Link copied!
Sign in / Sign up
13
Shares

कुछ इस तरह आपका चेहरा बयां करता है कि आपको कौन सी बीमारी है


  हर व्यक्ति का चेहरा उसके अंदर की काफी सारी चीज़ें दर्शा देता है। इंसान का चेहरा ना सिर्फ उसके जज़्बात बल्कि उसके चेहरे का संबंध उसकी सेहत से भी होता है। अगर आपकी सेहत के साथ ज़रा भी गड़बड़ होती है तो उसका असर आपके चेहर पर तुरंत दिखने लगता है। आइए नज़र डालते है कि एक चेहरा आपकी सेहत के बारे में क्या कहता है...

माथा

 

  आपको बता दें कि माथा हमारे पाचनतंत्र और नर्वस सिस्टम से जुड़ा होता है। और अगर आपके पाचनतंत्र में ज़रा भी गड़बडी होती है तो इसका सीधा असर आपके माथे पर नज़र आने लगता है। इससे आपके माथे पर आड़ी रेखाएं और पिंपल होने शुरू हो जाते हैं।

टिप : आप इससे बचने के लिए अपने पाचन शक्ति को मजबूत बनाकर रखें। आप रोज़ाना सुबह उठकर गुनगुने पानी में नींबू निचोड़कर पिएं। इसके अलावा आप कम फैट और प्रोसेस्ड फूड की मात्रा कम करें। इसके अलावा आप स्ट्रेस से दूर रहें और योगासन की ओर ध्यान लगाएं।

आंखें करती हैं ये बयां

 

आपकी आंखें आंतों और जोड़ों से संबंधित समस्याओं को बयां करती हैं। इसके अलावा लिवर, किडनी और थायरॉयड जैसी समस्या को बयां करती हैं। यह समस्या होने पर आपकी आंखों का रंग, उनमें किसी तरह के धब्बे दिखाई दे सकते हैं। अगर ऐसा हो तो आप सचेत हो जाएं।

इसके अलावा अगर आपको लगे कि आपकी आंखों की पुतलियां सिकुड़ रही हैं तो यह जोड़ों की समस्या की ओर संकेत कर सकता है। वहीं अगर आपको आंखों में सफेद धब्बे नज़र आएं तो यह शरीर में विटामिन की कमी को दर्शाता है। इसके अलावा अगर आपको आंख की पुतली के आसपास सफेद रंग दिखाई दे तो यह कोलेस्ट्रोल और ब्लड शुगर को दर्शाता है। इसलिए आप अपने खाने में नमक की मात्रा कम कर दें।

वहीं अगर आपकी आंखें लाल रहने लगे तो यह कोई ऑटो इम्यून बीमारी है या फिर हो सकता है कि आपको डिप्रेशन होने लगा हो। वहीं आंखों का पीलापन लिवर से संबंधित परेशानी का संकेत है।

और अगर आपको आंखों के नीचे काले घेरे हैं तो यह नींद ना पूरा होना और आयरन की कमी की ओर इशारा करता है।

गालों से जानें सेहत का हाल

गाल आपक्वों की धीमा मेटाबॉलिज़्म, पोषक तत्वों की कमी, हृदय संबंधी परेशानियों की ओर इशारा करता है। इसमें आपके गालों का रंग फीका पड़ जाना, कहीं कहीं पर पैच पड़ जाना जैसे समस्याएं हो सकती हैं। यह आपके शरीर में मेटाबॉलिज़्म धीमा और पोषक तत्वों की कमी की ओर संकेत करता है। इसके अलावा गाल फेफड़ों व हृदय की क्रियाओं से जुड़े होते हैं।

कील मुंहासे

कील मुंहासे फेफड़ों की कमज़ोरी, हार्मोनल परिवर्तन, पेट संबंधी गड़बड़ी, रक्त में अशुद्धयों की वजह से होता है। इसलिए आप इस बात पर ध्यान दें कि जो भी खानपान आप खा रहे हैं उससे पेट संबंधी दिक्कत ना हो और आपका रक्त खराब ना हो।

नाक

नाक संबंधी परेशानियां हृदय संबंधी और फेफड़ों संबंधी दिक्कतों की ओर संकेत दता है। अगर नाक बार-बार लाल हो जाती है या बहती रहती है, तो उसका कारण हृदय संबंधी दिक्कतें, उच्च रक्तचाप या लिवर संबंधी परेशानियां हो सकती हैं।

जीभ

जीभ संबंधी परेशानियां टॉक्सिन्स की बढ़त और फेफड़ों संबंधी परेशानियों की ओर संकेत देती हैं। अगर आपकी जीभ ज्यादा सफेद रहती है तो इसका मतलब है कि आपके शरीर में टॉक्सिन की मात्रा बढ़ी हुई है।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको दी गई ये जानकारी आपको काम आएगी। इसलिए इसे ना सिर्फ खुद तक रखें बल्कि अपने खास लोगों के साथ भी शेयर करें। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon