Link copied!
Sign in / Sign up
1
Shares

अगर डेन्ड्रफ से हैं परेशान तो अपनाइये यह तरीके

आजकल की बिजी लाइफ में लोगों के पास इतना समय नहीं है कि वह अपना ध्यान रख सकें। सबसे ज्यादा जरुरी है अपनी सेहत का ध्यान रखना, देखा जाए तो आजकल इतना प्रदूषण हो रहा है। जिसका असर हमारी त्वचा और बालों पर भी प्रभाव पडता है। हेयर फाल और डेन्ड्रफ ऐसी समस्या है जिसकी वजह से हर दूसरा व्यक्ति परेशान है। डेन्ड्रफ जो कि हमारे बालों की रुट में बहुत तेजी से फैलता है, और बहुत हद तक यह बालों को काफी नुकसान पंहुचाता है। आमतौर पर लोग यही समझते हैं कि डेन्ड्रफ एक तरह का होता है, लेकिन यह गलत है डेन्ड्रफ कई तरह का होता है जो हमारी स्केलप के लिये काफी नुकसानदायक होता है। आइये जानते हैं कि डेन्ड्रफ कितने तरह का होता है और कैसे इसके लक्षणों को पहचानें-

1) ड्राई स्किन डेन्ड्रफ - dry skin dandruff

2) आयिली स्किन डेन्ड्रफ - oily skin dandruff

3) फंगल डेन्ड्रफ - fungal dandruff

4) किसी इन्फेकशन की वजह से डेन्ड्रफ - kisi-infekshan kee vjah se dandruff

5) डेन्ड्रफ की समस्या से कैसे छुटकारा पायें - dandruff kee samasya se chutakara paye 

6) बालों को डेन्ड्रफ से बचाने के लिये घरेलु नुस्खे - balo ko dandruff par gharelu nuskhe

 

1) ड्राई स्किन डेन्ड्रफ - dry skin dandruff

 

इस तरह का डेन्ड्रफ उन लोगों को होता है जिनकी बालों की स्किन ड्राई है। ड्राई स्किन ज्यादातर सर्दियों के महीनें में होती है जिसकी वजह है शैम्पू ना करना। जिन लोगों के बाल कर्ली होते हैं उनको भी इस तरह के डेन्ड्रफ की समस्या से जूझना पडता है। साथ ही प्रदूषण और किसी तरह का केमिकल बालों में लगाने से भी इस तरह की समस्या हो सकती है। इस तरह का डेन्ड्रफ होने पर आपके बालों में सफेद कलर के फलेक्स नजर आते हैं।

2) आयिली स्किन डेन्ड्रफ-  oily skin dandruff

Sebum एक तरह का ऐसा नैचुरल ऑयल है जो कि sebaceous glands से निकलता है जिसकी वजह से हमारे बालों में माउस्चर बना रहता है। लेकिन जब यह ऑयल ज्यादा निकलने लगता है उसका नतीजा होता है डेन्ड्रफ जो कि पूरी तरह से बालों के लिये नुकसानदायक होता है। इस तरह की समस्या प्रेगनेंसी के दौरान भी हो सकती है, साथ ही अगर गलत शैम्पू का इस्तेमाल किये जाये तो भी इस तरह का डेन्ड्रफ हो सकते है। इसके लक्षण हैं बालों में खुजली होना और बालों का ऑयली होना।

3) फंगल डेन्ड्रफ - fungal dandruff

इस तरह के डेन्ड्रफ की वजह है एक तरह का इनफेक्शन है जो कि बहुत तेजी से बालों में फैलता है। इसकी वजह है किसी दूसरे का कंघा इस्तेमाल करना या किसी की हैट इस्तेमाल करना। इसका दूसरा कारण हो सकता है बालों में पीएच का बैलेंस ना होना। इसकी वजह से बाल काफी ज्यादा आयिली भी हो सकते हैं। इसके लक्षण है और डेन्ड्रफ के लक्षणों की तरह आम हैं।

4) किसी इन्फेकशन की वजह से डेन्ड्रफ - kisi-infekshan kee vjah se dandruff

डेन्ड्रफ की वजह किसी तरह का इनफेक्शन भी हो सकता है। जिसमें कि सोरायसिसके कारण हमारे बालों कि स्किन की कोशिकाओं अचानक से बढ़ने लगती है। जिसकी वजह से स्केल्प में गंदगी और पोर्स बंद हो जाते हैं और एक्जिमा भी फैलने लगता है। इसके लक्षणों में बालों का गिरना सबसे खास लक्षण है।

5) डेन्ड्रफ की समस्या से कैसे छुटकारा पायें - dandruff kee samasya se chutakara paye

बालों की इस समस्या से आप छुटकारा पा सकते हैं लेकिन इसके लिये जरुरी है बालों की सही देखभाल और बालों को प्रदूषण से बचाना साथ ही अच्छी डाइट लेना। आइये जानते हैं अपने बालों को डेन्ड्रफ से बचाने के लिये कुछ घरेलु नुस्खे।

1-अपने स्केल्प को हमेशा साफ और हाइड्रेटेड रखना चाहिए। बालों को साफ पानी से ही धुलना चाहिए साथ ही पानी खारा नहीं होना चाहिए।

2-यदि आप बालों के लिये गर्म पानी का इस्तेमाल कर रही हैं तो तुंरत बंद कर दे क्योंकि यह भी बालों के लिये बहुत हानिकारक होता है।

3-कभी भी किसी की कंघी का इस्तेमाल करने से बचें, क्योंकि इससे एक का इन्फेक्शन दूसरे में फैलने लगता है। जिससे कि डेन्ड्रफ की समस्या पैदा होती है।

4-बालों के लिये हमेशा हर्बल या केमिकल-फ्री प्रोडक्ट का इस्तेमाल करें। साथ ही खाने में अच्छी डायट शामिल करें।

5-अगर घरेलू तरीके इस्तेमाल करना चाहें तो हफ्ते में एक बार मुल्तानी मिट्टी और नींबू का रस मिलाकर लगाएं। इसके अलावा पानी और विनेगर को समान मात्रा में मिलाकर स्कैल्प पर लगाएं.

6) बालों को डेन्ड्रफ से बचाने के लिये घरेलु नुस्खे - balo ko dandruff par gharelu nuskhe

मेथी - methi

मेथी जो कि बालों के लिये काफी अच्छी होती है। मेथी के कुछ बीज ले ले और उसे एक-दो घंटे के लिये पानी में भिगो कर रख दे। बेहतर रहेगा कि मेथी का रात भर भिगो कर रखें। और फिर इसको पीस कर इसका पेस्ट बनायें और स्केलप पर लगायें साथ ही अच्छे से धीरे-धीरे मसाज करें। एक तरह से यह नेचुरल हेयर स्पा भी हैइसके बाद करीब एक घंटे तक इस पेस्ट को स्केल्प पर लगा रहने दें। और अपने स्केल्प को पानी से धो लें। लेकिन सबसे ध्यान देने वाली बात यह है कि पानी की जगह अपने बालों पर किसी तरह का शैम्पू इस्तेमाल ना करें।

नींबू - nimbu

नींबू जो कि हमारे शरीर और स्किन दोनों के लिये बहुत अच्छा होता है। साथ ही यह बालों के डेन्ड्रफ के लिये भी काफी अच्छा है। नींबू का ताजा रस निकालकर सीधा बालों के स्केल्प पर लगा सकती हैं। लेकिन अगर यह आपके स्केल्प पर जल रहा हो तो आप इसमें पानी भी मिला सकती हैं। पांच मिनट तक इसको बालों में लगे रहने दें और इसके बाद शैम्पू कर लें। इससे ना केवल बालों का डेन्ड्रफ जायेगा बल्कि बालों में काफी चमक भी आ जायेगी।

मुल्तानी मिट्टी - multani mitti

मुल्तानी मिट्टी जो कि आपके चेहरे के साथ-साथ बालों के लिये भी काफी अच्छी होती है। मुल्तानी मिट्टी और नींबू को अपने स्केल्प में लगा ले। इस पेस्ट को कम से कम आधा घंटे तक लगा कर रखें। उसके बाद बालों को धो ले। आप खुद ही देखगें पहले से आपके बाल कितने बेहतर हो गये हैं।

दही - dahi

दही भी बालों के पोषण के लिये काफी अच्छा है। बालों को धोने से पहले उन पर दही लगा लें। इसके लिए आपको दही को तीन दिन पहले से ही फ्रिज से निकाल कर बाहर रखना होगा, ताकि वह अच्छे से खट्टी हो जाएं। इसके बाद ब्रश की मदद से दही को अपने बालों में लगा लें। आधे घंटे के लिए बालों को सुखने दें और फिर बालों को धो लें। हां ध्यान रखे दही में चिकनाई होती है इसलिये एक बार से ज्यादा बाल धुल सकते हैं।

एप्पल साइडर विनेगर - apple cider vinegar 

एप्पल साइडर विनेगर जो कि वेट लास के साथ-साथ बालों के लिये भी अच्छा होता है। इस विनेगर को पानी के साथ मिलाकर एक घोल तैयार करें। दोनों की बराबर की मात्रा लें और इसे अच्छी तरह से मिला लें। इसके बाद रूई की मदद से अपने बालों पर इस पेस्ट को लगाएं। कुछ देर इसे छोड़ने के बाद सादे पानी से धो लें।

इन सब घरेलु नुस्खों की मदद से आप बालों को स्वस्थ और सुन्दर बना सकते हैं। साथ ही डेन्ड्रफ की समस्या से काफी हद तक छुटकारा पा सकते हैं।

Click here for the best in baby advice
What do you think?
0%
Wow!
0%
Like
0%
Not bad
0%
What?
scroll up icon