Link copied!
Sign in / Sign up
19
Shares

गर्भावस्था में योनि में बदलाव, जन्म देने हेतु


महिला के शरीर की रचना ईश्वर ने बड़ी सोच समझकर की है इसलिए जब वह गर्भवती होती है तो उसका हर अंग अपनी निर्धारित ज़िम्मेदारियों के साथ साथ और अधिक ज़िम्मेदारियाँ भी उठाने लगता है। इस अंक में हम आपको महिलाओं के महत्वपूर्ण अंग योनि और मादा pelvis के बारे में बातएंगे जिनमें गर्भावस्था के समय अनोखे अदलाव आते हैं। इन बदलावों के कारण ही महिला बच्चे को जन्म दे पाती है।

महिला का pelvis:

यह बहुत ही दिलचस्प हिस्सा है जो कि न सिर्फ देखने बल्कि मेडिकल विशेषज्ञों को भी आकर्षित करता है। ऐसा इसलिए क्योंकि वह इतना पतला और तंग होने पर भी वह एक तरबूज के आकार के बच्चे को जन्म देने के काबिल होता है।

ऐसा जाना जाता है की pelvis का आकार बच्चे को जन्म देने के समय बदल जाता है। यह relaxin नामक हॉर्मोन के कारण होता है जो pelvis के आस पास की मांसपेशियों को ढीला कर देता है। इस से birth canal का मुँह बड़ा हो जाता है और बच्चा होने में आसानी होती है।

महिला के पेल्विस में बदलाव 25 वर्ष तक की उम्र तक आते हैं। इसके बाद उसके शरीर में शारीरिक बदलाव 40 वर्ष की उम्र में आते हैं।

एक अन्य शोध में जिसे पोंस डी लियोना विश्वविद्यालय में किया गया था, यह पाया गया की पुरुष के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हॉर्मोन के चलते बदलाव आता है परन्तु यह उनकी किशोरावस्था तक ही सीमित रहता है। इसके आड़ पुरुष जब किशोरावस्था लांघ लेते हैं, तब उनकी पेल्विस स्थान पर बदलाव नहीं आते। उनकी कमर एक समान रहती है।

जन्म से लेकर 10 साल की उम्र तक स्त्री-पुरुष के शरीर की कमर एक समान होती है। इसके बाद वह बदलना शुरू होती है। महिला का पेल्विस इस तरह से आकार लेता है ताकि उनके पास एक चौड़ा स्थान हो और वे बच्चे को birth canal से आसानी से पैदा कर सकें।

40 वर्ष तक आते आते महिला का पेल्विस ऐसे परिवर्तित होता है ताकी वह पुरुष के पेल्विस की तरह पतला हो जाता है। इस समय तक आते आते महिला की प्रजनन शक्ति भी कम हो जाती है।

महिला की किशोरावस्था से लेकर रजोनिवृत्ति(menopause) तक उसके शरीर में बदलते estrogen हॉर्मोन से महिला की प्रजनन शक्ति तथा पेल्विक डेवलपमेन्ट प्रभावित होता है।

मेनोपॉज में महिला की कमर इसलिए पतली और सिकुड़ जाती है ताकि वह बुढ़ापे में अपने बदन को संभाल सके। इससे शरीर के निचले हिस्सों को आराम मिलती है।

इस प्रकार ईश्वर अपनी अद्वितीय शक्ति से महिला को पुरुष से बेहतर बनाने में सफल रहा है। सच किसी महिला की जगह कोई पुरुष नहीं ले सकता। इस ब्लॉग के माध्यम से अन्य महिलाओं को भी शिक्षित करें।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon