Link copied!
Sign in / Sign up
2
Shares

प्रेगनेंसी में नट्स खाना कितना सुरक्षित है (Is It Safe To Eat Nuts During Pregnancy In Hindi)

एक अच्छी डायट हमारे शरीर के विकास के लिये बहुत जरुरी है, अगर आप मां बनने वाली हैं तो आपको अपनी सेहत और अपने बच्चे के सही पोषण के लिये हेल्दी डायट को अवश्य शामिल करना चाहिए। फल, हरी सब्जी और इन सबके के अलावा सबसे ज्यादा जरुरी है नट्स यानी की ड्राई फ्रूटस। आइये जानते हैं कि गर्भावस्था में नट्स को किस तरह से खाना चाहिए, और यह कितना सुरक्षित है।

लेख की विषय सूची

क्या गर्भावस्था में नट्स खाना सुरक्षित है (Is It Safe To Have Nuts During Pregnancy in Hindi?)

गर्भावस्था में नट्स खाने के फायदे (Does Eating Nuts During Pregnancy Add Any Nutritional Benefit in Hindi?)

नट्स को अपनी डायट में कैसे शामिल करें (How Should Nuts Be Included In Your Daily Diet in Hindi?)

गर्भावस्था में नट्स खाने को लेकर क्या सावधनियां बरतें (Precautions for Eating Nuts during Pregnancy in Hindi)

चार ऐसे नट्स जो गर्भवती महिला के लिये फायदेमंद होते हैं (Top 4 Nuts for an Expecting Mother in Hindi)

निष्कर्ष (conclusion in Hindi) 

क्या गर्भावस्था में नट्स खाना सुरक्षित है (Is It Safe To Have Nuts During Pregnancy in Hindi?)

प्रेगनेंसी के दौरान मां को हमेशा सबसे ज्यादा चिंता अपनी डायट को लेकर होती है, क्योंकि आप जितना हेल्दी और अच्छा खायेंगी, वह आपके बच्चें के सही विकास में मदद करेगा। इस दौरान अक्सर बहुत सी महिलायें ड्राईफ्रूटस यानी कि नट्स खाने को लेकर चिंतित रहती है। क्योंकि गर्भावस्था में कई तरह की एलर्जी भी हो जाती है, ऐसे में मन में यही सवाल होता है कि नट्स खाने चाहिए या नहीं। क्योंकि इस तरह की एलर्जी बाद में भी शरीर को प्रभावित करती है।

नोट- अगर आपको भी नट्स खाने से किसी तरह की एलर्जी होती है तो नट्स का सेवन ना करें।

गर्भावस्था में नट्स खाने के फायदे (Does Eating Nuts During Pregnancy Add Any Nutritional Benefit in Hindi?)

गर्भावस्था के दौरान अगर आपको नट्स खाने से कोई एलर्जी नहीं है तो आप इनका सेवन कर सकती हैं, क्योंकि नट्स में उचित मात्रा में विटामिन और अनेक पोषक तत्व होते हैं। जो आपके और बच्चे की सेहत के लिये बहुत लाभदायक होते हैं। एक शोध के अनुसार ज्यादातर गर्भावस्था में नट्स खाने की सलाह दी जाती है, क्योंकि यह सेहत के लिये काफी हेल्दी होता है। आइये जानते हैं नट्स खाने के क्या-क्या लाभ हैं।

-एक गर्भवती महिला के संतुलित आहार में लगभग 5 औंस प्रोटीन होना चाहिए। और यूएसडीए के अनुसार, एक नट्स में 2 औंस प्रोटीन होता है।

-नट्स में विटामिन ए और बी काफी अच्छी मात्रा में होता है।

-भ्रूण के विकास के लिये, फॉस्फोरस, पोटेशियम, जिंक, सेलेनियम जैसे तत्व आवश्यक हैं, यह सारे तत्व नट्स में बहुत अच्छी मात्रा में पाये जाते हैं।

-नट्स ब्राउन वसा का एक अच्छा स्रोत हैं।

-यदि आप सोच रही हैं कि गर्भावस्था के दौरान किस तरह के नट्स खाने चाहिए तो आप मूंगफली, बादाम, काजू और अखरोट को अपनी डायट में शामिल कर सकते हैं।

-आप जिन नट्स का उपयोग कर रहे हैं उन्हें ताजा होना चाहिए, जो नट्स लंबे समय तक पैकड किये हुये हो उनका सेवन ना करें।

-ज्यादा दिन के भुने और तले हुये नट्स का सेवन ना करें।

गर्भावस्था के दौरान नट्स एक अच्छा विकल्प हो सकता है। क्योंकि इस समय खाना खाने का मन नहीं होता है ऐसे में आप नट्स को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। लेकिन एक बार इस बारे में डॉक्टर से अवश्य सलाह लें।

[Back To Top]

नट्स को अपनी डायट में कैसे शामिल करें (How Should Nuts Be Included In Your Daily Diet in Hindi?)

प्रेगनेंसी के दौरान नट्स अपनी डाइट में शामिल करने के लिये एक चार्ट बना लें। जैसे कि सुबह के नाश्ते से लेकर रात के डिनर तक आपको किस तरह से नट्स का सेवन करना है। जैसे खुबानी और किशमिश, घर के बने संतरे के रस के साथ आप इन नट्स को खा सकते हैं। इस तरह का नाश्ता फाइबर से भरपूर होता है। काजू को थोड़े से नमक के साथ फ्राई करके भी खाएं यह खाने में तो टेस्टी होता है साथ ही हेल्दी भी और विटामिन-सी से भरपूर ब्रोकोली या शिमला मिर्च को भी अपनी डाइट में शामिल करें।

-अखरोट को भी बच्चे के पोषण के लिये काफी फायदेमंद माना जाता है।

-पिस्ता में कई ऐसे पोषक तत्व होते हैं जो बच्चे के विकास में काफी मदद करते हैं। इसलिये एक या दो पिस्ता जरुर खायें। लेकिन डॉक्टर की सलाह अवश्य लें।

गर्भावस्था में नट्स खाने को लेकर क्या सावधनियां बरतें (Precautions for Eating Nuts during Pregnancy in Hindi)

प्रेगनेंसी  ऐसा समय होता है जब आपको काफी सजग और सचेत रहने की जरुरत होती है। खासतौर से इस समय अपनी डाइट का विशेष ध्यान रखना चाहिए। नट्स जो कि सभी के लिये फायदेमंद होते है, लेकिन नट्स को खाने से पहले कई तरह की बाते ध्यान में रखनी चाहिये। नट्स को खाने से हमें एनर्जी मिलती है, जैसे कि काजू, बादाम, इन्हें आप भिगोकर या फिर ऐसे ही खा सकती हैं। तले हुये नट्स को कम ही मात्रा में खायें। बच्चे के अच्छे विकास के लिये एक मुठ्ठी भर ही नट्स पूरे दिन में काफी है। पैकड, तले हुये नट्स खाने से बचें, क्योंकि इस तरह के नट्स में मिलावट होती है। जो कि हेल्थ के लिये अच्छा नहीं है। काजू, बादाम को खाने के बाद अगर आपको किसी तरह की परेशानी होती है जैसे कि गले में जलन होना, या फिर पेट में दर्द तो इसे मत खाइये क्योंकि हो सकता है कि इससे आपको एलर्जी हो।

[Back To Top]

चार ऐसे नट्स जो गर्भवती महिला के लिये फायदेमंद होते हैं(Top 4 Nuts for an Expecting Mother in Hindi)

1-अखरोट 

अखरोट में ओमेगा 3 उचित मात्रा में होता है, जो कि बढ़ते भ्रूण के लिए जरुरी है। क्योंकि इससे शरीर और मांसपेशियां मजबूत होती है। इस प्रकार के ओमेगा 3 अल्फा-लिनोलेनिक एसिड, या एएलए में मौजूद है। यह बहुत फायदेमंद पोषक तत्व हैं जो कि अखरोट में पाये जाते हैं। ओमेगा 3 एक वसा पदार्थ है जो शरीर अपने आप नहीं बना सकता है, इसलिए आपको इसे अपनी डाइट में लेना चाहिए। इसलिए अखरोट महत्वपूर्ण तत्व होता है। गर्भावस्था के दौरान अखरोट खाने की सलाह दी जाती है।

2-हैजलनट्

प्रेगनेंसी में फॅलिक एसिड प्राप्त करना बहुत जरुरी होता है, इसलिये आपको अपनी डाइट में यह शामिल करना चाहिए। हेजलनट् में फोलेट भी अच्छी मात्रा में होता है। फोलेट अच्छी प्रतिरक्षा प्रदान करता है और जन्म दोषों की संभावनाओं को कम करता है। हेजलनट में फोलेट की 3-औंस की मात्रा होती है। जो कि गर्भवती महिला की डाइट के लिये पर्याप्त है। इसलिए, हेज़लनट गर्भावस्था के लिए अच्छा माना गया है। इसके अलावा, हेज़लनट में फाइबर, प्रोटीन और विटामिन ई की सही मात्रा होती है।

3-काजू

काजू के लगभग 3 औंस की जरुरत रोज़ाना शरीर को होती है। काजू में जिंक तत्व भी पाया जाता है जो कि विशेष रूप से बढ़ते बच्चे के लिये जरुरी होता है। एक गर्भवती महिला को अपनी डाइट में 11 मिलीग्राम जिंक शामिल करना चाहिए। काजू में यह तत्व उचित मात्रा में पाया जाता है।

4-बादाम

बादाम जो कि हर उम्र के व्यक्तियों की सेहत के लिये अच्छा माना जाता है। खासतौर से गर्भवती महिलाओं के लिये यह बेहद लाभदायक होता है। बादाम को रातभर पानी या दूध में भिगो कर खा सकते हैं। साथ ही नाश्ते में रोज दो बादाम लेना भी सेहत के लिये काफी अच्छा होता है।

निष्कर्ष (conclusion in Hindi)

गर्भावस्था में बहुत सावधानी बरतने की जरुरत होती है, अगर आप नट्स खा रही हैं तो ध्यान रहें बहुत ज्यादा इसका सेवन ना करें। एक उचित मात्रा में ही खायें और अगर आपको इससे एलर्जी है तो नट्स को खाने से बचें।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon