Link copied!
Sign in / Sign up
0
Shares

कितना सुरक्षित है गर्भावस्था में स्ट्राबेरी खाना (Is It Safe To Eat Strawberry During Pregnancy In Hindi)

      

मां बनने का एहसास बहुत ही सुखद होता है, जब आपको यह मालूम चलता है कि आप मां बनने वाली हैं। तो आप पहले से और भी सचेत हो जाती है, गर्भावस्था के समय यह चिंता रहती है कि क्या खायें, क्या नहीं खासतौर से फलों को लेकर क्योंकि इस समय कुछ ऐसे फल होते हैं जिनको ना खाने की सलाह दी जाती है।

          

स्ट्राबेरी एक ऐसा फल है जो स्वाद में तो बहुत ही टेस्टी होता है साथ ही देखने में भी। क्या आप जानते हैं की वे कौन सा फल है? हम बात कर रहे हैं स्ट्राबेरी की जिसको लेकर काफी मिथ हैं कि स्ट्राबेरी खाये या नहीं। आइय़े जानते हैं स्ट्राबेरी को किस तरह से गर्भावस्था के दौरान खाना चाहिए।

लेख की विषय सूची (Table of Content in Hindi)

स्ट्राबेरी का पोषण मूल्य (Nutrient value of strawberry in Hindi)

स्ट्राबेरी प्रेगनेंसी में खाना सुरक्षित है या नहीं (Eating Strawberry during Pregnancy Safe or Not in Hindi)

स्ट्राबेरी के फायदे जो कि आपके लिये काफी अच्छे है (Strawberry Benefits That Will Make Your Day in Hindi)

प्रेगनेंसी में स्ट्राबेरी खाने की सलाह (Recommended fruit for pregnancy in Hindi )

फाइबर से भरपूर (Rich in fiber in Hindi)

स्ट्राबेरी प्रेगनेंसी में कैसे खाये (How to consume strawberry during pregnancy in Hindi ?)

फलों का सलाद (Fruit salad in Hindi)

स्मूथी (Smoothes in Hindi) 

ब्रेकफास्ट रेसिपी ओटस (Breakfast recipe with oats in Hindi)

निष्कर्ष (Conclusion in Hindi)

स्ट्राबेरी का पोषण मूल्य (Nutrient value of strawberry in Hindi)

स्ट्रॉबेरी सबसे अच्छे स्वाद वाले फलों में से एक है जिसके तत्व और रंग लगभग हर मिठाई में डाले जाते हैं। इस फल में अच्छे एंटीऑक्सिडेंट्स होते हैं, हालांकि यह मीठा है, लेकिन कम वसा होती है और स्ट्रॉबेरी में कैलोरी नहीं होती है। इसलिये यह वजन कम करने के लिये भी लाभदायक मानी गयी है।

लगभग 150 ग्राम स्ट्रॉबेरी का पौष्टिक मूल्य यहां दिया गया है:

स्ट्राबेरी अच्छा कोलेस्ट्रॉल बढ़ाती है और आपको हृदय रोगों के साथ-साथ कैंसर से भी बचाव प्रदान करती है। यह छोटा मीठा फल विटामिन, फाइबर, और पोटेशियम और मैंगनीज जैसे अन्य महत्वपूर्ण खनिजों का एकदम सही संयोजन है। स्ट्रॉबेरी गुलाब परिवार से संबंधित है और तोड़े जाने के बाद स्ट्राबेरी पकाते नहीं हैं इसे एक सप्ताह तक स्टोर करके रख सकते हैं।

[Back To Top]

स्ट्राबेरी प्रेगनेंसी में खाना सुरक्षित है या नहीं (Eating Strawberry during Pregnancy Safe or Not in Hindi)

जब आप माँ बनने वाली होती है, उस समय कई तरह की सावधानियां बरतने की जरुरत होती है। गर्भावस्था के दौरान कई तरह के फलों को ना खाने की सलाह दी जाती है जैसे पपीता, पाइनएप्पल आदि। यहां हम स्ट्रॉबेरी के बारे में बात कर रहे हैं, यह एक ऐसा फल है जिसका उपयोग कई तरह की रेसिपी में भी किया जाता है। जैसे कि कस्टर्ड, स्मूथी आदि, गर्भावस्था में स्ट्राबेरी खाने को लेकर कई तरह की चिंता होती है, यहां पर हम यह बतायेगें कि किस तरह से स्ट्राबेरी का सेवन करना चाहिए।

- स्ट्राबेरी एक ऐसा फल है जो कि मीठा तो होता है लेकिन इसमें कैलोरी नहीं होती है, इसे आप दूध के साथ मिलाकर कोई भी डेसर्ट यानी कि मिठाई बना सकते हैं।

- स्ट्राबेरी खरीदने से पहले या जांचना जरुरी है कि यह नकली तो नहीं है क्योंकि नकली स्ट्राबेरी हार्मोनल बदलाव करती है। साथ ही यह आपके बच्चे के लिये सुरक्षित नहीं है।

- स्ट्राबेरी ऐसी जगह से ही खरीदें जहां पर स्ट्राबेरी की खेती हो, क्योंकि ऐसे बहुत से फार्म है जहां स्ट्राबेरी की अच्छी पैदावार होती है। या फिर अगर आप सुपरमार्केट से स्ट्राबेरी खरीद रही हैं तो इसकी गुणवत्ता की जरुर जांच कर लें।

- स्ट्राबेरी जेली, स्कैश, आइसक्रीम, सिरप का सेवन करने से बचें, क्योंकि इसमें बहुत हद तक मिलावट होती है। घर पर ही स्ट्राबेरी से ऐसी कई तरह की रेसिपी बना सकती है।

-स्ट्राबेरी जिसमें कि किसी तरह के पैच हैं तो इसका सेवन ना करें, क्योंकि यह खराब हो सकती है जो कि आपकी हेल्थ के लिये नुकसान दायक है।

- गर्भावस्था के दौरान स्ट्रॉबेरी खाने से पहले यह ध्यान रखें कि आपको कहीं किसी फल या सब्जी से एलर्जी तो नही है। डॉक्टर से ऐसी एलर्जी के बारे में जानें। अपने शरीर में एंटीबॉडी और एंटीजन प्रतिक्रिया के लिए जांच अवश्य करायें।

स्ट्राबेरी के फायदे जो कि आपके लिये काफी अच्छे है (Strawberry Benefits That Will Make Your Day in Hindi)

स्ट्राबेरी के कुछ ऐसे फायदे हैं जो कि गर्भावस्था के लिये काफी अच्छे और सुरक्षित है। हम उन फायदों के बारे में बतायेगें जो कि आपकी हेल्थ के लिये भी फायदेमंद हैं।

एंटी ऑक्सीडेंट:

एंटी-ऑक्सीडेंट होने के नाते, यह आपको रासायनिक प्रतिक्रियाओं के कारण आंतरिक क्षति से बचाता है। न केवल चयापचय, बल्कि यह आपके बच्चे को उसके अनुवांशिकता में किसी भी बदलाव या अस्वास्थ्यकर परिवर्तन से भी बचाता है।

कम कैलोरी शुगर:

स्ट्रॉबेरी में ग्लूकोज की बजाय फ्रक्टोज़ होता है, जो शरीर से वसा अणुओं को खत्म करने में मदद करता है। यह आपके शरीर को कोई भी अतिरिक्त वसा, कैलोरी या कोई हानिकारक पदार्थो से नहीं जोड़ता है। अगर आप कम मात्रा में स्ट्राबेरी खायेंगी तो भी आपको एनर्जी महसूस होगी।

[Back To Top]

स्ट्रॉबेरी के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि गर्भवती महिलाओं को इस फल को खाने की सलाह दी जाती है। अगर आपको जन्मजात दृष्टि की समस्या है या आपने आँखों का कोई ऑपरेशन करवाया है तो आपको गर्भावस्था के दौरान स्ट्रॉबेरी खानी चाहिए। क्योंकि इसमें भरपूर मात्रा में विटामिन होता है, जो आंखों के लिये काफी अच्छा है, साथ ही आपके बच्चे के लिये किसी भी तरह की आंखो से संबधित समस्याओं से बचाव करता है।

फाइबर से भरपूर(Rich in fiber in Hindi)

गर्भावस्था के दौरान स्वस्थ पाचन तंत्र जरूरी है। स्ट्राबेरी में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जो कि पेट के लिये काफी अच्छा होता है। रात को खाने के बाद एक स्टाबेरी जरुर खायें इससे पाचन क्रिया बेहतर होगी।

स्ट्राबेरी प्रेगनेंसी में कैसे खाये (How to consume strawberry during pregnancy in Hindi ?)

फलों का सलाद (Fruit salad in Hindi)

प्रेगनेंसी में स्ट्राबेरी को आप फ्रूट चाट या सलाद बनाकर खा सकती हैं, जैसे कि स्ट्राबेरी, अंगूर, सेब में के साथ मिलाकर खा सकती है। इसके अलावा दूध के साथ कस्टर्ड बनाकर भी सही मात्रा में खायें।

स्मूथी(Smoothes in Hindi)

स्मूथी ऐसी ड्रिंक है जो कि बच्चों की भी पंसदीदा होती है, अगर आप स्ट्राबेरी स्मूथी बना रही हैं तो दूध और स्ट्राबेरी को सही अनुपात में लेकर स्मूथी बनाये।

[Back To Top]

स्ट्राबेरी नाश्ते में ओट्स के साथ(Breakfast recipe with oats in Hindi)

ओट्स जो कि काफी फायदेमंद होता है, नाश्ते में ओट्स, दूध और ताजी स्टाबेरी काफी फायदेमंद होती है। यह गर्भावस्था के दौरान स्ट्राबेरी खाने का काफी अच्छा तरीका है।

निष्कर्ष (conclusion in Hindi )

गर्भावस्था के दौरान संतुलित डाइट लेना बहुत जरुरी है, क्योंकि इस दौरान कई तरह की एलर्जी भी हो सकती है। जिसका असर आपके बच्चे पर भी हो सकता है, इसलिये अगर कोई फल या सब्जी खाने से किसी तरह की दिक्कत होती है तो अपने डाक्टर से अवश्य सलाह लें।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon