Link copied!
Sign in / Sign up
28
Shares

अगर सी-सेक्शन के बाद चाहती हैं जल्दी रिकवरी तो रखें इन ज़रूरी बातों का ध्यान


    माँ बनना हर महिला के लिए एक बहुत ही खुशकिस्मती की बात होती है लेकिन कभी-कभी महिला के खुद की मर्ज़ी से या कभी-कभी किन्हीं कारणों से महिला को सी-सेक्शन का सहारा लेना पड़ता है। नार्मल डिलीवरी हो या सी-सेक्शन महिलाओं को दोनों में ही काफ़ी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है लेकिन अगर देखा जाए तो नार्मल डिलीवरी के मुकाबले सी-सेक्शन के बाद महिला को अपना थोड़ा ज़्यादा ध्यान रखना होता है। सी-सेक्शन एक बड़ा ऑपरेशन होता है और इसमें महिला को ज़रूरत से ज़्यादा देखभाल की ज़रूरत होती है और ऐसे में एक छोटी सी गलती भी महिला के लिए भारी पड़ सकती है लेकिन कभी-कभी अनजाने में भी कई गलतियां हो जाती है जिससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है और सी-सेक्शन का घाव ठीक होने में भी वक़्त लग जाता है। इसलिए आज हम इस ब्लॉग के ज़रिये आपको कुछ बातें बता रहे हैं जिसका ध्यान रखकर आप अपने सी-सेक्शन के बाद जल्दी ठीक हो सकती हैं।

 1. ठंड से बचें

 सी-सेक्शन के बाद जितना हो सके ठंड से बचें क्यूंकि अगर आपको ठंड लगेगी तो आपको सर्दी-ज़ुकाम हो सकता है जिस कारण आपको खांसी या छींक आ सकती है और ऐसा करने से आपके टांको पर दबाव पड़ सकता है। इस कारण आपका घाव भरने में वक़्त लग सकता है इसलिए जितना हो सके खुद को सर्दी से बचाए क्यूंकि डिलीवरी के बाद इम्यूनिटी भी कम हो जाती है जिस कारण आप जल्दी बीमार हो सकती हैं।

2. ना करें पेट से सम्बंधित कोई व्यायाम

 

बहुत बार ऐसा होता है के पेट निकलने के डर से बहुत सी महिलाएं सी-सेक्शन के कुछ वक़्त बाद ही पेट के व्यायाम शुरू कर देती है जो की बिलकुल सही नहीं है। कभी-कभी उन्हें लगता है की ऊपर के टांके भर गए है मतलब घाव ठीक हो गया है लेकिन ऐसा नहीं होता क्यूंकि अंदरूनी घाव ठीक होने में काफ़ी वक़्त लगता है इसलिए इस वक़्त पेट का व्यायाम करना बिल्कुल समझदारी की बात नहीं है क्यूंकि ऐसा करने से आपके पेट पर दबाव से आपको दर्द, चुभन भी हो सकता है। हाँ आप अपने डॉक्टर से पूछकर हल्की-फुल्की कार्डियो एक्सरसाइज़ कर सकती हैं लेकिन डॉक्टर से पूछकर लेकिन पेट से जुड़ी एक्सरसाइज़ कम से कम 6 सप्ताह या डॉक्टर द्वारा बतायी गए वक़्त पर ही करें।

3. कब्ज़ से बचाव

ऐसी चीज़ें खाएं जिससे आपको कब्ज़ ना हो क्यूंकि शौच के वक़्त पेट पर किसी भी प्रकार का दबाव पड़ने से आपके टांकों में दर्द हो सकता है और ज़्यादा कब्ज़ होने से आपके पेट के अंदरूनी घाव पर भी असर हो सकता है। इसके अलावा आपको इन्फेक्शन का भी ख़तरा हो सकता है जिससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है इसलिए जितना हो सके संतुलित आहार (फाइबर की सही मात्रा के साथ) खाएं और पर्याप्त पानी पीते रहें ताकि आप कब्ज़ की परेशानी से बच सके। इसके अलावा अपने डॉक्टर से अपने डाइट के बारे में पूरी जानकारी ले लें।

4. भारी काम ना करें

सी-सेक्शन के काफ़ी वक़्त बाद तक भी कोई भारी काम ना करें, हल्के-फुल्के काम करना सही है लेकिन इसके अलावा भारी सामान उठाना या कोई ज़्यादा मेहनत के काम या वो काम ना करें जिसमें आपको ज़्यादा झुकना पड़े ।

5. मैटर्निटी बैंड हो सकता है खतरनाक

बहुत बार ऐसा देखा जाता है की सी-सेक्शन के कुछ हफ़्तों बाद ही महिलाएं पेट कम करने के लिए मैटर्निटी बैंड का उपयोग करने लगती हैं जो की गलत है क्यूंकि यह आपको गंभीर नुकसान पहुंचा सकता है। ऐसा करने से आपको हार्निया का ख़तरा हो सकता है इसलिए अगर आपको मैटर्निटी बैंड बांधना भी है तो एक बार अपने डॉक्टर से ज़रूर पूछ लें क्यूंकि हम बार-बार आपको यह बता रहे हैं की भले ही ऊपर के टांके आपके ठीक हो जाए लेकिन अंदर का घाव ठीक होने में वक़्त लगता है।

इन चीज़ों के अलावा आप अपने खानपान का पूरा ध्यान रखें और ज़्यादा से ज़्यादा सावधानी बरतें। माँ बनना एक बहुत ही ख़ास एहसास है इस एहसास को एन्जॉय करें लेकिन सावधानी के साथ। 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon