Link copied!
Sign in / Sign up
16
Shares

पहली गर्भावस्था से दूसरी गर्भावस्था में क्या बदलाव?


आपकी पहली गर्भावस्था की यादें आपके दिल में हमेशा के लिए कैद रहती हैं और जीवन भर के लिए एक अच्छी याद बन कर रह जाती हैं| आपको उससे जुडी हर बात याद रहेगी, हर एक किक से लेकर दर्द और हिचकियाँ तक| उसी तरह अपनी दूसरी गर्भावस्था की भी यादों को समेट कर रखना ज़रूरी है| आप सोचेंगी की एक बार गर्भवती होने के बाद आपकी दूसरी गर्भावस्था आसान होगी, ये बात कुछ हद तक सही है|

नीचे हम आपको दूसरी गर्भावस्था की तैयारी की कुछ टिपणियां देना चाहते हैं:

 

 

मतली

अगर आपने पहली गर्भावस्था के समय मतली महसूस की थी तो चांस है की दूसरी गर्भावस्था के समय भी आपको मतली महसूस होगी| लेकिन इस समय आपको अच्छा महसूस कराने के लिए आपकी पहली संतान आपके पास है तो आपका ध्यान उसमें उलझा रहेगा| आपका दिन चाहे कितना भी अच्छा ना गुज़रा हो मगर आपको अपने छोटे बच्चे के होने की तसल्ली रहती है|

यूटेरस

आपका यूटेरस पहले गर्भावस्था के समय से गुज़र चूका है, इस समय आपके शरीर को दूसरी गर्भावस्था के लिए तैयार होने में आसानी होगी और आपका यूटेरस सिकुड़ कर अपने असली आकार में वापस नहीं आएगा और इस कारण आपकी दूसरी गर्भावस्था में उतनी तकलीफें नहीं आएँगी जितना की पहली बार में आयी थीं| इस समय लोगों को आपके गर्भवती होने का जल्दी पता चल जाएगा क्योंकि उन्हें आपका बढ़ता हुआ पेट शीघ्र नज़र में आजायेगा|

 

 

फीटल मूवमेंट(गर्भ में बच्चे की हरकतें)

इस समय आपको अपने गर्भव में बच्चे की हरकतें जल्दी महसूस होंगी, ये इसलिए नहीं क्योंकि आप या आपका आने वाला बच्चा कुछ अलग कर रहे हैं बल्कि इसलिए क्योंकि आपने पहली गर्भावस्था के समय फीटल मूवमेंट महसूस कर्ली थी और इस समय आपको समझ में आजायेगा की कोनसी हरकतें बच्चे की है और कोनसी प्राकृतिक|

थकान

क्योंकि इस बार आपको अपने पहले बच्चे की देख भाल करनी होगी, ये आपको काफी थका हुआ महसूस करा सकता है| थकान के कारण आपको अस्वस्थ खाना खाने का दिल करेगा लेकिन ऐसे खाने आपको जितना भी ललचाये उनसे दूर रहें| इससे बचने का एक रास्ता है घर में ढेर सारा स्वस्थ खाना रखना, इससे आगर आपको कुछ अस्वस्थ खाने का दिल करेगा तो आप उन स्वस्थ खाने को खाएंगी क्योंकि उस समय घर में उसके इलावा और कुछ मौजूद नहीं होगा|

दर्द

गर्भावस्था के समय रिलैक्सिन हॉर्मोन काफी एक्टिव रहता है| ये हॉर्मोन आपके जॉइंट्स को जल्दी रिलैक्स करदेता है और इस कारण आपको अधिक दर्द होता है| पहली गर्भावस्था में त्वचा के खींचाने के कारण इस समय आपका बच्चा पेट के नीचले हिस्से में स्तिथीत हो सकता है जिसकी वजह से आपको पीठ दर्द और कमर दर्द हो सकता है|

आसान लेबर

पहले बच्चे को जन्म देते समय जितनी भी पुशिंग आपको करनी पड़ी थी इस वक़्त सब आसान हो जाएंगी| ये इसलिए क्योंकि आपका शरीर पहले एक बच्चे को जन्म दे चूका है और उन सभी दर्दनाक स्तिथि से गुज़र चूका है और अब आपका यूटेरस और सर्विक्स इस काम के लिए अच्छे से तैयार हैं|

 

 

बच्चे को जन्म देने के बाद की तकलीफ़

दूसरे बच्चे को जन्म देने के बाद आपका यूटेरस आपकी ब्लीडिंग रोकने की अपनी पूरी कोशिश करता है और इस कोशिश में यूटेरस के दबाव के कारण आपको पेट में काफ़ी दर्द हो सकता है|

हम आशा करते हैं की ये जानकारी आपके काम आये साथ ही इस पोस्ट को शेयर कर के इस जानकारी को दूसरी महिलाओं तक भी पहुंचाएं!

 

 

हेलो मॉम्स,

हम आपके लिए एक अच्छी खबर ले कर आये हैं।

Tinystep आपके और आपके बच्चों क लिए प्राकृतिक तत्वों से बना फ्लोर क्लीनर ले कर आया है! क्या आपको पता है मार्किट में मिलने वाले केमिकल फ्लोर क्लीनर आपके बच्चे के लिए हानिकारक है?

Tinystep का प्राकृतिक फ्लोर क्लीनर आपको और आपके बच्चों को कीटाणुओं और हानिकारक केमिकलों से दूर रखेगा। आज ही आर्डर करें - http://bit.ly/naturalfc

Click here for the best in baby advice
What do you think?
100%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon