Link copied!
Sign in / Sign up
11
Shares

12 त्वचा व बालों की देखभाल के नुस्खे नई माँओं के लिए


प्रेगनेंसी के बाद महिला के शरीर में कई अनचाहे बदलाव आते हैं। उनसे निपटना आसान हो सकता है बशर्ते आप नियमित अपनी देखभाल करें। रोज़ाना किया जाने वाला काम यकीनन सफल होता है। आपके पेट पर अधिक चर्बी जमा होना, बाल झड़ना, आँखों का कमज़ोर होना, बदन में कमज़ोरी, तवचा का मुरझा जाना, बालों का सफ़ेद होना इत्यादि आपको बेशक हताश कर देंगे। परन्तु आप कुछ सरल घरेलु उपचार आज़मा सकती हैं जिनसे आपको लाभ होगा।

1. पर्याप्त नींद लें

गर्भावस्था हर महिला की ज़िन्दगी में नींद की कमी पैदा कर देती है। ऐसे में आप में ध्यान की कमी, थकान, चिड़चिड़ापन और कमज़ोरी के कारण रोग आ सकते हैं। इसलिए डिलीवरी के बाद नींद पर ध्यान दें। आप के बच्चे का सोने-जागने का समय आपके साधारण समय से भिन्न होगा सो आप उसे खिलौने, माँ के दूध के सहारे सुलाने की कोशिश करें। नींद पूरी होने से आप में चुस्ती, फुर्ती व तंदरुस्ती आएगी। आपके अंदर राहत और फील-गुड फीलिंग आएगी। आप गुस्सा कम करेंगी व चीज़ें/बातें भूलेंगी नहीं।

2. पानी है ज़िन्दगी

जब हमारे बॉडी सेल्स ही 70% पानी से बने हैं तब हम पानी पीने से परहेज़ क्यों करें? पानी पीने से किडनियाँ अधिक पानी फ़िल्टर करती हैं जिससे उन्हें स्वस्थ्य रूप से काम करने में मदद मिलती है। पानी शरीर की गन्दगी को बाहर निकालने में मदद करता है। इससे विषैले पदार्थ मूत्र तथा पसीने द्वारा शरीर से निकल जाते हैं। इसके साथ ही जल आपकी त्वचा से झुर्रियाँ दूर रखने में मदद करता है।

3. देख कर खाइये

शिशु के जन्म के बाद आपका शरीर पुनःनिर्माण की प्रक्रिया में जुट जाता है। इलसिए आपको बेहतरीन पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए। खासकर के स्तनपान के दौरान आपको हरी-सब्ज़ियाँ, ताज़े फल, डॉक्टर के बताई सप्लीमेंट गोलियां व सूप-जूस पीते रहना चाहिए। आपको बाहर का घी-तेल का खाना नहीं लेना चाहिए। आप पिज़्ज़ा, बर्गर, कोल्ड ड्रिंक्स से दूर रहें। आप घर में बनी मिठाइयां खाइये। इसकी ताज़गी और पौष्टिकता आपको लाभ पहुंचाएगी। आप बादाम, अखरोट, काजू इत्यादि ड्राई फ्रूट्स का सेवन करें। मैगी तथा पैक्ड फूड से परहेज़ करें। यह इतने सेहतमंद नहीं होते हैं क्योंकि इनमें खाने को ज़्यादा समय तक ताज़ा व पौष्टिक रखने के लिए रासायनिक पदार्थ मिलाये जाते हैं।

4. सफाई पर दें ध्यान

आप घर, रसोई या घर के बगीचे को कितना भी साफ क्यों न कर लें पर अपने बदन को धुलेंगी नहीं तो इससे आपको गन्दगी से फ़ैलने वाले संक्रमण हो सकते हैं। महिला के मूत्राशय का मार्ग, आँखें, पीठ व मुँह में खुजली होने की अधिक सम्भावना हो जाती है। कल्पना करें गर्मी के मौसम में अगर आप स्तनपान के दौर से गुज़र रहीं होंगी तब आपके स्तन में आने वाला पसीना आपके बच्चे के मुँह में जायेगा तब वह उसे बीमार बना सकता है। पसीना दरअसल एक प्रकार का मैल होता है जो पानी के रूप में रोमछिद्रों द्वारा अनचाही तथा गैर-ज़रूरी तत्वों को शरीर से बाहर निकालता है। सो स्नान अवश्य करें और उसके बाद साफ़-धुले कपड़े पहनें।

5. त्वचा की बुनियादी देखभाल

अगर आप मेकअप करती हैं तो सोने से पहले उसे मेकअप रीमूवर से साफ़ कर लें। आप शृंगार क्लेंज़िंग मिल्क या फिर कच्चे दूध से साफ़ कर लें। इससे आपकी त्वचा साँस ले सकेगी और मुहांसे भी नहीं होंगे। एक फेस-वॉश, मुल्तानी-मिट्टी का फेस पैक, अलो-वेरा का टोनर, मॉइस्चराइज़र, लिप बाम और शरीर की मालिश के लिए एक स्किन आयल खरीद लें। इतने सामान में आपकी त्वचा के लिए काफी रहेगा। आप खरीदते वक्त एक्सपायरी डेट चेक करना मत भूलियेगा। यह प्रोडक्ट के मूल्य के पास ही लिखी जाती है।

6. बालों का झड़ना कम करें

गर्भावस्था के दौरान शरीर के परिवर्तन आपके बालों को भी नहीं बख्शते। आप बाल झड़ने से परेशान हो जाएँगी। इसके कारण आपके आत्म-विश्वास में कमी आएगी। इसके लिए आप त्वचा-रोग या बालों के डॉक्टर को दिखा सकती हैं। वे आपको मेडिकेटड शैम्पू देंगे। इसके अलावा आप स्त्री-रोग विशेषज्ञ से भी परामर्श करवा सकती हैं। वे आपको कुछ ज़रूरी दवाइयाँ दे सकती हैं जिससे आप में अंदरूनी ताकत आएगी। आप बालों पर मेहँदी लगा सकती हैं। इसके अलावा आप नारियल, बादाम और रेंडी (कैस्टर) तेल को बराबर मात्रा में मिलाकर सर पर मालिश कर सकती हैं। आप दही या अंडा भी अच्छे से फेंट कर लगा सकती हैं।

7. मुहांसों से बचें

साफ़ त्वचा पाने के लिए आप को मुहांसे और उनके दाग अपने चेहरे से मिटाने पड़ेंगे। त्वचा को फेस-वॉश से धोएं। मुहांसे से प्रभावित त्वचा को आप उंगलियों व नाखूनों से न छेड़ें। रात में सोने से पहले आप अलोवेरा जेल लगा सकती हैं या फिर डॉक्टर की बताई गई क्रीम लगा सकती हैं।

8. दाग धब्बों को मिटायें

घर से बाहर जाने से पहले चेहरे व हाथ-पैर पर सनस्क्रीन लगाना मत भूलें। वर्षों से दूध, हल्दी व नींबू का रस आपके दाग-धब्बों को हल्का करने में कारगर उपाय सिद्ध हुआ है। आप इन तीनों का लेप बना कर दाग-धब्बों पर लगाएं। आप पपीते को मिक्सी में पीस कर उसका लेप भी चेहरे पर लगा सकती हैं। इसके अलावा आप चाहें तो शहद-नींबू का पेस्ट भी चेहरे पर लगा सकती हैं।

9. स्ट्रेच मार्क्स को कहें बाय-बाय

स्ट्रेच मार्क्स देखकर आपको कुछ दिनों के लिए ऐसा लगेगा की वह स्थायी हैं। पर ऐसा नही है। आप बाज़ार में मिलने वाली स्ट्रेच मार्क्स क्रीम या तेल अपने पेट तथा अन्य प्रभावित स्थानों पर हलके हाथों से लगा सकती हैं। आप योग और व्यायाम करें जिससे शरीर की चर्बी घटाने में आसानी होगी।

10. आँखों के नीचे काले घेरों से बचें

आँखों के आस-पास की त्वचा नाज़ुक होती है। इस कारण उसे एक्स्ट्रा केयर की ज़रूरत भी पड़ती है। अगर आप पूर्ण नींद नहीं लेती तो इसका प्रभाव आपकी आँखों पर जल्द ही नज़र आ जाता है। आप रात को सोने से पहले आँखों के नीचे की त्वचा पर अंडर-आई नाईट क्रीम लगा कर सोएं। यह आपको बाजार की कॉस्मेटिक दुकान पर मिल जाएगी। आप अपनी चुनिंदा ब्रांड की क्रीम खरीद सकती हैं। इससे आपकी त्वचा को राहत मिलेगी व उनकी थकान मिटेगी।

11. बी नैचुरल

आप अधिक्तर प्राकृतिक(नैचुरल) हिना, हेयर डाई, क्रीम, कॉस्मेटिक का इस्तेमाल करें। केमिकल्स से दूर रहें क्योंकि ये शुरुवाती दिनों में तो जल्दी असर करते हैं परन्तु भविष्य में इनका दुष्प्रभाव आपको झड़ते बालों या एलर्जी के रूप में दिखेगा। रासायनिक तत्वों से दूर रहें और मस्त रहें।

12. चिकित्सक की राय है सर्वश्रेष्ठ

आप गूगल, पत्रिकाओं, अखबार, घर के बुज़ुर्ग व सखी-सहेलियों से बात कर के कई सारी चीज़ें तो अपना सकती हैं परन्तु चिकित्सक आपको जाँचने के बाद ही कुछ बोलेगा। वह आपके शरीर, स्वास्थ्य व उम्र निरीक्षण के बाद ही आपको दवाई देंगे। सो अगर आपका स्वास्थ्य या रूप बिगड़ रहा है तो आप नज़दीकी चिकित्सक से अवश्य मिलें।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
100%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon