Link copied!
Sign in / Sign up
4
Shares

जानिए कच्चे टमाटर का सेवन करने के अद्भुत स्वास्थ्य लाभ और इसके गुण (Benefits of Eating Raw Tomatoes In Hindi)

टमाटर स्वादिष्ट सिट्रस फल की श्रेणी में आता है लेकिन लोग इसे अक्सर सब्जी समझते हैं और सलाद में इसका इस्तेमाल किया जाता है। कुछ लोग इसकी प्राकृतिक मिठास के कारण इसे सैंडविच से लेकर पिज्जा में इसका इस्तेमाल करते हैं हालांकि टमाटर के फायदे अनेक है। कुछ लोगों को इसका स्वाद और इसमें मौजूद एसिड के कारण टमाटर पसंद नहीं आता है। चाहे आपको टमाटर पसंद हो या नापसंद हो लेकिन कच्चे टमाटर का सेवन करने के अनेकों स्वास्थ्य लाभों को नकारा नहीं जा सकता है। टमाटर का इस्तेमाल कई तरह से किया जाता है। टमाटर का रस बहुत ही पौष्टिक तरल पदार्थ के रूप में प्रचलित है और चेरी टोमैटो का इस्तेमाल सलाद और सैंडविच में किया जाता है। इसका सेवन करने के अतिरिक्त टमाटर त्वचा के लिए भी बहुत फ़ायदेमंद साबित होता है।

लेख की विषय सूची

कच्चे टमाटर के पौष्टिक गुण (Nutrients in Raw Tomatoes in Hindi)

टमाटर के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits Of Tomatoes in Hindi)

त्वचा के लिए टमाटर (Tomato for Skin in Hindi)

बालों के लिए टमाटर (Tomato for Hair in Hindi)

टमाटर का चयन (Selection of Tomatoes in Hindi)

आहार में टमाटर कैसे सम्मिलित करें (How To Include Tomato In Your Diet in Hindi)

कच्चे टमाटर के पौष्टिक गुण (Nutrients in Raw Tomatoes in Hindi)

कच्चे टमाटर का सेवन करने के अनेकों स्वास्थ्य लाभ हैं। एक मध्यम आकार के कच्चे टमाटर में 30 कैलोरी से कम होती है, बहुत कम वसा होती है, कोलेस्ट्रॉल बिल्कुल भी नहीं होता, एक ग्राम डायट्री फाइबर होता है और बहुत आवश्यक पौष्टिक तत्व होते हैं। उदाहरण के लिए टमाटर में विटामिन सी की दैनिक आवश्यकता का 40% होता है और विटामिन ए का लगभग 20% होता है। टमाटर में मौजूद सबसे महत्वपूर्ण पौष्टिक तत्व लाइकोपीन होता है। लाइकोपीन एक एंटीऑक्सीडेंट है और इसी के कारण टमाटर का रंग लाल होता है।

[Back To Top]

टमाटर के स्वास्थ्य लाभ (Health Benefits Of Tomatoes in Hindi)

1. एंटीऑक्सीडेंट - चेरी टोमैटो लाइकोपीन जैसे एंटीऑक्सीडेंट, बीटा कैरोटीन, विटामिन ए, सी, ई और घुलनशील फाइबर के मौजूद होने के कारण बहुत पौष्टिक होते हैं।

2. रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करना - टमाटर खाने के अन्य फ़ायदों में हृदय रोग, एथेरोस्क्लेरोसिस और उच्च रक्तचाप के जोख़िम को कम करना भी सम्मिलित हैं। कच्चे टमाटर में मौजूद घुलनशील फाइबर ब्लड कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता हैं और धमनियां बंद होने के जोख़िम को कम करता है।

3. कैंसर से बचाव - टमाटर में मौजूद लाइकोपीन विभिन्न प्रकार के कैंसर के जोख़िम को कम करता है। टमाट से भरपूर आहार लाइकोपीन की आवश्यक मात्रा को बनाए रखता है, जिससे पेनक्रियाटिक कैंसर का जोख़िम उनसे 31% कम करता है, जो उच्च और निम्न दोनों कैरोटीनॉयड का सेवन करते हैं। महिलाओं में टमाटर में मौजूद उच्च कैरोटीनॉयड के सेवन से ब्रेस्ट कैंसर से संरक्षण प्राप्त होता है।

4. न्यून संक्रमण से बचाव - विटामिन-सी से भरपूर फलों में रोग प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने की क्षमता होती है और यह शरीर को न्यून संक्रमण जैसे कि सर्दी आदि से संरक्षण प्रदान करते हैं।

5. फोलेट की अधिक मात्रा प्रदान करना - फोलेट न केवल फर्टिलिटी की संभावना को बढ़ाता है बल्कि यह बी‌‌ विटामिन बेहोशी और चक्कर आने जैसी समस्याओं को भी कम करता है। एक कप टमाटर के रस में 48.6 एमसीजी फोलेट होता है।

6. आंखों की बीमारी से बचाव - चैरी टोमेटो में मौजूद विटामिन विटामिन-ए, फ्लेवनॉयड्स बी कोम्प्लेक्स, थियामिन, फोलेट, नियासिन आदि त्वचा की देखभाल करते हैं और आंखों को स्वस्थ बनाए रखते हैं व आंखों की बीमारी से बचाव करते हैं।

7. हड्डियों और दांतों के लिए फ़ायदेमंद - कैल्शियम से भरपूर होने के कारण चैरी टोमेटो हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। यह दांतों को स्वस्थ बनाए रखने में भी सहायक होते हैं।

8. कोशिकाओं का पुनर्गठन और मांसपेशियों क विकास - कच्चे टमाटर प्रोटीन का उत्तम स्त्रोत होते हैं और कोशिकाओं के पुनर्गठन और यह मांसपेशियों के विकास में सहायक होते हैं।

[Back To Top]

9. कम वसा - टमाटर में चार ग्राम कार्बोहाइड्रेट, एक ग्राम प्रोटीन, 18 कैलोरी और शून्य अनसैचुरेटेड फैट होता है। कम वसा होने के कारण इस फल का सेवन उचित मात्रा में किया जा सकता है।

10. शरीर में खून के थक्के बनने से रोकना - शोधकर्ताओं ने पाया है कि टमाटर के बीज शरीर में खून के थक्के बनने से रोकते हैं।

11. एंटी-इंफ्लेमेटरी - कच्चे टमाटर फ्री रैडिकल्स से बचाव करते हैं। इससे सूजन कम होती है और इसलिए इसके बीज उपयुक्त एंटी-इंफ्लेमेटरी एजेंट के रूप में काम करते हैं।

12. रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाना - कच्चा टमाटर शरीर की रोग-प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाता है और कोल्ड, इन्फ्लूएंजा आदि से बचाव करता है। टमाटर के बीज एंटीओक्सिडेंट, लाइकोपीन और बीटा-कैरोटीन के उत्तम स्त्रोत होते हैं और यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायक होता है।

13. आंखों की रोशनी बढ़ाना - कच्चे टमाटर और उनके बीजों में उच्च मात्रा में विटामिन ए होता है। विटामिन-ए का सेवन करने से आंखों की रोशनी बढ़ती है और इसकी कमी से अंधापन भी हो सकता है। टमाटर के बीज आंखों की रोशनी बढ़ाने में भी सहायक होते हैं।

त्वचा के लिए टमाटर (Tomato for Skin in Hindi)

टमाटर त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद है। टमाटर चेहरे के लिए किसी चमत्कार से कम नहीं है। टमाटर का फेस पैक त्वचा के लिए फायदेमंद होता है। त्वचा में मौजूद कनैक्टिव टिश्यू कोलोजन त्वचा को जवां, मुलायम और स्वस्थ बनाए रखने में सहायक होता है। ऐसा माना जाता है कि चैरी टोमेटो का सेवन करने से त्वचा स्वस्थ और निखरी हुई रहती है। त्वचा के लिए टमाटर के फायदे कुछ इस प्रकार है:

1. खुले रोम छिद्रों को बंद करना - कच्चे टमाटर की चार बूंदें एक टेबलस्पून पानी में मिलाएं और इसे रूई की मदद से अपने चेहरे पर लगाएं। सौम्यता से इस टोमेटो फेस पेक को लगाकर चेहरे की मालिश करें और इसे 15 मिनट के लिए छोड़ दें। नियमित रूप से त्वचा पर इसे लगाने से खुले रोम छिद्र बंद हो जाएंगे।

2. निखरी त्वचा - त्वचा पर टमाटर का रस लगाने से चेहरे में निखार आता है। इसमें विटामिन सी की उच्च मात्रा होती है, जो त्वचा को स्वस्थ बनाए रखती है।

3. एंटी-एजिंग - टमाटर त्वचा को आक्सीजन का अवशोषण करने के सक्षम बनातें है, जिससे बढ़ती उम्र के प्रभाव कम होते हैं। यह त्वचा को पोषण प्रदान करने और स्वस्थ बनाए रखने का प्राकृतिक तरीका है।

4. प्राकृतिक सनस्क्रीन - विभिन्न अध्ययनों के अनुसार टमाटर में लाइकोपीन नामक एंटीओक्सिडेंट होता हैं, जो प्राकृतिक सनस्क्रीन का काम करता है। यह पराबैंगनी किरणों से त्वचा को बचाता है।

5. तनाव कम करना - टमाटर के एक्स्ट्रेक्ट का प्रयोग विभिन्न प्रकार के लक्जरियस बोडी मसाज ओयल में किया जाता है, जो त्वचा में तनाव के लक्षणों को कम करते हैं। टोमैटो एक्स्ट्रेक्ट का प्रयोग आई क्रीम में भी किया जाता है। जो‌ आंखों को स्वस्थ बनाए रखने में सहायक होता है।

[Back To Top]

6. सेल्युलर डैमेज से बचाव - रोज़ाना 16 ग्राम लाइकोपीन का सेवन करने से त्वचा को फ्री रैडिकल्स से बचाया जा सकता है और यह त्वचा को जवां बनाए रखने में सहायक होता है। यह सेल्युलर डैमेज को कम करता है और त्वचा में नमी बनाए रखने में सहायक होता है। साथ ही यह झुर्रियों और लाइन्स से भी बचाव करता है।

7. प्राकृतिक ब्लिचिंग एजेंट के रूप में - टमाटर बहुत ही अच्छा ब्लिचिंग एजेंट है और यह त्वचा को निखारने में सहायक होता है। एक चम्मच ओटमील, एक चम्मच योगर्ट, दो चम्मच टमाटर का रस मिलाएं और इसे चेहरे और गर्दन पर लगाएं व बीस मिनट के लिए छोड़ दें। ओटमील त्वचा को एक्सफोलिएट करेगा और योगर्ट व टमाटर त्वचा से दाग-धब्बे दूर करेंगे।

8. सनबर्न से बचाव - प्रीवेंशन मैगज़ीन के अनुसार टमाटर का रस प्राकृतिक रूप से सनबर्न से बचाव करता है। सनबर्न त्वचा पर टमाटर का रस लगाकर उसका उपचार किया जा सकता है।

9. मुलायम त्वचा - टमाटर के रस के लाभ बढ़ जाते हैं जब उनका इस्तेमाल शहद के साथ किया जाता है। इससे त्वचा मुलायम होती है।

10. मृत कोशिकाओं को हटाने में सहायक - टमाटर को मिक्सर में पीसें और इसमें एक चम्मच चीनी मिलाएं। इसे चेहरे पर लगाएं और धीरे-धीरे मालिश करें।

बालों के लिए टमाटर (Tomato for Hair in Hindi)

टमाटर न सिर्फ आपकी सेहत और त्वचा के लिए फायदेमंद है बल्कि यह बालों के लिए भी उपयुक्त है। कच्चे टमाटर में विटामिन, ए, बी, सी और ई होता है, जो स्वस्थ बालों के लिए बहुत फ़ायदेमंद है। बालों के लिए टमाटर के फायदे कुछ इस प्रकार है:

1. बालों का झड़ना कम करें - टमाटर बालों का झड़ना कम करने के लिए अद्भुत उपचार है और यह माना जाता है कि चैरी टोमेटो का रस बालों की जड़ों पर लगाने से बालों के झडने की समस्या से निजात पाने में मदद मिलती है।

2. बालों को कंडीशन करना - टमाटर बालों में प्राकृतिक चमक वापस लाते हैं और बालों को मुलायम और स्वस्थ बनाते हैं। यह कंडीशनर के रूप में काम करता है और रूखे-सूखे बालों से छुटकारा पाने में मदद करता है।

3. रूखे-सूखे बालों से निजात - टमाटर के रस को तेल के साथ मिलाएं और इसे बालों पर लगाएं। इसे बीस मिनट के लिए छोड़ दें और उसके बाद इसे धो दें। यह बालों को मुलायम, चमकदार और स्वस्थ बनाता है। इसमें मौजूद प्रोटीन के कारण बाल मुलायम बने रहते हैं।

4. डेंड्रफ और जड़ों में होने वाली खुजली दूर करना - बालों की जड़ों में होने वाली खुजली और डेंड्रफ के कारण एक्जेमा और स्कैल्प प्सोरियासिस जैसी समस्याएं हो सकती है। टमाटर में विटामिन सी होता है, जो डेंड्रफ दूर करने में सहायक होता है।

[Back To Top]

टमाटर का चयन (Selection of Tomatoes in Hindi)

टमाटर पूरे विश्व में ताजे और प्रीजर्वड दोनों रूपों में पाए जाते हैं। टमाटर की अनेक किस्में हैं, जो‌ विभिन्न आकार और रंग में मिलती है। टमाटर के दो आकार प्रसिद्ध है एक गोल व दूसरा चेरी के आकार का चेरी टोमैटो। ऐसा टमाटर चुने जो ज्यादा गाढ़ा लाल, तेज़ नारंगी रंग का हो।पीले और हल्के बैंगनी रंग के टमाटर भी होते हैं लेकिन यह कम एसिडिक होते हैं और इनका स्वाद भी उतना बेहतर नहीं होता। अच्छे आकार के टमाटर लें, कट्टे, छीले या खराब टमाटर को न ले। टमाटर का छीलका कसा हुआ होना चाहिए, सिकुड़ा हुआ नहीं। ताज़े टमाटर नर्म और खुशबूदार होते हैं।

आहार में टमाटर कैसे सम्मिलित करें (How To Include Tomato In Your Diet in Hindi)

1. स्टफ्ड - स्टफ्ड टमाटर ठंडा या गर्म दोनों तरह से परोसा जा सकता है। टमाटर कांटे और उसका गूदा निकालकर उसमें मीट, चावल, मसाले, हर्ब्स कुछ भी भर दें और ओवन में बेक करें।

2. मसाला मिलाएं - टमाटर कांटे, नमक डालें, जीरा और थोडा जैतून का तेल मिलाकर, इसका सेवन करें।

3. प्यूरी - काली मिर्च, प्याज और लहसुन को ओवन में डालें और इसे ग्रील करें, जब-तक की टमाटर का छीलका न निकल जाए। उसके बाद इसे फूड प्रोसेसर में डालें। इसमें जैतून का तेल, कटा हुआ पार्सले और जीरा मिलाएं।

4. ग्रीलड - टमाटर को आधा काटे और इसमें लहसुन, बेसिल और जैतून का तेल मिलाएं। इसे एल्युमिनियम में पैक करके बीबीक्यू में बेक करें।

5. चीज़ी निब्लस - एक‌ टूथ पिक में जैतून, चीज़, चेरी टोमैटो, एक बेसिल की पत्ती लगाएं और ताज़ा सर्व करें।

6. सूप - प्याज को जैतून के तेल में भूने। चार कटे हुए आलू डालें। जुकिनी, छीला हुआ टमाटर, पेपरिका पेपर भी इसमें मिलाएं। इसके बाद कम नमक वाला वेजिटेबल ब्रोथ इसमे मिलाएं और ढक दें। इसे आधा घंटा तक पकने दें। इसे पीसे और क्रीम के साथ सर्व करें।

7. ब्रेड के साथ - आठ टमाटरों को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटें और इसे ⅓ कप ताज़े बेसिल, ¼ कप शरेडिड चीज़, दो लहसुन की कली, एक टेबलस्पून विनेगर, ½ टेबलस्पून जैतून का तेल, थोड़ा सा नमक, और काली मिर्च मिलाकर दो घंटे रेफ्रिजरेटर में रखें और उसके बाद टोस्टेड ब्रेड के साथ सर्व करें।

8. रेनबो सलाद - विभिन्न तरह के टमाटर खरीदें जैसे कि लाल, पीला, नारंगी आदि। इसे काटकर ओलिव ऑयल और बाल्सामिक विनेगर के साथ परोसें। 

 

Related Articles

टमाटर रखता है आपकी त्वचा का ध्यान—जानें टमाटर का फेस पैक तैयार करने की विधि (Benefits Of Tomatoes For Your Skin Health In Hindi)

शहद को त्वचा और बालों के ब्यूटी-रूटीन में शामिल करने के लिए अपनाएं ये तरीके—जाने असरदार पैक बनाने कि विधि (10 Interesting Ways To Use Honey In Your Beauty Routine In Hindi)

प्रेग्नेंसी में अदरक का जूस है अमृत के समान—जानिए अदरक के अद्भुत फ़ायदे (Benefits Of Ginger Juice During Pregnancy In Hindi)

हल्दी का सेवन करना कितना सुरक्षित है प्रेगनेंसी के दौरान (Is It Safe to Consume Turmeric During Pregnancy? In Hindi)

क्या शिशु को शहद देना सुरक्षित है? (Is Honey Safe For Babies? In Hindi )

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon