Link copied!
Sign in / Sign up
25
Shares

6 नियम आपके बच्चे की स्वच्छता के लिए


स्वच्छता किसी के लिए भी जरुरी है, और यह आपके बच्चे के स्वास्थ्य में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है| जब बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली विकसित हो रही होती है, तो अपने अगल बगल के माहौल से प्रभावित होती है| इसलिए एक माँ का कर्त्तव्य है कि वो अपने बच्चे की स्वच्छता का पूरा ध्यान रखे और न सिर्फ बच्चे के विकास के शुरुआती दिनों में बल्कि आगे के महीनों में भी, जब उसका विकास हो रहा हो, उसे सुरक्षित रखें|

 

 

एक नवजात बच्चा अतिसंवेदनशील और नाज़ुक होता है, इसलिए अपने आस पास की बीमारियों से जल्दी प्रभावित हो जाता है| माँ को अपने बच्चे को सुरक्षित रखने के लिए स्वच्छता के कुछ नियम का पालन करना चाहिए|

इसमें से कुछ नियम नीचे दिए गए हैं|

 

 

1.  अपने हाथ धोयें

नवजात बच्चों की प्रतिरक्षा प्रणाली इतनी मज़बूत नहीं होती, इसलिए थोड़ा सा संक्रमण उसे बीमार कर देता है| इसलिए जब आप अपने बच्चे के करीब हों तो अपने हाथ हमेशा साफ रखें|

2.  पालतू जानवरों अगर आस पास हों, तो सावधानी बरतें

बच्चे और पालतू जानवर अगर आस -पास हो तो एक अच्छे चित्र की तरह लगता है, लेकिन पालतू जानवर अगर आपके बच्चे के करीब हों तो उसे बीमार बना सकतें है| बच्चे की प्रतिरक्षा प्रणाली कमज़ोर होने की वजह से, पालतू जानवर की नज़दीकियों से बच्चा जल्दी संक्रमित हो जाता है| इसलिए अगर आपका बच्चा, पालतू जानवर को बहुत पसंद भी करता हो तो भी, उन्हें एक दुसरे से कुछ महीने दूर ही रखें तो अच्छा है|

3. बच्चे के खाने के सारे बर्तन साफ रखें

हम सभी साफ सुथरे बर्तन में खाना खातें हैं, ताकि हम बीमार न पड़ें| बच्चे की रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने की वजह से वे काफी कमज़ोर होतें है, इसलिए उनके सारे खाने के बर्तन अच्छी तरह न सिर्फ धुलें होने चाहियें बल्कि सैन्टाइज़ भी होने चाहिए ताकि उन्हें किसी तरह के कीटाणु संक्रमण से बचाया जा सके|

4. उन्हें लोगों से दूर रखें 

बच्चे के शुरुआती दिनों में, उसे ज्यादा लोगों से मिलवाने से बचें| जितने ज्यादा लोग बच्चे के संपर्क में आयेंगें, उतना ही उसके संक्रमित होकर बीमार होने की संभावना बढ़ जाती है|

5. बचे हुए एम्ब्लिकल कॉर्ड (गर्भ नाल )के साथ छेड़ -छाड़ न करें

डिलीवरी के बाद जब एम्ब्लिकल कॉर्ड को काटा जाता है, तो उसका कुछ हिस्सा बच्चे के शरीर पर छोड़ दिया जाता है| यह बच्चे की त्वचा का अंग होता है, जिसे ना तो खींचना चाहिए न ही उसके साथ कोई छेड़ -छाड़ करनी चाहिए| यह अपने आप ही कुछ दिनों के बाद सूख कर गिर जाता है|

6. अपने बच्चे के कमरे की साफ-सफाई

बच्चे में क्रॉल करने ,बिस्तर पर पलटने, ज़मीन ,टेबल या फर्श चाटने की प्रवृत्ति होती है| इसलिए फर्श को फिनाइएल से साफ न करें| फर्श को हमेशा साफ रखें और इसपर पड़ी अवांछित धूल और कण हटातीं रहें|

 

 

अपने बच्चे को सुरक्षित और बीमारियों से दूर रखने के लिए ज़रूरी है कि हम उचित हाइजीन बनाये रखें, ताकि वो बीमारियों से बचा रहे| समय -समय पर डॉक्टर के परामर्श के अनुसार बच्चे को वैक्सीन देंती रहें, इससे आपके बच्चे में मज़बूत प्रतिरक्षा प्रणाली विकसित होती है|

 

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
100%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon