Link copied!
Sign in / Sign up
1
Shares

गर्भवती से माँ बनने की यह अद्भुत कहानियां - कहाँ, कब, कैसे ?


प्रसव की यह अद्भुत कहानियां जानिए और इनसे सीखीए, क्या पता यह अजीब घटना आपके साथ भी हों जाए।

1. सुबह उठना और डिलीवरी

“ मैं उठकर बैठ गई, फिर बाथरूम की ओर भागी और टोइलेट में बैठी। उस समय मुझे ध्क्का लगाने की जरूरत महसूस हुई। मेरी सास ने मुझे ऐसा करने से मना किया लेकिन मैंने ऐसा ही किया और फिर इसमें सिर्फ दो धक्के लगे और हमारी बेटी लिह का जन्म हुआ। नई माताओं के लिए जानकारी: अगर यह कभी आपके साथ होता है, तो घबराएं नहीं, इससे शिशु पर और दबाव पड़ता है और आप ऐसा नहीं चाहते होंगे। कोई भी दर्द अगर आप महसूस करें, तो अस्पताल जाएं क्योंकि समय का कोई भरोसा नहीं है।

2. मुझे पता नहीं था मैं गर्भवती थी 

“ डॉक्टर ने मेरी गर्भाशय ग्रीवा की जांच की और बताया की वह फैल रहा है और शायद आज रात को मुझे बच्चा हो सकता है। ना सिर्फ मुझे पता लगा की मैं गर्भवती थी,लेकिन यह भी की मैं जन्म दूंगी। उसके बाद डॉक्टर ने मुझे बर्थ सेंटर भेजा, जहां हमें शिशु का लिंग पता लगा ( लड़की) और हमने उसके दिल की धड़कन सुनी। उन्होंने मुझे दाखिल करने का फैसला किया क्योंकि मेरा संकुचन तीव्र था। और अंत में अगले दिन की मध्यरात्रि को मुझे मेरी बेटी मिली। नई माताओं के लिए जानकारी: आपको सच्चे प्यार और खुशी का पता तब-तक नहीं होगा, जब-तक की आपके पास अपना शिशु ना हो।

3. एक खुशी का लम्बा इंतजार

“ पांच सालों में मैंने पांच गर्भपात का सामना किया। मैंने दो को द्वितीय तिमाही और तीन को प्रथम तिमाही में खोया था। आखिरकार जब मैं दोबारा गर्भवती हुई, तो हर रोज मौत का डर मुझे सताता था। मुझे बहुत चिंता होती थी की मैं शायद इसे भी खो दूंगी। खुशियों का लम्बा इंतजार दिसंबर,2011 में मेरे पास आया। यह भावना हमेशा मुझे महसूस होती है,मेरा मन खुशी से चिल्लाने को हुआ,जब मैंने देखा की आखिरकार वो मेरे पास है। माताओं के लिए जानकारी: कोशिश करें की आप पर्याप्त नींद लें और यदि कोई मदद करना चाहता है, तो उन्हें करने दें।

4. समय ही सबकुछ है

डिलीवरी के दरवाज़े से चौदह मिनट की दूरी… मेरी बेटी मुझसे 13 साल 55 मिनट दूर थी। यह सच है, जब वह कहते हैं की गर्भ याद रखता है और जाहिर तौर पर संसार भी करता है। पहला आठ हफ्ते पहले और शिशु तीन हफ्ते पहले था… मेरे जीवन की अजीब घटना और इसमें लोगों और जीवन की कोई योजना शामिल नहीं थी।” नई माताओं के लिए जानकारी: चिंता मत कीजिए, नींद ऐसी चीज़ है जिसके बारे में आपको जल्द पता चलेगा।

5. गाड़ी में जन्म 

“ मैं सुबह 5:28 बजे उठी वह भयानक और दर्दनाक संकुचन के साथ जो की सिर्फ चार मिनट दूर था। हमने जल्दी-जल्दी सामान रखा और हम पांच मिनट में निकलने वाले थे। मैंने और तिव्रता से संकुचन महसूस किया। रोड पर होने के कुछ ही मिनटों में यह केवल दो मिनट की दूरी पर था की संकुचन और दर्दनाक होने लगा। अस्पताल जाने वाली रोड पर, अपनी गाड़ी की पैसेंजर सीट में मैंने जन्म दिया,जबका मेरा बायफ्रेंड तब भी गाड़ी चला रहा था। नई माताओं के लिए जानकारी हमेशा अनेपक्षित की उम्मीद करें और तब सोएं,जब शिशु सोता हो।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon