को तकलीफ़ हो सकती है और इसलिए इससे दूरी रखने में ही भलाई है। हालांकि कुछ मामलों में इससे समस्या हो सकती है इसलिए यह आवश्यक है कि आप अपने डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें।

अपनी खुशख़बरी साझा न करें - अपने बच्चे को उन लोगों की बुरी नज़र से बचाने के लिए, जो यह खबर सुनकर जलेंगे या उन्हें अच्छा नहीं लगेगा उनसे यह ख़बर साझा न करें। इसलिए गर्भावस्था के पहले तीन महीनों तक आपको यह खुशख़बरी साझा करने की अनुमति नहीं दी जाती है। (वैज्ञानिक रूप से गर्भावस्था के पहले तीन महीने गंभीर होते हैं और भ्रूण के लिए यह समय बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।)

केसर से शिशु का रंग गोरा होगा - जब बात शिशु के रंग की आती है तो गर्भवती मां बहुत चिंतित होती है। यह ड्रामा गर्भवास्था के पहले महीने से शुरू होता है और गर्भवती महिला को शिशु के गोरे रंग के लिए गर्म दूध में केसर मिलाकर पीने को कहा जाता है। और कुछ तो यह सुझाव तक दे देते हैं कि गर्भावस्था के दौरान सिर्फ सफेद खाने की चीजें ही खाए।

सुंदर बच्चे की तस्वीर देखने से आपका शिशु भी सुंदर होगा

खैर आपको यह लगेगा कि ऐसा कैसे हो सकता है, और शोध में भी यह पाया गया है कि शिशु का रंग-रूप माता-पिता पर निर्भर करता है।

अंधेरे में बाहर न निकलें - हो सकता है पड़ोस वाली आंटी आपको छह बजे के बाद बाहर जाता देखकर, आपको फौरन टोक दे। वह ये सुझाव देंगी कि बुरी आत्माओं के आपके शिशु को प्रभावित करने की संभावना है और इसलिए आपको बाहर नहीं जाना चाहिए।

अपने हाथ सीधे अपने सर के ऊपर न उठाएं - खैर यह भी आश्चर्यजनक सुझावों में से एक है और विश्व भर में यह सुझाया जाता है। उनका कहना है कि अगर गर्भावस्था के दौरान आप अपने हाथ सीधे अपने सर के ऊपर उठाती हैं, तो एम्बिकल कोर्ड अपने आप शिशु के गले में लिपट जाता है और इससे शिशु को नुक्सान होता है।

पेट को ज्यादा खुजलाने से शिशु गंजा पैदा होता है - यह एक अन्य सुझाव है जो अधिकतर माताओं को दिया जाता है। खुजली करने से राहत भी महसूस होती है। हालांकि पेट पर खुजली करने से शिशु गंजा तो नहीं होगा लेकिन आपकी त्वचा पर इसका दुष्प्रभाव ज़रूर पड़ेगा। शिया बटर आपको इस समस्या से निजात दिला सकता है।

इतना ही नहीं और भी कुछ मिथ्या समाज में फैले हुए हैं जैसे कि गर्भावस्था के दौरान सांप को देखने से शिशु अंधा पैदा होता है। सूर्यास्त के समय बाहर न जाएं वरना शिशु पर विपदा आती है, गर्भावस्था के दौरान बाल न काटें वरना शिशु का जीवन चक्र कम हो जाता है। ज्यादा दूध पिए ताकि आपके शिशु के लिए पर्याप्त दूध का उत्पादन हो सके। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon