Link copied!
Sign in / Sign up
5
Shares

अगर आप भी फेंक देते हैं मक्के के रेशे (कार्न सिल्क), तो इसे ज़रूर पढ़ें


क्या आप अक्सर मक्के के मुलायम रेशों को फेंक देते हैं, जब आप इसे खरीदते हैं? यह लेख पढ़ने के बाद आप ऐसा नहीं करेंगे। जब आप मक्के के हरे छिलके को निकाल देते हैं, तो उसमें इन रेशमी धागों की परत होती है। इन रेशमी धागों को कोर्न सिल्क कहा जाता है।

कोर्न सिल्क में स्टग्मास्टरोल और सिटेस्टेरोल होता है जो हृदय रोग और उच्च कोलेस्ट्रॉल से बचाव करने में असरदार सिद्ध होते हैं। इसमें प्लांट एसिड भी होता है, जो ओरल और त्वचा की स्थिति बेहतर बनाने में मददगार होता है। कोर्न सिल्क शरीर में ग्लूकोज के स्तर को बनाए रखता है।

आप कार्न सिल्क का इस्तेमाल ताजा या सूखे हुए दोनों रुपों में कर सकते हैं और यह विभिन्न प्रकार की बीमारियों के लिए दवा के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है। यह ब्लेडर संक्रमण, यूरिनरी सिस्टम में सूजन, किडनी में पथरी, मधुमेह, जन्म-जात हृदय रोग, उच्च रक्तचाप और चक्कर आने जैसी कई समस्याओं के लिए इस्तेमाल किया जाता है।

यह है कोर्न सिल्क के अद्भुत दस फायदे

उच्च ब्लड शुगर को कम करना - कोर्न सिल्क उच्च रक्तचाप वाले लोगों के लिए बहुत फायदेमंद है और यह शरीर में इंसुलिन बढ़ाकर ब्लड शुगर लेवल का स्तर कम करता है। यह मधुमेह, जन्मजात हृदय रोग और उच्च कोलेस्ट्रॉल के लिए अद्भुत प्राकृतिक उपचार हैं।

विटामिन सी प्रदान करना - कोर्न सिल्क में बहुत सा विटामिन सी होता है, जो की एक असरदार एंटिओक्सिडेंट हैं और कार्डियोवस्कुलर रोग से बचाने में मदद करता है। कोर्न सिल्क रक्त प्रवाह बढ़ता है, जो की शरीर के नाजुक अंगों के कार्य करने के लिए आवश्यक है।

गठिया के लिए लाभकारी - गठिया इन्फ्लेमेटरी आर्थराइटिस हैं, जो कुछ लोगों में विकसित होता है जिनके खून में यूरिक एसिड का स्तर अधिक होता है, जिससे गंभीर जोड़ों का दर्द होता है। कोर्न सिल्क को गठिया से जुड़े दर्द को कम करने के लिए जाना जाता है। आप दर्द कम करने के लिए दिन में दो बार कोर्न सिल्क टि का सेवन कर सकते हैं।

किडनी समस्या में राहत - कोर्न सिल्क टि किडनी समस्याओं को समाप्त करने का घरेलू नुस्खा है। यह किडनी से संबंधित समस्याओं को दूर करने का असरदार तरीका है, जैसे यूरिनरी ट्रैक्क, ब्लेडर इन्फेक्शन, यूरिनरी सिस्टम में सूजन, किडनी पथरी आदि।

पाचनतंत्र को दुरुस्त रखना - कोर्न सिल्क पाचन-क्रिया को बेहतर बनाने और पाचनतंत्र संबंधी समस्याओं का उपचार करने में मदद करता है। शोध में पाया गया है की कोर्न सिल्क लीवर द्वारा बाइल सेक्रेशन को बढ़ाता है। बाइल गालब्लैडर में संचित होता है, जिसके परिणामस्वरूप भोजन सही प्रकार से पचता है।

रक्तस्राव को रोकने - कोर्न सिल्क विटामिन-के से युक्त होता है और यह विटामिन रक्तस्राव रोकने के लिए आवश्यक होता है, खासतौर पर उन महिलाओं के मामले में जो गर्भवती होती है। आप चोट और जख्म के कारण हुए रक्तस्राव को रोकने के लिए कोर्न सिल्क टि का सेवन कर सकते हैं।

सर दर्द से राहत - कोर्न सिल्क में एंटी-इंफ्लेमेटरी और ऐनलगेसिक गुण होते हैं जो लम्बे समय से हो रहे सर दर्द को दूर करने में मदद करता है। कोर्न सिल्क टि आपको तनाव, टेंशन से राहत दिलाकर आराम पहुंचाएगा और आपका प्रवाह बढ़ाएगा और आपके कंधों, गरदन, जबड़े की अकड़न को दूर करेगा।

पोषण प्रदान करना - कोर्न सिल्क बिटा-कैरोटिना, रिबोफ्लेविन, मेंथोल, सेलेनियम, नियासिन और अन्य आवश्यक पोषण तत्वों का उच्चतम स्त्रोत है। यह पोष्टिक तत्व सभी पौधों में उपलब्ध नहीं होते हैं, जिससे यह सेहत के लिए और भी फायदेमंद होता है ।

वज़न कम करने में सहायक - कोर्न सिल्क में कम कैलोरी होती है, जिससे वज़न कम करना आसान हो जाता है, कोर्न सिल्क टि पीने से पेट भरने का एहसास होता है, मैटाबॉलिज्म बेहतर होता हैं, सूजन नियंत्रित होती है और गंदगी बाहर निकलने में आसानी होती है।

मुंहासों और रैशेस का उपचार - कोर्न सिल्क का इस्तेमाल त्वचा की समस्याओं का उपचार करने के लिए किया जाता है जैसे रैशेस और मुहांसे और इससे खुजली, कीड़े द्वारा काटे जाने, ख़रोंच, और छोटे-मोटे कट से भी राहत मिलती है। इसमें एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टिक गुण होते हैं, जो संक्रमण से बचाव करने में मदद करते हैं।

कोर्न सिल्क को सीधे खाने का कोई तरीका नहीं है, आप इसे एक चाय के तौर पर ले सकती है।

कोर्न सिल्क टि इस प्रकार बनाएं:-

पानी उबालें और उसमें ताजा कोर्न सिल्क डालें।

इसे कुछ मिनट तक उबालें और छोड़ दें ।

यह भूरे रंग का हो जाएगा और इसके बाद आप इसे छान लें।‌

इसका रंग और स्वाद बेहतरीन बनाने के लिए नींबू का रस निचोड़े।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon