Link copied!
Sign in / Sign up
6
Shares

इन सब चीज़ों को कच्चा खाने के हैं चमत्कारी फायदे, जानकर दंग रह जाएंगे


  क्या आपने कभी रो-फूड डाइट के बारे में सुना है? अगर आप इससे अपरिचित हैं, तो हम आपको बताते हैं की रो-फूड डाइट अधिकतर अनप्रोसेस्ड और बिना पका हुआ भोजन होता है, ताकि आपको बिना किसी खतरे के सारा पोषण प्राप्त हो।

इसका मतलब यह है की पका हुआ भोजन कभी-कभार आपका वज़न बढ़ाता है, जबकि जो लोग कच्चा भोजन खाते है उनका वजन कम होता है। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उच्च प्रोसेस्ड भोजन पचाने में आसान होता है और इसे तोड़ने और पचाने में शरीर की कम ऊर्जा लगती है।

आप कच्चे भोजन के लाभों का आनंद उठा सकते है क्योंकि यह इन्फ्लेमेशन को कम करता है, पाचनतंत्र बेहतर बनाता है, डायटिरी फाइबर प्रदान करता है, कैंसर से बचाव करता है, कब्ज़ की समस्या से राहत दिलाता है और शरीर के वज़न को बनाए रखने में मदद करता है।

कच्चे भोजन में ताज़े उत्पादों के अलावा और भी बहुत कुछ शामिल किया जा सकता है। कच्ची फल और सब्जियों के अलावा, आप मेवे, बीज, अंकुरित अनाज और कच्चे दुग्ध उत्पादों का सेवन कर सकते हैं।

तो, आइए जानते हैं दस स्वास्थ्यप्रद भोजन के बारे में जिन्हें कच्चा खाया जा सकता है।

 जैतून का तेल 

  कई लोग भोजन पकाने के लिए जैतून के तेल का इस्तेमाल करते हैं, स्वस्थ वज़न बनाए रखने के लिए। हालांकि, आपको यह जानकर आश्चर्य होगा की जैतून के तेल का बिना पकाएं यानी कच्चा इस्तेमाल करना ही बेहतर होता हैं क्योंकि यह विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो की पकाने के दौरान अधिक गर्म होने से नष्ट हो जाता है।

बेरी 

बेरी के बहुत से पौष्टिक लाभ होते हैं, जो आपके शरीर के लिए लाभकारी सिद्ध होते हैं जब आप उन्हें कच्चा खाए। लेकिन यह लाभ तेजी से कम होता है जब इन्हें पकाया जाता है। तो, आप बैरी को अपने ग्रीक योगर्ट में डाल सकते हैं या एक मुट्ठी बेरी नाश्ते में स्नैकस के तौर पर ले सकते हैं।

प्याज 

प्याज में कैंसर से लड़ने वाले तत्व और सल्फर तत्व मौजूद होते हैं। पके हुए प्याज की बजाए, कच्चे प्याज का सेवन करने से फेफड़ों के कैंसर और प्रोस्टेट कैंसर से संरक्षण प्राप्त होता है। अपने सलाद में प्याज शामिल करें जब आप दोपहर का भोजन या रात्रि का भोजन ले रहे हों।

मेवे 

सूखे मेवों को पकाना नहीं चाहिए क्योंकि यह अपनी पौष्टिकता खो देते हैं। सूखे मेवे में अधिक मात्रा में मैग्नीशियम और लोह तत्व मौजूद होता है और दोनों ही आपके शरीर के लिए अद्भुत है और अगर इन्हें पकाया जाता है, तो मैग्नीशियम और लोह तत्व कम हो जाता है और कैलोरी और वसा की मात्रा बढ़ जाती है ‌

रेड बेल पेपर 

एक रेड बेल पेपर 32 कैलोरी का होता है और विटामिन सी से भरपूर होता है, जो की पकाने के दौरान कम हो जाता है। जबकि पकाने के दौरान इसका स्वाद बढ़ जाता है, लेकिन पौष्टिकता की मात्रा कम हो जाती है। रेड बेल पेपर को खाने का सबसे बेहतर तरीका है की या तो उन्हें भून कर खाया जाए या छोटे ह्यूमस के साथ खाया जाए।

नारियल 

नारियल को पकी हुए व्यंजन में डालने से बेहतर है की नारियल को कच्चा खाया जाए। ऐसा इसलिए क्योंकि इसमें अधिक पोषण और इलैक्ट्रोलाइट होता है जब आप इसे पकाने की बजाए कच्चा खाते है। साथ ही, नारियल का पानी इलैक्ट्रोलाइटस का प्राकृतिक स्रोत है,जो आपके शरीर को मैग्नीशियम, पोटेशियम और सोडियम प्रदान करता है।

लहसुन

जिस भी व्यंजन में आप लहसुन डालते हैं, वह स्वाद से युक्त हो जाता है। जब लहसुन को पकाया जाता है, तो दुर्भाग्यवश इसकी पौष्टिकता कम हो जाती है। लहसुन में कैंसर से बचाव प्रदान करने वाले तत्व होते हैं, जिनका लाभ आपको इसे कच्चा खाकर मिल सकता है।

चुकंदर

चुकंदर का गुलाबी लाल रंग ही इसे पौष्टिक बनाता है। चुकंदर फोलेट का उत्तम स्रोत है, जो मस्तिष्क के विकास और कोशिकाओं के उत्पादन में मदद करता है लेकिन जब इसे पकाया जाता है, तो यह अपना 25% पोषण खो देता है।

टमाटर

कच्चे टमाटर आवश्यक विटामिन, मिनिरल्स और पोषण प्रदान करते हैं, जो की कीई स्वास्थ्य लाभ दे सकता है। कच्चे टमाटर खाने से बहुत सी स्वास्थ्य समस्याओं जैसे बोन लास, कैंसर, मधुमेह, किडनी में पथरी, हृदय रोग और मोटापे से बचाव मिलता है।

ऐवकाडो

ऐवकाडो रेशे से भरपूर होता है और कम कार्बोहाइड्रेट होता है और साथ ही यह कैरोटेनोइड से भरपूर होता है। यह पोष्टिक फल सलाद, सैंडविच और डिप्स में कच्चा खाया जा सकता है। इसे पकाने में इस्तेमाल ना करें क्योंकि इस प्रक्रिया में यह अपना सभी पोषण खो देता है। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon