Link copied!
Sign in / Sign up
1
Shares

प्रेगनेंसी में पेनकिलर्स का प्रभाव

 

आजकल के इस भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में लोगों को खुद को फिट रखना इतना आसान नहीं होता, आये दिन लोग किसी न किसी दर्द की शिकायत करते रहते हैं। चाहे सर दर्द हो या बुख़ार, पेट दर्द हो या बदन दर्द लोग पेनकिलर्स का सहारा लेना सबसे आसान समझते हैं। तुरंत राहत देने वाली ये दवाइयां कभी-कभी लोगों की आदत बन जाती है। और किसी भी चीज़ का ज़रूरत से ज़्यादा सेवन या रेगुलर यूज़ सेहत के लिए हानिकारक होता है। भले ही पेनकिलर आपको कुछ वक़्त के लिए आराम देता हो पर क्या आप जानते हैं की यही पेनकिलर आपको अंदर से खोखला बना रहा है और ज़िन्दगी भर के लिए आपका दर्द का कारण बन सकता है।

जब दर्द की दवा ही बन जाये ज़िन्दगी भर के दर्द का कारण, नीचे हैं कुछ पेनकिलर्स से होने वाले भयानक नुकसान जो आपको बना सकता है बीमार।

1. पेनकिलर-गर्भवती महिलाओं के लिए है खतरे की घंटी

गर्भावस्था के दौरान ऐसे ही महिलाओं को डॉक्टर के परामर्श के बिना कोई दवाई नहीं लेनी चाहिए और जब बात पेनकिलर्स की आती है तब तो और सतर्कता बरतनी चाहिए। डॉक्टरों के अनुसार गर्भवती महिलाओं के लिए पेनकिलर लेना सही नहीं होता क्यूंकि इससे माँ और बच्चे दोनों के सेहत को खतरा होता है और कभी-कभी पेनकिलर्स के साइड इफ़ेक्ट से गर्भपात होने का भी खतरा होता है।

2. लिवर को हो सकता है नुकसान

लोग कहते हैं शराब पिने से लिवर ख़राब होता है पर सिर्फ शराब ही नहीं बल्कि ज़्यादा दवाइयों का सेवन करने से भी लिवर की बीमारी हो सकती है। ज़्यादा पेनकिलर खाने से आपकी लिवर में सूजन हो सकती है जिससे आपको भूख लगनी बंद हो जाएगी या आपके पाचन क्रिया में परेशानी आएगी।

3. किडनी फेल

सिर्फ लिवर ही नहीं किडनी की भी बीमारी हो सकती है। लगातार पेनकिलर लेने से किडनी डैमेज होने का खतरा बढ़ जाता है और किडनी फेल होने की तकलीफ का अंदाज़ा लगाना ही कितना कस्टदायक होता है।

4. पेट में अल्सर

पेनकिलर के साइड इफ़ेक्ट में पेट का अल्सर भी शामिल है। पेनकिलर लेने से आपको एसिडिटी जैसे- सीने में जलन, अनपच, उलटी, चक्कर आने जैसी शिकायतें हो सकती है और इसके बाद ही पेट में घाव व् सूजन होने लगती है जो जानलेवा भी हो सकती है।

5. बन सकता है डिप्रेशन का कारण

पेनकिलर न सिर्फ फिजिकली बल्कि आपको मेंटली भी कमज़ोर बनाता है। अगर आप लगातार पेनकिलर यूज़ कर रहे हैं या हल्के दर्द में भी इनका सेवन कर रहे हैं तो सावधान हो जाएँ । ये दवा आपको मानसिक रूप से कमज़ोर बना सकता है। आपकी याददाश्त कमज़ोर हो सकती है, या आपको भ्रम या शक की बीमारी भी हो सकती है। इसके अलावा आप डिप्रेशन के भी शिकार बन सकते हैं।

अब से पेनकिलर्स लेने के पहले इन साइड इफेक्ट्स को ज़रूर याद कर लें , कोशिश करें दर्द को बर्दाश्त करने की और जब तक न बहुत ज़्यादा पेन न हो तब तक पेनकिलर न लें। क्यूंकि, ज़िन्दगी भर के दर्द से बेहतर है कुछ वक़्त का दर्द सह लेना। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon