Link copied!
Sign in / Sign up
15
Shares

क्या आपके शिशु को भी है स्तनों को काटने की आदत? तो इसे ज़रूर पढ़ें


जब एक महिला मां बनती है तो शिशु के जन्म के कुछ महीने बाद तक वो अपने बच्चे को स्तनपान कराती है। चूंकि कुछ महीनों तक तो बच्चा सिर्फ मां के दूध पर ही निर्भर रहता है तो ऐसे में मां को दिन में से कई बार अपने शिशु को स्तनपान कराना पड़ता है। जब तक बच्चे के दांत नहीं निकलते तब तक तो ठीक लेकिन जब आपके शिशु के नन्हें-नन्हें दांत जब निकलते तो वो दूध पीते समय मां के स्तनों को काट लेता है। 

चूंकि स्तन काफी संवेदनशील होते हैं तो ऐसे में काफी पीड़ा होती है। अगर आपका शिशु भी दूध पीते समय आपके स्तनों पर काट लेता है और काफी दर्द होता है तो आप नीचे बताई गईं बातों पर ध्यान दें....

शिशु को एहसास दिलाएं की आपको दर्द होता है

 

 

शिशु को प्यार के साथ बताएं की आपको दर्द होता है। उसे बोलें "बेटा धीरे से, माँ को दर्द होता" शिशु को समझ आएगा की मम्मी को दर्द होता है तो अगली बार ध्यान रखेगा।

शिशु को स्तनपान खत्म हो गया आभास कराएं

अपनी उंगली को धीरे से शिशु के मुंह में डालें, और उसके निपल चूसने को हलके से रोकें। इससे शिशु को पता चलेगा की अब उसका भोजन हो चुका है। अगर शिशु आपको काटता है तो आप यह कर सकती हैं। अगर शिशु को झटके से निपल से दूर करेंगी तो उसे जीभ में बेस्वाद और कड़वा सा महसूस होगा।

शिशु आपको कटेगा तब आप उसे हटाएंगी और 15 मिनट तक उसे निपल चूसने नहीं देंगी तो शिशु को अपनी गलती का आभास होगा। अगली बार वह ऐसा नहीं करेगा।

बच्चे के इशारे समझिये

कभी कभी शिशु ऊबने या चिढ़ने के कारण मां का निपल काट लेते हैं। अगर आप शिशु को शोर शराबे में या ढंग से स्तनपान नहीं करेंगी तो शिशु आपका निप्लप काट सकता है। इसलिए शिशु को शांत जगह पर शांति से बैठा कर खिलाएं। शायद इस कारण शिशु आपको न काटे।

बच्चों के नये दांत आना

जब बच्चे के दूध के दांत आने लगते हैं तो जाने-अनजाने शिशु अपनी मां का निपल काट लेता है। आप इस बात को चेक कर लें कि कहीं शिशु के नये दांत तो नहीं आ रहे हैं और अगर  आ रहे है तो आप उसे हलके से निप्पल से दूर करें।

बच्चे को सही से स्तन पान के लिए नहीं बिठाया गया है

ऐसी स्थिति में जब बच्चे को ऊटपटांग तरीके से मां स्तनपान कराती है तो बच्चा मां का निपल काट लेता है। निपल जब बच्चे के मुंह से निकल जाता है तो शिशु उसे पकड़ने के प्रयास में मां का निप्पल बाइट कर लेता है। इसलिए आप बच्चे को ठीक ढंग से बैठा कर दूध पिलाएं।

याद रखें, यह कुछ दिनों तक की क्रिया है। जैसे जैसे शिशु विकसित होगा उसकी निप्पल बाइट करने की आदत छूट जाएगी। अगर आपका शिशु भी आपको सताता है, तो उसे छेड़ें और मनाएं। तालमेल बैठाएं एंड सुपरमॉम बनिए।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
100%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon