Link copied!
Sign in / Sign up
2
Shares

आपके लिए ज्ञान की बातें कुछ पेरेंट्स की ज़ुबानी- अवश्य पढ़ें


असल में यह: पेरेंटिंग एक बहुत ही व्यक्तिगत बात होती है। अपने बच्चों को किस तरह बड़ा करना है इसका फैसला आप करती हैं और नाकि आपकी मां, सास, चाची या दोस्त। सिर्फ इसलिए कि वे आपको आपकी गलतियों के बारे में बताती हैं इसका ये मतलब नहीं की आप अपने बच्चे की ज़िम्मेदारी उन्हें सौंप दें और अपना तरीका बदल लें| एक माता-पिता की गलती दूसरे माता-पिता की ताकत हो सकती है।

अपना थोड़ा समय निकालें और पढ़ें इन बातों को जो खुद माओं ने बताई है तब आपको समझ आएगा आप कहाँ सही हैं और कहाँ गलत:

नवजात बच्चे

"लोगों ने मुझे बच्चे को 'रोने के लिए छोड़ने' के लिए कहा। आप बच्चे को ऐसा क्यों करेंगे? "रोना आपके बच्चे का संकेत है कि उसे तुम्हारी ज़रूरत है।" फेलिसिटी ने ऐसा कहा

"मैं अपने बच्चे को सोते समय दूध की बोतल दे देती हूँ ताकि वो आराम से सोये और इसके बावजूद भी उसके दांत काफी अच्छे हैं|" हेज़ेल

"मुझे याद है कि मुझे मेरे बच्चे को बहुत ज्यादा ना पकड़ने की सलाह दी गयी थी; इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि मैंने यह सुनिश्चित करने के लिए क्या किया था कि मैंने अपने नवजात शिशु को 'बहुत खराब' नहीं किया है। कैसे एक बच्चे को ढेर सारा प्यार ना करें? इस नए छोटे व्यक्ति को आश्वस्त करने के लिए यह कितना हानिकारक है कि अचानक इस नई और विदेशी दुनिया में अपने मां से गले और स्नेह के साथ खुद को पाया? "ओलिविया @ द बाबाबीबल

टोडलर

"मैंने अपने बच्चे का नर्सरी में एडमिशन देर से करवाया तब जब वो साढ़े तीन साल का हुआ और इस बात के लिए मुझे कई ताने भी मिले थे| लेकिन मुझे पता है की मैंने सही किया था|" केली

"मेरी बेटी जब तीन साल की थी तो उसकी एक काल्पनिक दोस्त हुआ करती थी| मेरे पैरेंट को लगता था की मैं अपनी बेटी को भ्रम में रखकर सही नहीं कर रही हूँ लेकिन मुझे लगता था की मेरी बेटी चीज़ों को अच्छी तरह समझती है और सही गलत में अंतर् जानती है जो की वो अब भी करती है|" बारबरा

"मैंने अपनी बेटी का देर से नर्सरी में एडमिशन किया, उसे पॉटी ट्रेनिंग नहीं दी, पहले ही दिन से उससे कठिन शब्दों में बात करती थी, उसे अपने आपको व्यक्त करने का मौका दिया, उसे अपने दिल की करने दी| आज मेरी बेटी एक चतुर और कॉंफिडेंट लड़की है|" डेबोरा

बच्चे

"मुझे होमवर्क का कुछ ख़ास महत्त्व समझ नहीं आता| मैंने अपने बच्चों की पढ़ाई में काफी मदद की है लेकिन मुझे ऐसा लगता है की जो पढ़ाई समझकर की जाए उससे बेहतर और कुछ भी नहीं" जेस

"मेरी सासु माँ के मुताबिक बच्चों को खाली पाऊं नहीं घूमना चाहिए फिर चाहे वो गर्मी का मौसम ही क्यों ना हो| मैं इस बात के हमेशा से खिलाफ रही हूँ और ऐसा ना करने से मेरे बच्चों पर कोई गलत पराभव नहीं पड़ा|" बेकी

"मैं अपने बच्चों के कमरे कभी नहीं साफ़ करती, आखिर साफ़ कर के फायदा ही क्या है? वो फिरसे उसे गन्दा करदेते हैं| इसलिए वो खुद अपनी गंदगी को साफ़ करें|" सारा 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon