Link copied!
Sign in / Sign up
148
Shares

7 बेबी फूड बनाने के तरीके, जो आपके बच्चे को भरपूर पोषण देंगें !

 

एक नई माँ की सबसे बड़ी चिंताओं में से एक, यह है कि अपने बच्चे को दूध के सिवा कुछ और पौष्टिक भोजन खिलाना। लेकिन इस चिंता के साथ बच्चे के भोजन के दाम और उनके खानों में खाद्य पदार्थों में विभिन्न सामग्रियों की चिंता भी होती है | इस मामले में आपकी सहायता करने के लिए, यहां होममेड बेबी भोजन बनाने के कुछ तरीके हैं जो की बनाने में मुश्किल नहीं है, और पौष्टिक भी हैं। यह आपके मन को शांति भी देता है क्योंकि आप जानती हैं कि इसमें आप क्या डाल रही हैं और क्या नहीं ?

सबसे पहली बात यह है कि आप ध्यान दें कि आपके बच्चे को किस खाने से दूर रखा जाए | नीचे कुछ खाद्य पदार्थों की एक सूची है जो एलर्जी पैदा करने वाले पदार्थ होते हैं:

1. अंडे
2. मछली
3. शेलफ़िश
4. सोया
5. गेहूं
6. ट्री नट्स

अपने बच्चे के भोजन में सबसे अधिक फल और सब्जी जैसे कि आलू, मीठे आलू, ककड़ी आदि जैसी कुछ चीज़ों का इस्तेमाल करना सबसे अच्छा होगा।

यहां भारतीय माताओं द्वारा बनाई गई सबसे अच्छे होममेड बेबी फूड व्यंजन हैं, जो 4-6 महीने तक के बच्चों को दिए जा सकतें हैं:

1. दूध और ओट का हलवा :

इसे बनाने के लिए, आपको चाहिए ग्लूटेन फ्री आर्गेनिक ओट्स, ¾ कप पानी, स्वीटनर (चीनी नहीं), और फार्मूला दूध के ¼ कप की आवश्यकता होगी। 4-6 महीने के बच्चों के लिए,ओट्स अच्छी तरह से पिसे होने चाहिए और फिर पानी में मिलाकर मध्यम लौ पर धीरे से पकाएं। एक बार पूरी तरह ओट्स पक जाए तो उसमें दूध मिलाएं।बच्चों को इसका स्वाद बेहद पसंद आएगा |

2. मटर की प्यूरी:

इसके लिए 3 कप आर्गेनिक मटर और 2 छोटे चम्मच पानी की आवश्यकता होगी। फ्रोजन मटर पहले 2 मिनट के लिए स्टीम करने चाहिए और तब पानी के साथ मिलाकर पीसें जब तक यह एक मलाईदार और चिकने मिश्रण में न बदल जाये| नमक स्वादानुसार डाल कर बच्चे को खिलायें | आप चाहें तो थोड़ा बटर भी इसमें डाल सकतीं हैं | बच्चा इसे बार बार खाना चाहेगा |

3. मसला हुआ केला:

इसे बनाना सबसे आसान है | आपको केवल कुछ केले को  छीलकर, उन्हें अच्छी तरह हाथ से या ब्लेंडर  से मैश करना है  । ब्लेंडर में मैश करना सही होगा क्योंकि 4-6 वर्ष के बच्चों को पतले भोजन की ज़रूरत होती है | यह चटपटा स्वाद आपके बच्चे को बहुत भायेगा !

4. गाजर की प्यूरी:

इसे बनाने के लिए, आपको गाजर धोने और छीलने की आवश्यकता होगी। फिर उन्हें लगभग आधे घंटे के लिए पकाएं। एक बार जब वे नरम और ठीक से पक जाएँ तो उसे ब्लेंडर में डालकर चलाएं। इसे पीसी हुई चीनी या स्वीटनर के साथ मिक्स करें | यह न सिर्फ आपके बच्चे को पसंद आएगा बल्कि उन्हें पोषण भी देगा | याद रखें, 6 महीने से कम उम्र के किसी भी बच्चे को यह बहुत ही कम मात्रा में देना चाहिए।

5. अवोकाडो मैश:

मसलें हुए केले के समान, आपको एवाकाडो को  भी धोने की ज़रूरत है,|बीज को हटा दें, एवोकाडो  से छिलके निकाल दें, और इसे  ब्लेंडर में प्यूरी करें। लगभग 10-12 महीनों के बच्चों के लिए एवोकाडो हाथ से मसला हुआ हो सकता है, लेकिन 4-6 महीने के बच्चों के लिए यह चिकना और अच्छी तरह से मिला हुआ होना चाहिए।

6. मीठे आलू:

मीठे आलू मैश / प्यूरी आपके बच्चे के लिए पौष्टिक होने के साथ स्वादिष्ट भी होते हैं। इसे बनाने के लिए सबसे पहले मीठे आलू से गंदगी निकाल लें , इसे धो लें और छील दें। जब तक वे बहुत नरम नहीं जातें , तब तक मीठे आलू को उबाले और फिर पानी निकाल लें। अब आप इसे ब्लेंडर में चिकने होने तक पीस लें ।

7. ऐप्पल प्यूरी:

यह बहुत जल्दी बन जाता है और स्वादिष्ट भी होता है। इसे बनाने के लिए सबसे पहले, सेब को 4 भागों में काटे और बीच का कठोर भाग हटा दें। फिर सेब के सारे टुकड़ों को स्टीमर बास्केट में रखें और किसी बर्तन से ढक कर उबालें। इसे तब तक पकाएं जब तक वो कोमल ना हो जाए | इसे सही से पकने में लगभग 10-15 मिनट लगेगा। अच्छी तरह से पक जाने के बाद, इसे ठंडा करें, फिर गुद्दे को छीलके से हटा लें और इसे अच्छी तरह मैश करें । इसे आप फ्रीज में रेफ्रिजरेट भी कर सकती हैं | इसका स्वाद बच्चो को पसंद आएगा | आप भी इसे खा सकतीं हैं |

1 वर्ष और उससे अधिक आयु वाले बच्चों के लिए आप अन्य तरह के खाने बना सकती  हैं जैसे स्टू, मिठी मकई का सूप, सब्जी जौ का सूप आदि |  याद रखें कि सबकुछ अच्छी तरह से मिक्स करें। हालांकि, लगभग 1 वर्ष के बच्चों को खिलाने के दौरान, कुछ भोजन जैसे कि मैश किये हुए एवोकैडो या केला या ऐप्पल प्यूरी को पूरी तरह से प्यूरी नहीं किया जाना चाहिए। खाने में थोड़ा टुकड़ा छोड़ दिया जाना चाहिए ताकि आपका बच्चा अपने मसूड़ों से इसे चबा पाए।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
50%
Wow!
50%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon