Link copied!
Sign in / Sign up
10
Shares

दुनियाभर में गर्भावस्था के 10 वहम - क्या यह सच है?


दुनियाभर ने अन्धविश्वास की चादर ओढ़ी हुई है। लोग कुछ बातों को सालों से मानते आ रहे हैं। वे उसके पीछे क्या कारण है अगर इस बात को जानने की कोशिश करेंगे तो शायद कुछ अंधविश्वासों और भ्रमों का पालन न हो। इस पोस्ट में हम आपको कुछ अजीबोगरीब बातें बतायेंगे जिसे पढ़ कर आप हैरान हो जाएँगी ।

1. चाइना में गर्भवती का पेट किसी अनजान व्यक्ति द्वारा सहलाना मनहूसियत का सन्देश माना जाता है।

इसके पीछे वजह ये बताई जाती है की बुरी बला शिशु को गर्भ से चुरा सकती है इसलिए माँ के बेबी बम्प को केवल उसके घर के नज़दीकी घरवाले ही छू सकते हैं। दूसरी वजह यह भी है की बच्चा चिड़चिड़ा/गुस्सैल पैदा हो सकता है।

2. नोकीली चीज़ें जैसे सुई,चाकू, कैंची का बिस्तर से दूर रखना

चाइना में एक प्रचलित मान्यता यह है की वहाँ गर्भवती महिला के बिस्तर के आस पास नोकीली चीज़ें जैसे सुई,चाकू, कैंची इत्यादि को दूर रखना चाहिए। बिस्तर को वहाँ उर्वर/उपजाऊ वस्तु के रूप में देखा जाता है।

नोकीली छीजों को दूर रखने के लिए इसलिए बोलते हैं क्योंकि वह माँ की गर्भनाल को शिशु से अलग कर सकता है। इस कारण शिशु में बर्थ डिफेक्ट भी हो सकते हैं। इसलिए इनसे होने वाली हानि से बचने के लिए इन्हें बिस्तर स दूर रखना चाहिए।

3. बन्दर, भालू और ऊँट से दूर रहें

तुर्की के लोगों का मानना है की गर्भवती को चिड़ियाधर के बन्दर, भालू और ऊँट से दूर रहना चाहिए क्योंकि ये होने वाले शिशु पर बुरा असर डालते हैं।

4. पूरे चाँद को देखना हानिकरक होता है

पूरे चाँद को देखना कुछ प्रांतों में होने वाले शिशु के लिए हानिकरक माना जाता है। ऐसा इसलिए क्योंकि पूरे चाँद को ताकने से माँ भांग तालु (विकृत होंठ/क्लेफ्ट पैलट) वाले शिशु को जन्म दे सकती है। शिशु के होंठ का सामान्य विकास हो इसके लिए उसे अगर चाँद के रौशनी को देखना भी पड़े तो वह कोई धातुनुमा वस्तु को अपने साथ रख सकती है।

5. ग्रहण से दूर रहना

सालों से यह बात बहुत ज़रूरी मानी जा रही है की सूर्य/चंद्र ग्रहण में गर्भवती को बाहर नहीं निकलना चाहिये अन्यथा उसपर हानिकारक किरणें पड़ेंगी जो उसके शिशु के स्वस्थ्य विकास में बाधा डालेंगी।

6. किसी भी प्रकार के अंतिम संस्कार से दूर रहना

ऐसा कहा जाता है की जो महिला एक शिशु को जन्म देने वाली है उसे किसी मृत इंसान से जुड़े समारोह में भाग नहीं लेना चाहिए। इसके विरुद्ध जाने से उसका बच्चा गिर सकता है ताकि वह मृत व्यक्ति की आत्मा से जुड़/मिल सके।

दूसरी मान्यता यह है की गर्भवती को देह-संस्कार से दूर इसलिए रहना चाहिए वरना मरे हुए व्यक्ति की आत्मा नवजात शिशु के इर्द-गिर्द मंडराती रहती है।

7. शादियों से दूर रहना

चीनी संस्कृति में ऐसा माना जाता है की अगर गर्भवती महिला दूल्हा-दुल्हन के कमरे में कदम रखती है तो इससे उसके बदन की ऊर्जा उस कमरे में फैल जाती है और यह दूल्हा-दुल्हन के बीच दरार पैदा कर सकती है। चीनी भाषा में इसे "की" ऊर्जा और सौभाग्य के बीच का टकराव माना जाता है।

इसलिए शादियों में जाना गर्भवती महिला के लिए वर्जित होता है।

8. गर्भवती को गालियाँ/अपशब्द का प्रयोग नहीं करना चाहिए

महिला को अपने विचारों। शब्दों और मूड पर काबू करना चाहिए वरना कोख में पल रहा शिशु उसकी बुरी आदतें अपने में सोक लेता है।

9. गर्भवती होने के बारे में सबको नहीं बोलना चाहिए

काली /बुरी नज़र से बचने के लिए माँ को उसके होने वाले बच्चे और अपनी गर्भावस्था के बारे में किसी से नहीं कहना चाहिए। वरना आपकी प्रेगनेंसी में दिक्कतें आ सकती हैं।

10. गर्भवती महिला को विशाल पानी के तालाब, नदी और समुन्दर से दूर रहना चाहिए

माना जाता है की अगर महिला पानी के पास जाएगी तो उसमें से जिन/आत्मा/बुरी शक्तियाँ उसके अजन्मे बच्चे को उठा ले जायेंगे या शिशु में पैदाइशी दिक्कत हो सकती है। इसलिए महिला को समुन्द्र,नदियों, झीलों, तालाबों से दूरवाली जगहों पर अपने हॉलीडेज प्लान करने चाहिए।

भ्रम और मिथ्यों में कुछ सच्चाई और कुछ वहम छिपा होता है। हम बस यही कहना चाहेंगे की आप अपना और अपने परिवार का ध्यान रखें।

स्वस्थ्य रहें, सचेत रहें और हमारे पोस्ट्स शेयर करती रहें।


Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon