Link copied!
Sign in / Sign up
17
Shares

गर्भावस्था के दौरान रोज़ बादाम खाने के अद्भुत फ़ायदे


बादाम में ऐसे अद्भुत पोषण व्याप्त होते हैं जो मां और गर्भ में पल रहे शिशु दोनों के लिए लाभकारी हैं। महर्षि आयुर्वेद अस्पताल,नई दिल्ली की डॉ .भानु शर्मा ने बताए‌ है गर्भावस्था के दौरान बादाम खाने के दस अद्भुत लाभ और बादाम का सेवन किस प्रकार करने से मिलेगा और अधिक पोषण! बादाम के छिलके में टैनिन नामक तत्व होता है जो बादाम के पोषण को शरीर में अवशोषित होने से रोकता है, इसलिए रात में बादाम को पानी में भिगोकर सुबह इसका छिलका आसानी से निकल जाता है और बादाम को छिलका निकालकर खाने से शरीर को अधिक बेहतर तरीके से पोष्टिक तत्व प्राप्त हो सकते हैं।

यह है गर्भावस्था के दौरान बादाम खाने के दस फायदे :

-बादाम फोलिक एसिड से भरपूर होता है, जिससे गर्भपात की संभावना कम होती है।

-बादाम मे फोलेट और विटामिन बी-6 होता हैं और इससे शिशु के मस्तिष्क का विकास बिल्कुल सही प्रकार से होता है।

-बादाम में अच्छे कार्बोज होते हैं। गर्भावस्था में रोज़ाना बादाम का सेवन करने से कमजोरी दूर होती है। और यह मार्निंग सिकनेस से बचाता है।

-इसमें लोह तत्व अर्थात आयरन मौजूद होता है और यह गर्भवती महिलाओं को खून की कमी यानी एनिमिया से बचाता है।

-बादाम में प्रचुर मात्रा में प्रोटीन होता है। इससे शिशु की हड्डियां मजबूत होती हैं और प्रसव पीड़ा कम होती है।

-बादाम में रेशे होते हैं और यह गर्भवती महिला को अपच की समस्या से दूर रखता है।

-बादाम में विटामिन ई होता है। इससे शिशु के बाल और त्वचा स्वस्थ रहते हैं। यह गर्भवती महिला की खूबसूरती बढ़ाता है।

-इसमें कैल्शियम होता है, जिससे हड्डियां मजबूत होती हैं।

-बादाम मे पोटेशियम होता है और यह रक्तचाप को नियंत्रित रखता है।

-इससे रक्त संचार यानी बल्ड सर्कुलेशन बेहतर होता है और यह गर्भवती महिलाओं को मुरझाई व बेजान त्वचा की समस्या से बचाता है।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
100%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon