Link copied!
Sign in / Sign up
1
Shares

जानें बच्चों के नींद में चलने की वजह- उसका इलाज और बचाव

नींद में चलना एक सामान्य डिस्ओडर है जो बच्चों को प्रभावित करता है, कम से कम 30% लोग अपने जीवन में एक बार इसका अनुभव करते हैं। लगभग 8.4 मिलियन अमेरिकन नींद में चलने की समस्या से ग्रस्त होते हैं। अगर ध्यान ना दिया जाए तो नींद में चलना बच्चों के लिए हानिकारक हो सकता है।

स्लीपवाकिंग क्या है?

नींद में चलना बच्चों और वयस्कों में पाया जाने वाला स्लीपिंग डिसोडर हैं और इसे समय पर ठीक किया जा सकता है। साथ ही स्लीपवाकिंग को सोमनेमबूलिजम कहा जाता है,यह उन बच्चों को अधिक होता है जिन्हें नींद में बिस्तर गीला करने की आदत होती है। अधिकतर बच्चे किशोरावस्था से पहले इस समस्या से गुजरते हैं।

स्लीपवाकिंग चलने और कुछ मुश्किल काम करने का कार्य हो सकता है। यह नुक्सान ना पहुंचाने वाली गतिविधियों जैसे बिस्तर पर बैठ जाना और एकटक देखते रहना से लेकर खतरनाक गतिविधियों जैसे इलेक्ट्रिकल उपकरण, गाड़ी चलाना और बाहर घूमने की गतिविधि तक हो सकता है।

आमतौर पर स्लीपवाकींग नींद के पहले तीन नान-रेम (स्वपन रहित) चरण के दौरान होता है। स्लीपवाक करने वाले लोगों को कोई अंदाजा नहीं होता है की क्या हो रहा है और जागने के बाद उन्हें कुछ भी याद नहीं रहता है।

अगर व्यक्ति आर.ई.एम (रेम) चरण के दौरान स्लीपवाक करता है तो इसे रेम बिहेवियर डिसोडर कहा जाता है ना की स्लीपवाकिंग। इस स्थिति में व्यक्ति स्वपन के अनुसार कार्य करता है और अक्सर उसे यह याद रहता है|

स्लीपवाकिंग निम्न कारणों से हो सकती है :

बच्चों में स्लीपवाकिंग का आम कारण है नींद की कमी।

अनियमित नींद संबंधी आदतें - नींद लेने के समय में बदलाव, अनियमित नींद।

बीमारी और बुखार।

तनाव, बेचैनी के कारण भी स्लीपवाकिंग और अन्य नोकटर्नल डिसोडर हो सकता है।

स्लीपवाकिंग आनुवंशिक भी हो सकता है।

नींद में डर और आतंक के कारण स्लीपवाकिंग हो सकता है।

भरे हुए ब्लेडर के कारण भी स्लीपवाकिंग हो सकता है और हो सकता है,गलत जगह पर पेशाब करें।

मेडिकल स्थिति के परिणामस्वरूप नींद में दिक्कत होती हैं जैसे स्लीप एपनिया, एपिलेप्सी और रेस्टलेस लैग सिंड्रोम से ग्रस्त बच्चों को स्लीपवाकिंग की अधिक संभावना होती है।

ऊपर बताए गए कारण स्लीपवाकिंग ,सिडेटिव, मेडिकेशन,सर पर चोट और माइग्रेन के कारण भी कभी-कभार स्लीपवाकिंग हो सकता हैं।

स्लीपवाकिंग का उपचार:

व्यस्कों में स्लीपवाकिंग का उपचार आमतौर पर हाइपनोसिस का इस्तेमाल कर के किया जाता है, जिसकी सफलता की संभावना कम होती है। फारमेकोलोजिकल उपचार , जिसमें एंटीडिप्रेसेंट और सिडेटिवहाइपनोटिक दवाइयों का इस्तेमाल किया जाता है वह व्यस्को में स्लीपवाकिंग के लिए असरदार होता है। हालांकि बच्चों में स्लीपवाकिंग का उपचार करने का यह निश्चित तरीका नहीं है।

बच्चों में इस आदत के बढ़ने की संभावना होती है इसलिए विशेषज्ञ बच्चे के स्लीप हाइजीन और आदतों पर ध्यान देते हैं। इससे स्लीपवाकिंग की गतिविधि को कम करने और अंत में उसे समाप्त करने में मदद मिलती है।

अगर स्लीपवाकिंग किसी मेडिकल कंडीशन या मानसिक स्थिति के कारण होता है,तो इसका उपचार आवश्यक बन जाता है।

बच्चों में स्लीपवाकिंग से बचाव:

बच्चों को स्लीपवाकिंग से बचाने का अन्य तरीका हैं उनमें नींद से संबंधी अच्छी आदतें विकसित कर के उन्हें संभावित खतरों से दूर रखना। यह है कुछ टिप्स:

बच्चे के सोने का समय निश्चित करें और इस बात को सुनिश्चित करें की बच्चा उस समय तक बिस्तर पर हो, फिर चाहे विकेंड हों, छुट्टियां या कुछ और।

बच्चे के सोने के समय को आरामदायक बनाएं जैसे गर्म पानी से नहाना, पढ़ना और शांत संगीत सुनना।

1बच्चे के सोने के लिए आरामदायक और शांत वातावरण बनाएं। कमरे में अंधेरा रखें, अगर जरूरत हो तो नाईट लाइट आन करें और कमरे से आवाज़ करने वाली घड़ियों को हटा दें।

इस बात को सुनिश्चित करें की बच्चे के कमरे का तापमान बिल्कुल सही हो ना ज्यादा गर्म और ना ज्यादा ठंडा।

सोने जाने से पहले बच्चे के पानी पीने या अन्य तरल का सेवन करने की मात्रा को नियंत्रित करें ताकि सोने से पहले उसका ब्लेडर खाली हो।

सोने से पूर्व बच्चे को चीनी या कैफिन युक्त भोजन या तरल ना दें ‌| कुछ स्लीप स्पैशलिस्ट आपको एंटीसिपेटरी अवेकिंग आजमाने का सुझाव देंगे, जिसके अंतर्गत बच्चे को प्रत्येक दिन होने वाली गतिविधि से पंद्रह से बीस मिनट पहले उठाना होता है। बच्चे को उठाने के लिए अलार्म का इस्तेमाल करें‌।

आप स्लीपवाकिंग डिसोडर से बचने के लिए मेडिटेशन, मेंटल इमेजेरी और अन्य तनाव दूर करने वाली गतिविधियों को आज़मा सकते हैं। अगर किसी निश्चित चीज़ के कारण स्लीपवाकिंग होता है तो उसे रोकने या उससे बचने की कोशिश करें। अगर कोई चिंता या दिक्कत हो तो चाइल्ड स्लीप स्पेशिलिस्ट से बात करें।

हमारे ब्लॉग को पढ़ने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद, हम आशा करते हैं की ये नया साल आपके लिए ढेर सारी खुशियाँ लेकर आये| टाइनीस्टेप की ओर से न्यू यर के लिए आपके लिए एक तोहफ़ा, क्लीक करें और पाएं खुशियाँ यहाँ

 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon