Link copied!
Sign in / Sign up
36
Shares

आपके बच्चे को गैस की समस्या के लक्षण और इसका इलाज

गैस की समस्या, ना ही केवल बुजुर्गों में बल्कि बच्चों में भी, एक आम समस्या है। मुझे लगता है शायद इसीलिए बुढ़ापे को दूसरा बचपन कहा जाता है। मज़ाक एक तरफ, मगर बच्चों को कई बार गैस इतनी अधिक हो जाती कि उनके लिए अत्यंत पीड़ा का कारण बन सकती हैं। बच्चों में अधिक गैस होने की वजह है उनका ज्यादा हवा ग्रहण करना। यह तब हो सकता है जब वे खाते, रोते या किसी चीज़ को चूसते है। इससे होता यह है कि ये आंतो में आमाशय रस की उत्पत्ति करती हैं जो इसके बहने में अड़चने पैदा करते हैं।

गैस होने के  कुछ  लक्षण जो आप अपने बच्चें में पाएँगें ।।

1. गैस अधोवायु, डकार और घबराहट के रूप में प्रकट होती हैं।

2. आप पाएँगी कि आपके शिशु का पेट थोड़ा सख्त या फूला हुआ महसूस हो रहा है।

3. आपका शिशु बेचैनी की वजह से रोने लगेगा या फिर उसे सामान्य से अधिक हिचकी आएगी ।

यह सुनिश्चित करने के लिए कि आपके शिशु को गैस की वजह से तकलीफ ना हो, उसे भोजन के बाद डकार दिलवाने की कोशिश करें। यह करने के लिए, भोजन के बाद हल्के से अपने शिशु की पीठ पर थपथपाएँ और मलें। दूसरी चीज़ जो आप कर सकतीं हैं कि सुनिश्चित करें कि किस कोण से आपका शिशु दूध पीता है जिससे अधिक हवा उसके अंदर ना जाए। अपने डॉक्टर से सलाह करके सुनिश्चित करें कि जो भी भोजन आप अपने शिशु को खिलाती है, वह उसके लिए सहीं है और उसके शरीर में किसी प्रकार की अनचाहीं प्रतिक्रिया नहीं कर रहा। दूध पिलाते समय आप अपने शिशु को सीधा बैठने में मदद करें ताकि दूध गलत तरीके से उसके अंदर ना जाए और जल्दबाजी में भी पिलाने की कोशिश ना करें क्योंकि इससे शिशु को पकड़ने में गलती होने की संभावना ज्यादा रहती है और यह आपको भी दूध पीलाते समय कम सचेत रखती हैं।

"परंतु मैंने यह गलतियाँ की हैं तो अब मैं क्या करूँ कि मेरे शिशु की गैस की समस्या कम हो जाए?"

अगर इस समय ये प्रश्न आप खुद से पूछ रहीं हैं, तो हम आपको कुछ सुझाव दे सकते हैं।  शुरुआत करने वालों के लिए, आप अपने शिशु की मालिश करने की कोशिश कर सकते हैं। कोमलता से अपने शिशु के पेट और पीठ पर मलें और मालिश करें। यह गैस को आपके बच्चे के शरीर से निकलने में मदद करतीं है और आपके शिशु को महसूस हो रही बेचैनी को कम करतीं है। जो प्रक्रिया मददगार साबित हुई है वह है अपने शिशु की टांगों को चक्रीय गति में चलाना। यह आंत के संचलन में मदद करता है और इसके साथ ही गैस भी निकलती हैं।

कई और भी चीजें हैं जो आप अपने डॉक्टर से सलाह के बाद करने का प्रयास कर सकती है। सबसे पहले, आप गैस की दवा का प्रयोग कर सकतीं हैं जो आंत की बेचैनी से आराम दिलाती है। । बार बार शिशु गैस की समस्या से झूझ रहा हो, तो अपने शिशु को डाॅक्टर के पास ले जाकर समस्या के लिए जाँच करवाएँ।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon