Link copied!
Sign in / Sign up
7
Shares

गर्भावस्था में आपके दिल में आने वाले 3 ख़ास बदलाव


गर्भावस्था आपके शरीर में अंदरूनी व बाहरी बदलाव लाती है । अब आपकी कोख में एक नन्हे मेहमान को रखने के लिए आपका शरीर कड़ी मेहनत कर रहा है । आप  इस बात से शायद अनजान हों की इस दौरान आपका दिल उन कीमती 9 महीनों में कितनी ज़्यादा मेहनत कर रहा है ।

1. आपके ह्रदय का आकर बढ़ेगा - ह्रदय अपने रेगुलर आकार से 12 % अधिक बढ़ जाता है । क्योंकि गर्भावस्था में ह्रदय को रोज़मर्रा की नियमित गतिविधियों से कई गुना ज़्यादा काम करना पड़ता है। ह्रदय को शरीर के बाकी हिस्सों  तक ज़्यादा खून भी पहुंचाना पड़ता है । एक मामूली काम भी मुश्किल बन जाता है इसलिए प्रकृति ने स्त्री के ह्रदय की ऐसी रचना की है । घबराने वाली कोई बात नही है। ये स्वाभाविक है। डिलीवरी के पश्चात ह्रदय अपने पुराने आकार में लौट आएगा ।

2. आपका ह्रदय दोगुना रक्त संचार करता है क्योंकि आपके गर्भ में पल रहे शिशु को भी रक्त पहुँचाना होता है तथा उसके अंगों की भी ज़रूरत पूरी होती है । सही मात्रा में रक्त मिलने से शिशु का शारीरिक व मानसिक विकास भी अच्छा होगा ।

3. आपकी ह्रदय-गति व ह्रदय की मांसपेशियां अधिक काम करेंगी । क्योंकि आपका ह्रदय अत्यधिक ज़िम्मेदारियाँ पूरी कर रहा है । ये इस बात का गवाह है कि आपका ह्रदय हर क्षण गर्भ में पल रहे शिशु के तंदरुस्त विकास के लिए कितनी मेहनत कर रहा है ।

ये सोच कि इतना छोटा ह्रदय इतने बड़े काम कर पाता है आपको  बड़ा आश्चर्य होगा । शिशु का रोगमुक्त और स्वस्थ्य विकास आपके ह्रदय के कारण ही मुमकिन होता है ।

अब आप ये ब्लॉग पढ़ कर अपने शरीर का उचित ख्याल रखियेगा । रोगमुक्त व खुशहाल काया में ही एक स्वस्थ्य शिशु पनपता है ।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon