Link copied!
Sign in / Sign up
14
Shares

प्रेगनेंसी हारमनी बॉल : जानिए इसे पहनने के फायदे


प्रेगनेंसी हारमनी बॉल

सदियों से बाली और मयान संस्कृतियों में गर्भवती औरतें इस हारमनी बॉल को पहनती आ रहीं है, क्योकि यह माना जाता है कि यह सिर्फ न माँ को बल्कि अजन्मे बच्चे को भी शांत और खुश रखता है | बदकिस्मती से पश्चिमी सभ्यता अपने तर्कों के माध्यम से प्रेगनेंसी में हारमनी बाल के होने वाले प्रभाव को नहीं मानता | उनका मानना है कि अजन्मे बच्चा जो गर्भाशय की गर्मी और आराम में हो तो उसे और शांत रखने की कोई ज़रूरत नहीं है | उनका मानना है कि तनाव की शुरुआत तो जन्म के बाद से होती है |

अगर ऐसी बात है तो पता करतें है उन लाभों का ,जो प्रेगनेंसी में हारमनी बॉल पहनकर मिलता है | जानतें है क्यों बाली और मयान सभ्यता में प्रेगनेंट औरतें सदियों से हारमनी बॉल पहनतीं आ रहीं है ?

प्रेगनेंसी और प्रेगनेंसी के बाद हारमनी बॉल पहनने के फायदे

गर्भवती औरते हारमनी बॉल को लम्बे चेन से पहनकर रखती है ताकि उसका आखरी सिरा उनके बढे हुए पेट पर लगा रहे | जब माँ अपने दिन भर के काम करती है तो लगातार एक मधुर ध्वनि इस हार्मोनी बाल से आती रहती है | यह मीठी और हल्की ध्वनि गर्भ तक पहुँचती है |

एक अजन्मे बच्चे में 20 सप्ताह के बाद सुनने की शक्ति आ जाती है | ऐसे में आपका होने वाला बच्चा न सिर्फ आपकी मीठी आवाज़ सुनता है, बल्कि हारमनी बॉल की मधुर झंकार भी सुन पाता है | साथ साथ वह और भी बाकि आवाज़े सुनता है ,पर जब आस पास माहौल शांत होता है ,तब बच्चा हारमनी बाल की मधुर झंकार सुनता है ,जब भी उसकी माँ कुछ भी करती है और उसका शरीर गति करता है | जब भी वह घर के काम कर रही हो ,साधारण सी गति भी, जब उसकी माँ सोफे से चाय बनाने को उठे ,जब वो सुपर मार्किट में हो या एक शांत गली से गुज़र रही हो ,हर बार आपका अजन्मा बच्चा हारमनी बॉल की मधुर ध्वनि सुनता है | अपनी माँ के आवाज़ के अलावा हारमनी बाल की आवाज़ ही वह आवाज़ है जिसे आपका बच्चा लगातार सुनता है | (सॉरी डैड )

बच्चे के जन्म के बाद हारमनी बॉल पहनने के फायदे

हारमनी बाल पहनने का वास्तविक फायदा स्तनपान कराने के समय होता है | नवजात बच्चों की सबसे बड़ी जरुरत दूध पीने की होती है | गर्भाशय के आराम और गरमाई से निकलने का बाद खुद से दूध पीना आपके बच्चे के लिए तनावपूर्ण हो सकता है और जिससे आपको भी तकलीफ हो सकती है | स्तनपान कराना माँ और बच्चे के लिए एक खूबसूरत अहसास होता है पर कभी कभी यह समय तनावपूर्ण भी हो सकता है |

बच्चे के जन्म के बाद माता अपने हारमनी बाल के चेन की लम्बाई छोटी कर लेती है ताकि वो अब सिर्फ उसके स्तन के क्षेत्र में बना रहे | जब माँ बच्चे को दूध पिलाती है और हल्के से हिलाती है, तो हारमनी बॉल की मधुर ध्वनि बच्चे को सुनाई पड़ती है , यह अब आपके बच्चे के लिए जानी पहचानी आवाज़ होती है जिसे उसने गर्भ से सुना होता है | माँ की मधुर आवाज़ और हारमनी बाल की जानी पहचानी आवाज़ बच्चे को शांत कर देती हैं | जैसे हम सब भी अपने जाने पहचाने माहौल में आरामदायक महसूस करतें है ,वैसे ही बच्चा भी अपने जाने पहचानी आवाज़ों के साथ अच्छा महसूस करता है |

जैसे बच्चा थोड़ा बड़ा होता है, तो उसके नन्हें हाथ मम्मी के गले में लटकते चमकते चीज़ को छूने और उससे खेलने लगतें है और फिर उससे निकलती जानी पहचानी आवाज़ के वह मज़े लेने लगता है | बच्चा शांत और खुश रहता है तो उसकी माँ भी शांत रहती है | कितने सारे तनाव जो कुछ माओं को स्तनपान के दौरान महसूस होते है ,इस उपाय के साथ उनका ध्यान रखा जा सकता है | जरूरी नहीं है कि हर अवसर पर, लेकिन अक्सर एक अच्छे लाभ के लिए यह तरीका पर्याप्त है | समय गुज़रता है और माएँ हारमनी बॉल को पहनना बंद कर देंती है | कभी कभी माएँ इसे बाहर निकाल कर ,इसे बच्चे के सामने हिलाती है ताकि बच्चा खुश और शांत हो जाये | बालनिस सभ्यता में हारमनी बाल का सिद्धांत एक धरोहर की तरह एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को सौपीं जाती है |

हारमनी बाल बहुत सारे डिज़ाइन में आतें है | इनमे से तो कई जेमस्टोन के साथ स्टर्लिंग सिल्वर के बने होतें है | यह गहने का एक खूबसूरत रूप है | आपको इस खूबसूरत गहने को पहनने के लिए प्रेगनेंट होने के कारण ढूंढने की जरुरत नहीं है | हारमनी बॉल का बर्थस्टोन के साथ आना आपके लिए एक नया विकल्प भी देता है | होने वाली माँ अपने जन्म तिथि अनुसार बर्थस्टोन हारमनी बॉल ले सकतीं है | बच्चे की संभावित जन्म तिथि के अनुसार बर्थस्टोन हारमनी बॉल ले सकतीं है | इसे आप अपने बच्चे के जन्म की यादगार धरोहर की तरह रख सकतीं है और अपने बच्चे को दे सकती है और बच्चा अगर बेटा हो तो बाद में वो अपनी बच्ची या अपनी बहु को दे सकता है ,और ऐसे यह घर की परंपरा का हिस्सा बन जाता है |

बालनिस और मयान संस्कृति में गर्भवती माओं से बच्चे को जो फायदे सदियों से एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को पहुँचाया जा रहें है ,उसका महत्व एक दिन पश्चिमी सभ्यता भी समझ जाएगी |नवजात शिशु और थोड़े बड़े बच्चे की माएँ पीढ़ी दर पीढ़ी , सदियों से वो तरकीब खोजने में जुटी हैं , जिससे वो अपने बच्चे को शांत और खुश रख सके| हम इसके लिए शांत करने करने वाले खिलौने ,झुनझुने ,संगीत ,झुला जैसे कई उपाय आज़मातें हैं और इन चीज़ों को अगर एक साथ मिलाएं तो हारमनी बाल में यह सारे गुण हमें एक साथ मिल जातें हैं | 

इस पोस्ट को ज़रूर शेयर करें और माँ बनने वाली महिलाओं को हारमनी बॉल पहनने के फायदे बताएं, क्योंकि उन्हें आपकी सहायता की ज़रूरत है!

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon