Link copied!
Sign in / Sign up
8
Shares

किडनी संक्रमण: इसके कारण, लक्षण और उपचार (Kidney Infections: Causes, Symptoms And Treatments In Hindi)

हमारे शरीर के ऐसे कई अंग है जो कि शरीर के संचालन के लिये बहुत आवश्यक हैं जैसे कि गुर्दा, इस अंग का कार्य शरीर की गंदगी को साफ और खत्म करना है। गुर्दे यानी कि किडनी जो आपके शरीर से यूरिन बाहर निकालने की सुविधा प्रदान करता है। यूरिन को बनाने वाले सभी अंगों को पूरा संचालन करने का कार्य किडनी का होता है। इस लेख में, हम किडनी इंफेक्शन के बारे में बतायेगें जो कि पायलोनफ्राइटिस के रूप में भी जाना जाता है। यह एक ऐसी बीमारी है जिसका असर पूरी तरह से शरीर पर पड़ता है, इस इंफेक्शन से निपटने के लिये इसके लक्षणों की पहचान करना बहुत जरुरी है। आइये जानते हैं पायलोनफ्राइटिस क्या है, इसका उपचार और रोकथाम कैसे की जाये।

लेख की विषय-सूची

‣ पायलोनफ्राइटिस क्या है (what is ‘Pyelonephritis’ in Hindi?)

‣ किडनी इंफेक्शन के कारण (Kidney Infection Causes in Hindi)

‣ किडनी इंफेक्शन के लक्षण (Kidney Infection Symptoms in Hindi)

‣ किडनी इंफेक्शन के लक्षण महिलाओं मे (Kidney Infection Symptoms in Women in Hindi)

‣ किडनी इंफेक्शन का उपचार (Kidney Infection Treatment in Hindi)

‣ निष्कर्ष (conclusion in Hindi)

‣ पायलोनफ्राइटिस क्या है (what is ‘Pyelonephritis’ in Hindi?)

किडनी इंफेक्शन के लिए 'पायलोनेफ्राइटिस' दूसरा नाम है। यह ऐसा संक्रमण है जो कि यूरिन के रास्ते से होता है, साथ ही मूत्राशय और किडनी को संक्रमित करने के लिए फैलता है। इस तरह का इंफेक्शन बेहद हानिकारक होता है और किडनी इंफेक्शन का अगर जल्द इलाज किया जाये तो ही इसकी रोकथाम की जा सकती है। समय रहते इलाज नहीं करने पर इसके भयंकर परिणाम होते हैं।

‣ किडनी इंफेक्शन के कारण (Kidney Infection Causes in Hindi)

किडनी इंफेक्शन को जानने के लिये इसकी जांच सबसे ज्यादा जरुरी है, क्योंकि इस तरह के इंफेक्शन में दो अलग-अलग इंफेक्शन होते हैं।

‣ पहले संक्रमण: गुर्दे संक्रमण का आम कारण एक संक्रमित मूत्राशय है। संक्रमण आमतौर पर मूत्राशय से गुर्दे तक फैलता है। एक बैक्टीरिया जिसे 'ई' कहा जाता है। कभी-कभी गुर्दे की सर्जरी से गुजरने वाले मरीजों के गुर्दे संक्रमित हो जाते हैं। इसके अलावा किडनी का कोई भी इंफेक्शन इसका कारण बन सकता है।

बाहरी पर्यावरण: किडनी इंफेक्शन का एक कारण प्रदूषण भी है, जब भी हमारे पर्यावरण में किसी तरह का प्रदूषण होता है। तो कई तरह के बैक्टीरिया पनपते हैं जिसमें कि कुछ ऐसे बैक्टीरिया हैं जो कि किडनी के लिये हानिकारक होते हैं। किडनी इंफेक्शन के इन कारणों के अलावा ऐसे बहुत से कारण है जो कि पायलोनफ्राइटिस बढ़ावा देते हैं आइये जानते हैं ऐसे क्या कारण हैं जिनकी वजह से यह संक्रमण फैलता है। 

‣ अगर आपका यूरिन रुक जाता है, तो यह एक समस्या है, कई अलग-अलग कारणों से यूरिन का रास्ता अवरुद्ध हो जाता है

‣ ऐसे कई विकार होता हैं जो कि मूत्राशय को खाली करने से रोकती है

‣ यूरिन रास्ते के बनावट में कमी

‣ अन्य पी संबंधित विकार

‣ क्षतिग्रस्त मूत्राशय (तंत्रिका क्षति)

‣ कमजोर प्रतिरक्षा प्रणाली

‣ टाइप 2 मधुमेह

‣ कैथेटर का लगातार उपयोग

[Back To Top]

‣ किडनी इंफेक्शन के लक्षण (Kidney Infection Symptoms in Hindi)

किडनी इंफेक्शन के लक्षण ज्यादातर सामान्य होते हैं, लेकिन इन लक्षणों को गंभीरता से लें। अगर समय रहते ही किडनी इंफेक्शन की जांच और उपचार किया जाये तो इसकी रोकथाम की जा सकती है।

‣ यूरिन में ब्लड या पस आना, या फिर जलन होना

‣ बुखार

‣ सर्दी

‣ भूख की कमी

‣ ग्रोन क्षेत्र के आस-पास दर्द होना

‣ उल्टी महसूस होना

‣ थकान होना

‣ बार-बार यूरिन होना

‣ यूरिन से विशेष तरह की गंध आना

‣यूरिन को नियंत्रित नहीं कर पाना

[Back To Top]

‣ किडनी इंफेक्शन के लक्षण महिलाओं मे (Kidney Infection Symptoms in Women in Hindi)

महिलाओं में किडनी इंफेक्शन के लक्षण सामान्य होते हैं लेकिन महिलाओं की आंतरिक अंगों की बनावट की वजह से इन लक्षणों का पता आसानी से लगा सकते हैं। एक शोध के अनुसार गर्भवती महिलाओं में किडनी के इंफेक्शन के लक्षण अधिक देखने को मिलते हैं। प्रेगनेंसी के दौरान हर महिला को सर्तक रहने की आवश्यकता होती है।

‣ जलन महसूस होना लेकिन यूरिन का नहीं होना

‣ यूरिन का बार-बार महसूस होना

‣ बुखार

‣निचले हिस्से या साइड-बैक या ग्रोन क्षेत्र के आसपास दर्द

‣पेट में अत्यधिक दर्द

‣ उल्टी महसूस होना

‣यूरिन के साथ ब्लड या पस का आना

[Back To Top]

‣ किडनी इंफेक्शन का उपचार (Kidney Infection Treatment in Hindi)

किडनी इंफेक्शन के किसी भी लक्षणों को अनदेखा नहीं करे, अगर आपको किसी भी तरह के ऐसे लक्षण दिखाई दे रहें तो जांच करवाये। अगर समय रहते ही इस बीमारी का इलाज किया जाये तो काफी हद तक आप किडनी इंफेक्शन से छुटकारा पा सकते हैं।

‣ दवा: किडनी इंफेक्शन के रोगियों को दवा से काफी हद तक ठीक किया जा सकता है। डॉक्टर आपको एक हफ्ते तक एंटीबायोटिक्स खाने की सलाह देते हैं। लेकिन दवा की समय अवधि गुर्दे संक्रमण के लक्षणों की गंभीरता पर निर्भर करती है। छोटे से किडनी इंफेक्शन को सही इलाज से सही किया जा सकता है।

‣ अस्पताल उपचार: गुर्दे संक्रमण के अधिक गंभीर मामलों में रोगी को कुछ समय के लिए अस्पताल में भर्ती होने की आवश्यकता होगी। अस्पताल में रहने की अवधि रोगी पर ही निर्भर करती है कि रोगी उपचार कैसे लेता है। अस्पताल में, रोगी को मूल रूप से कई इंजेक्शन और अच्छी दवा के साथ इलाज किया जाता है।

‣ सर्जरी: गुर्दे संक्रमण के कारणों में से एक मूत्र पथ का संरचनात्मक बनावट है। ऐसे मामलों में, डॉक्टर को भी काफी सचेत रहने की जरुरत होती है, क्योंकि सर्जरी करने में भी काफी सावधानी बरतनी पड़ती है।

‣ घरेलू उपचार: महिलाओं के लिये कुछ ऐसे घरेलु उपचार हैं जिनसे काफी हद तक दर्द पर काबू किया जा सकता है। लेकिन किसी भी उपचार से पहले डॉक्टर से सलाह अवश्य लें।

[Back To Top]

‣ निष्कर्ष (conclusion in Hindi)

किडनी इंफेक्शन एक सामान्य बीमारी नहीं है, इस बीमारी से बचने के लिये पहले से ही सजग रहने की जरुरत है। खासतौर से महिलाओं को इसके लिये हेल्दी लाइफस्टाइल अपनायें, फास्टफूड, अल्कोहल से दूर रहें, नियमित रुप से योगा, मेडिटेशन करे। इस बीमारी के लिए अच्छे इलाज की जरुरत होती है, इसमें किसी भी तरह की लापरवाही न करे।

 

Related Articles

जानिये क्या है पल्मोनरी फाइब्रोसिस(Pulmonary Fibrosis: Symptoms, Causes And Treatments In Hindi)

प्रेगनेंसी के दौरान पीठ दर्द से कैसे बचें (Back Pain During Pregnancy: Everything You Need To Know In Hindi)

वेट कम करने के अलावा एप्पल साइडर विनेगर के और भी फायदें, जानिये एप्पल साइडर विनेगर के इन 10 फायदों के बारे में (10 Ways Apple Cider Vinegar Can Benefit You in Hindi)

प्रेग्नेंसी में अपेंडिक्स—जानें इसके लक्षण, कारण और उपचार (Appendicitis During Pregnancy: Symptoms, Causes and Treatment In Hindi)

ग्रीन टी पीने से पहले इन बातो का ध्यान रखें ( Important Side-effects Of Green Tea You Need To Know In Hindi)

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon