Link copied!
Sign in / Sign up
19
Shares

फिर शर्मसार हुई इंसानियत... 8 महीने की बच्ची के साथ जो हुआ..जानकर दहल जाएंगे


एक बार फिर दिल्ली में एक हैवानियत भरी घटना सामने आई है जिससे हर किसी का दिल दहल जाए। एक ओर जहां अपनो पर लोग आंख बंद करके भरोसा करते हैं तो वहीं दूसरी ओर यहां अपनो ने ही ऐसा गुनाह कर डाला जिसे जानकर आप सहम जाएंगे।

जी हां...यह मामला है दिल्ली की शकूरबस्ती इलाके का जहां एक आठ महीने की बच्ची के साथ यौन शोषण की बात सामने आई है। यह मामला है इसी रविवार का जहां बच्ची की मां जब काम पर से लौटी तो उसने पाया कि उसकी नन्हीं सी जान बेहद नाज़ुक हालत में है।

जैसे ही मां ने बच्ची की हालत देखी उसे तुंरत अस्पताल भर्ती कराया गया। पीड़ित बच्ची की हालत नाजुक बताई जा रही है, वह अस्पताल में भर्ती है। कलावती सरन अस्पताल में उसे वेंटिलेटर पर रखा गया है।

आपको बता दें कि बच्ची का पूरा परिवार दिल्ली के शकूरपुर बस्ती इलाके में रहता है और मां घरों में साफ-सफाई का काम करती है तो वहीं पिता मजदूरी करके घर का गुज़ारा करते हैं। जैसे ही घटना का पता चला तुरंत पुलिस को इत्तेला किया गया।

पुलिस सुत्रों के मुताबिक, रविवार को बच्ची की मां अपने रिश्तेदार के भरोसे अपनी बच्ची को छोड़कर सुबह काम पर निकल गई थी। वहीं मां के निकलने के थोड़ी देर बाद ही बच्ची के पिता भी अपने काम पर निकल गए थे। वहीं जब मां घर लौटी तो पाया कि बच्ची के प्राइवेट पार्ट से खून निकल रहा था और बच्ची लगातार रो रही थी।

पुलिस ने बताया कि बच्ची की मां बलात्कार करने वाले युवक की मां के पास अपनी बच्ची को छोड़कर गई थी। वही, आरोपी बच्ची के साथ खेलने के बहाना उसे टॉप फ्लोर पर ले गया और इस घिनौने काम को अंजाम दिया।

आपको बता दें कि आरोपी ने उसका मुंह दबा रखा था, ताकि बच्ची के रोने-चिल्लाने की आवाजें बाहर न पहुंचें। बताते चलें कि जैसे ही बच्ची के साथ हुए यौन शोषण की घटना के बारे में पता चला तो पुलिस ने फौरन जांच शुरू की और जब पुलिस ने शुरुआती पूछताछ की तो आरोपी ने अपने गुनाह को ना कुबूल किया बल्कि बाद में वहां से फरार भी हो गया। 

आरोपी के फरार होने से ही पुलिस का शक गहराया और उसे किसी तरह गिरफ्तार कर लिया गया। बताया जा रहा है कि युवक ने शराब के नशे में यह घिनौनी हरकत की है। पुलिस के मुताबिक आरोपी अविवाहित है। वहीं आईपीसी की धाराओं और पॉक्सो ऐक्ट के तहत सुभाष पुलिस स्टेशन में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है। 

वहीं, दिल्ली महिला आयोग की मुखिया स्वाति मालीवाल का कहना है कि वह घटना से काफी शॉक में हैं कि कैसे बच्चियों की आवाज अनसुनी की जा सकती है। उन्होंने बताया कि 8 महीने की बच्ची की 3 घंटे तक सर्जरी हुई। इसके अलावा बच्ची के प्राइवेट पार्ट में चोटें आईं हैं। बच्ची लाइफ सपोर्ट सिस्टम पर है। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon