Link copied!
Sign in / Sign up
9
Shares

इस दौरान नींद टूटना बताएगा आपके शारीरिक अवस्था के बारे में


बीच रात में उठना कोई असम्मान्य बात नहीं है लेकिन अगर आप अचानक प्राकृतिक रूप से बीच रात में उठते हैं तो इसके पीछे एक गहरी बात हो सकती है| खैर इस बात को मद्देनज़र ना रखते हुए क्या आपने कभी ये जान्ने की कोशिश की है की रोज़ाना एक समय पर रात को नींद खुलने का क्या मतलब होता है?

इसका कारण हो सकता है की आपके शरीर में एनर्जी का बहाव सही से नहीं हो पा रहा और उसी वजह से आपके अंग को सही से काम करने में परेशानी आ रही है और इस रुकावट के कारण बीच रात में आपकी नींद खुल जाती है| शारीरिक, भावुक या मानसिक दिक्कतों की वजह से भी रुकावट आ सकती है और ये जानकर की आपके शरीर के भीतर क्या परेशानी चल रही है आपको संतुष्टि मिल सकती है| आइये हम आपको विस्तार से बताते हैं की किस समय पर जागने का क्या मतलब होता है:

रात के 9 बजे से 11 बजे के बीच सोने में दिक्कत आना

रात के इस समय, आपका ब्लड वेसल और आर्टरीज़ काफ़ी एक्टिव रहती हैं और इस समय ना सो पाना या सोते हुए उठ जाने का मतलब है की आपको इम्यून सिस्टम, थाइरोइड, एड्रेनल्स या मेटाबोलिज़्म से सम्बंधित बीमारी है जो आपको सोने नहीं दे रही| तनाव और उलझन के कारण भी आपको जगाया हुआ रख सकता है अगर ऐसा है तो सोने से पहले कुछ योग कर के सोएं|

रात के 11 बजे से 1 बजे के बीच सोने में दिक्कत आना

इस समय आपका गॉलब्लेडर हरकत में रहता है जो की आपके दिन भर के खाये हुए खाने में से फैट को गलाने का काम करता है| रात के इस समय उठने का मतलब है की आपको अपने आहार में कुछ अच्छे तत्व लाने पड़ेंगे जिसमें से स्वस्थ फैट एक महत्पूर्ण तत्व है| अगर आपको किसी की कोई बात पसंद ना आती हो या खुद की कोई बात अच्छी ना लगती हो तो ये भी एक कारण हो सकता है आपको बीच रात में जगा रखने का| हम आपको सलाह देंगे की शान्ति से सोने के लिए आपको जिससे भी घृणा है उसे माफ़ करदें और एक नयी शुरुवात करें|

रात के 1 बजे से 3 बजे के बीच सोने में दिक्कत आना

इस समय पर आपकी लिवर खुदको ताज़ा करती है और हम सभी जानते हैं की लिवर हमारे शरीर का कितना महत्पूर्ण हिस्सा है| रात के इस समय उठने का मतलब है की आपके लिवर को बहुत काम है(आपके शरीर से अधिक मात्रा में गन्दगी निकालना)| अपने आहार को सही करने से और मदिरा का सेवन कम करने से अच्छे फ़र्क दिखेंगे| गुस्सा और किसी दोष के लिए खुदको अपराधी मानना आपको इस समय जगा रख सकता है, हर परिस्तिथि में खुदको खुश रखने की कोशिश करें और हर चीज़ में पॉजिटिविटी ढूंढें|

रात के 3 बजे से 5 बजे के बीच सोने में दिक्कत आना

ये वो समय रहता है जब आपके फ़ेफ़डे ऑक्सीजन जमा करते हैं और दूसरे दिन की शुरुवात के लिए उसे शरीर के दूसरे हिस्सों में बांटते हैं| ये फेफड़ों के आपके शरीर से कचड़े निकालने के कारण भी हो सकता है, रात के इस समय उठना और खाँसना इस बात का प्रतीक है की आपको एक स्वस्थ आहार और स्वस्थ वातावरण में सांस लेने की आवश्यकता है| ये समय उन लोगों के लिए होता है जो काफ़ी उदास और तनाव में रहते हैं और रात के इस समय उठने के मतलब है की आपके जीवन में ऐसी कुछ बात हुई है जो आपको अनजाने में तनाव दे रही है|

सुबह के 5 बजे से 7 बजे के बीच अस्वस्थ महसूस करना 

ये समय आपकी बड़ी अंतड़ी के साफ़ और ताज़ा होने का है| ये समय इस काम के लिए बिलकुल सही है क्योंकि इसी वक़्त ज़्यादातर लोग बाथरूम जाते हैं, इस कार्य को आसान बनाने के लिए ये ज़रूरी है की आप सही मात्रा में पानी पीएं| भावुक रूप से ये समय अपने जीवन के बारे में सोचने का है- जीवन के उस मुकाम पर नहीं पहुँच पाना जहाँ आप पहुँचता चाहते हैं|

इस पोस्ट के ज़रिये बीच रात में नींद खुलने के कारणों को जानें और उसे ठीक करने की कोशिश करें, साथ ही इस पोस्ट को दूसरे लोगों के साथ शेयर कर के उन्हें भी चौकन्ना करें!

 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon