Link copied!
Sign in / Sign up
78
Shares

महिलाओं में योनि द्वार की झिल्ली(membrane) क्या है और वह कब टूटती है - महत्वपूर्ण बात: Hymenal caruncle


महिला की योनि की सुरक्षा के लिए प्रकृति ने अद्भुत अंग की रचना की है जिसपर महिला का ध्यान नहीं जाता। इसे hymen कहते है जो की योनिद्वार की झिल्ली होती है। यह कुंवारी स्त्री की प्रतीक है जब तक की उसमें से रक्त न निकले। रक्त निकलने के बाद वह कुंवारी नहीं रह जाती और महिला के यौन सम्बन्ध का राज़ खोल देती है। आज कल कई महिलाएं hymen reconstruction के लिए जा रही हैं ताकि वह कुंवारी hymen पा सकें।

योनिद्वार की झिल्ली टूटने या फटने के बाद योनिद्वार पर कुछ उठे हुए त्वचा के छाले जैसे आ जाते हैं। इन्हें Hymen caruncle कहते हैं। Hymen कई कारणों से टूट सकता है जैसे की भारी व्यायाम, जननेन्द्रिय पर चोट लगना, मेडिकल परीक्षण, हस्तमैथुन व संभोग द्वारा। Hymen caruncle टूटी हुई झिल्ली का अंश होता है। हाइमन टूटने के बाद कुछ दिनों तक उभरी हुई त्वचा के रूप में रह जाता है।

Hymen caruncle गुलाबी रंग का होता है और योनि के मुख के पास गोल आकार का देखा जा सकता है। यह योनि के निचले हिस्से पर देखा जाता है। मेडिकल भाषा में इस स्थिति को carunculae myrtiformes कहते हैं। कई महिलाएं इसे गुप्तांग के मस्से समझ लेती हैं। परन्तु सही परीक्षण से इनका पता लगाया जा सकता है।

वर्ष बीतते बीतते योनिद्वार की झिल्ली छोटी होती जाती है। यह संभोग या अन्य क्रियाओं में बाधा नहीं डालती। अगर इनसे पुरुष लिंग डालने में दिक्कत भी हो तो आप लुब्रीकेंट/तेल/क्रीम/जेली का उपयोग करें। कुछ महिलाओं में hymen caruncle अधिक दिक्कत पैदा करता है, तब महिलाएं उसे सर्जरी द्वारा निकलवा सकती हैं। इसके लिए तजुर्बेदार गाइनीकोलोगिस्ट को दिखाया जा सकता है जो झिल्ली की अनचाही परत को निकाल देंगे।

कभी कभी महिलाएं योनिद्वार पर अत्यधिक दर्द की शिकायत करती हैं क्योंकि सर्जरी में गलती की गई होगी। कई गाइनीकोलोगिस्ट बिना एनेस्थेसिया के सर्जरी कर देते हैं जिससे महिला को दिक्कत होती है। बिना एनेस्थेसिया के ऑपेरशन करवाने वाली महिला को दर्द महसूस होता है।

इसलिए योनिमार्ग की झिल्ली में उभरी त्वचा अगर अत्यधिक पीड़ा और सेक्स में बाधा बन रही है तो आप अनुभवी गाइनीकोलोगिस्ट को दिखाएं और उन्ही से ऑपरेशन करवाएं। ध्यान रहे की आप विसंक्रमित धातुओं से ही ऑपरेशन करवाएं अन्यथा गुप्तांग में संक्रमण हो सकता है। डॉक्टर की बताईं दवाएं समय पर लें।

इस ब्लॉग को शेयर करें और अन्य लोगों में जागरूकता फैलायें।


Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon